Sun. Oct 2nd, 2022
    जब बेटे अभिमन्यु दसानी की डेब्यू फिल्म "मर्द को दर्द नहीं होता" को मिले प्यार को देख रो पड़ी भाग्यश्री

    अभिमन्यु दसानी जल्द फिल्म “मर्द को दर्द नहीं होता” से बॉलीवुड में कदम रखने वाले हैं। युवा अभिनेता जिनके ऑन-स्क्रीन किरदार को नौ महीनों तक तीन घंटे के परिक्षण से गुज़रना पड़ा, उनकी शूटिंग स्टंट और चोटों से भरी हुई थी। और उनकी माँ भाग्यश्री अपनी बेटे की तारीफ करती नहीं थक रही हैं।

    अभिनेत्री ने मुंबई मिरर से अपने बेटे के ऊपर बातचीत की। फिल्म को मुंबई फिल्म फेस्टिवल में स्क्रीन किया गया था और भाग्यश्री को याद है कि कैसे सिनेमाघरों के बाहर लम्बी लाइन लगी पड़ी थी। उनके मुताबिक, “दोनों सिनेमाघर हाउसफुल हो गए थे और उन्हें अंततः इसे पांच सिनेमाघरों में प्रदर्शित करना पड़ा। मैं रोना बंद नहीं कर सकी। मैंने 30 साल पहले सिनेमाघरों में अपनी फिल्म नहीं देखी थी। आज, मैं अपने बेटे के माध्यम से उस उत्साह और प्रत्याशा को जी रही हूँ।”

    https://www.instagram.com/p/BraG7gpgrg7/?utm_source=ig_web_copy_link

    https://www.instagram.com/p/Bp64No_AkhB/?utm_source=ig_web_copy_link

    मैंने प्यार किया अभिनेत्री ने ये भी बताया कि कैसे वह अभिमन्यु को उनके स्कूल फंक्शन में शर्मसार कर देती थी। उन्होंने साझा किया कि जब वह प्राइज जीतते थे तो वह सबसे आगे वाली रो में बैठकर उनके लिए तालियाँ बजाती और तस्वीर खींचती थी।

    इसके अलावा, उन्होंने यह भी बताया कि आज के समय में अभिनेता और अभिनेत्रियाँ अपने शिल्प के बारे में बहुत ही पेशेवर और अधिक ‘जानकार’ हैं। ‘मैने प्यार किया’ के बारे में याद करते हुए उन्होंने कहा-“सूरज जी (बड़जात्या, निर्देशक), सलमान (खान) और मैं इतने कच्चे थे, लेकिन अधिकतम दो शॉट में हमारे दृश्य पूरे हो जाते थे।”

    “मर्द को दर्द नहीं होता”, वसन बाला द्वारा निर्देशित और रॉनी स्क्रूवाला द्वारा निर्मित है। यह एक दुर्लभ चिकित्सा स्थिति, दर्द के लिए जन्मजात असंवेदनशीलता पर प्रकाश डालती है। अभिमन्यु के अलावा, फिल्म में राधिका मदान और गुलशन देवैया भी हैं और फिल्म 21 मार्च को रिलीज़ होगी।

    IMDB द्वारा दिए गए कथानक विवरण के अनुसार-“यह एक युवा लड़के सूर्या की कहानी है, जिसे दर्द से संवेदनाहीनता की दुर्लभ स्थिति है। वह दर्द महसूस नहीं कर सकता है, और वह मार्शल आर्ट सीखने और वह लुटेरों का शिकार करने के लिए बाहर निकलता है। ”

     

    By साक्षी बंसल

    पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.