Mon. Jul 22nd, 2024
    abhishek bachchan

    अभिषेक बच्चन बॉलीवुड के वो अभिनेता हैं जिनके ऊपर इतना काम का बोझ नहीं है जितना अपने सरनेम का है। महानायक अमिताभ बच्चन के बेटे होने के नाते, उन्हें करियर के हर पड़ाव पर आलोचना का सामना करना पड़ा कि वे अपने पिता जितना मशहूर नहीं हो पाए, अपनी पत्नी ऐश्वर्या राय बच्चन जितनी हिट फिल्में नहीं दे पाए। मगर फिर भी एक चीज़ जो जूनियर बच्चन को इन सब से अलग बनाती है, वो है काम के प्रति उनका समर्पण और सच्चाई। उन्होंने कई फिल्मों से अपनी प्रतिभा को साबित किया है और अपने अभिनय से दर्शकों का दिल जीता है। तो आज जब अभिषेक का जन्मदिन है, आइये देखते हैं उनके पांच सबसे अच्छे प्रदर्शन-

     1. युवा (2004)

    https://youtu.be/3TnDnlHIC5o

    मणि रत्नम को पता है कि उन्हें अपने किरदारों का कैसे प्रयोग करना है और इसलिए उन्होंने अभिषेक को गुस्सैल लल्लन सिंह का किरदार दिया जो आज भी दर्शकों के दिलों में जिन्दा है। इस फिल्म से बॉलीवुड को एक नया एंग्री यंग मैन मिल गया। दुष्ट, महत्वकांशी और निर्मम जूनियर बच्चन के ये अभिनय का ही जादू था कि उन्हें उस साल सर्वोच्च सहायक अभिनेता के लिए ‘फिल्मफेयर अवार्ड’ से नवाज़ा गया।

    2. बंटी और बबली (2005)

    शाद अली की फिल्म से अभिषेक ने बता दिया कि वे जितना अच्छा डरा सकते हैं, उतना अच्छा हँसा भी सकते हैं। उन्होंने इस फिल्म में, एक छोटे कस्बे के एक आलसी इंसान का किरदार निभाया था जिसके बड़े बड़े सपने होते हैं। इस फिल्म में, पहली बार वे अपने पिता अमिताभ के साथ नज़र आये और इनकी ऑन-स्क्रीन केमिस्ट्री बस धमाल मचा रही थी। और संजोग से उनकी पत्नी ऐश्वर्या, (उस वक़्त उनकी शादी नहीं हुई थी) ने जब ‘कजरा रे’ से दोनों बाप-बेटे के साथ कदम से कदम मिलाया, तो ये साल का सबसे हिट गाना बन गया।

    3. गुरु (2007)

    जब मणि रत्नम जैसे निर्देशक दोबारा अभिषेक के साथ काम कर सकते हैं तो आप समझ जाइये कि बच्चन में क्या प्रतिभा होगी। इस फिल्म में, अभिषेक ने गुरुकांत देसाई नाम के आदमी का किरदार निभाया था जो अपनी मेहनत से गरीबी को लांघ कर अमीर बन जाता है। अभिनेता ने फिल्म को अपना बना लिया और उनके प्रदर्शन के लिए उन्हें काफी सराहना और अवार्ड्स मिले। उन्हें समीक्षकों और दर्शकों, दोनों से भरपूर प्यार मिला।

     4. दोस्ताना (2008)

    अभिषेक बच्चन ने एक बार फिर, एक गे फिल्म से सभी का दिल जीत लिया। इस फिल्म में उन्होंने जॉन अब्राहम के साथ मिलकर गे बनने का नाटक किया और साथ ही प्रियंका चोपड़ा को पटाने की कोशिश की। लोगो को फिल्म इतनी पसंद आई कि ये साल के सबसे बड़ी हिट फिल्मों की सूची में शामिल हो गयी और अभिषेक को उस साल फिल्मफेयर अवार्ड्स में सर्वोच्च अभिनेता का नॉमिनेशन मिला था।

    5. मनमर्ज़ियाँ (2018)

    फिल्मों से कुछ समय बाद लौटने पर, किसी ने नहीं सोचा था कि अभिषेक इतनी शानदार एंट्री मारेंगे और सभी को एक बार फिर अपने अभिनय से प्रभावित कर देंगे। इस बार उन्होंने निर्देशक अनुराग कश्यप के साथ मिलकर रोब्बी भाटिया नाम के किरदार में जान फूंकी। उनकी आँखे, उनकी तीव्रता जबकि वो जानते हैं कि जिस लड़की से वे प्यार करते हैं, वो किसी और के साथ है, बच्चन ने इस रोमांटिक-ड्रामा में अपनी एक नयी जगह बना ली। अभिषेक कितने परफेक्ट थे इस किरदार में, इस बात का अंदाज़ा इसी बात से लगाया जा सकता है कि जब शहंशाह अमिताभ बच्चन ने ये फिल्म देखी तो वे अपने आंसू नहीं रोक पाए।

    जन्मदिन की ढेरों शुभकामनाएं, अभिषेक।

    By साक्षी बंसल

    पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *