Sun. May 19th, 2024
    WHO की दक्षिण-पूर्व एशिया क्षेत्र की अगली क्षेत्रीय निदेशक साइमा वाजेद: कौन हैं और क्या है उनका अनुभव?

    बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना की बेटी साइमा वाजेद को विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के दक्षिण-पूर्व एशिया क्षेत्र की अगली क्षेत्रीय निदेशक के रूप में चुना गया है। वह इस पद को संभालने वाली पहली महिला होंगी।

    वाजेद को बुधवार को डब्ल्यूएचओ की क्षेत्रीय समिति की 76वीं बैठक में हुई एक गुप्त मतदान में चुना गया। उन्होंने नेपाल के शंभू प्रसाद आचार्य को हराया, जो वर्तमान में डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक कार्यालय में निदेशक, देश रणनीति और समर्थन के रूप में कार्यरत हैं।

    वाजेद एक सार्वजनिक स्वास्थ्य विशेषज्ञ हैं, जिन्होंने मानसिक स्वास्थ्य, किशोर स्वास्थ्य और यौन और प्रजनन स्वास्थ्य और अधिकारों के क्षेत्र में काम किया है। वह वर्तमान में बांग्लादेश में प्रधानमंत्री के कार्यालय के तहत मानसिक स्वास्थ्य और मनोसामाजिक सेवाएं विभाग की अध्यक्ष हैं।

    वाजेद ने अपनी जीत के बाद कहा, “मैं डब्ल्यूएचओ के दक्षिण-पूर्व एशिया क्षेत्र की अगली क्षेत्रीय निदेशक के रूप में चुने जाने के लिए सम्मानित और विनम्र महसूस कर रही हूं। मैं इस क्षेत्र के देशों के साथ काम करने के लिए तत्पर हूं ताकि सभी के लिए स्वास्थ्य का अधिकार सुनिश्चित किया जा सके।”

    उन्होंने कहा, “हमारे पास स्वास्थ्य के क्षेत्र में कई चुनौतियां हैं, जिनमें कोविड-19 महामारी, गैर-संचारी रोगों का बढ़ता बोझ और जलवायु परिवर्तन का स्वास्थ्य पर प्रभाव शामिल हैं। लेकिन हमारे पास कई अवसर भी हैं, जैसे कि डिजिटल स्वास्थ्य और सार्वजनिक स्वास्थ्य में नवाचार। मैं इन चुनौतियों और अवसरों का सामना करने के लिए क्षेत्र के देशों के साथ मिलकर काम करने के लिए प्रतिबद्ध हूं।”

    डब्ल्यूएचओ की क्षेत्रीय समिति के अध्यक्ष डॉ. पुनीत गोयल ने वाजेद की जीत पर बधाई दी और कहा, “हम यह घोषणा करते हुए खुश हैं कि डॉ. साइमा वाजेद विश्व स्वास्थ्य संगठन के दक्षिण-पूर्व एशिया क्षेत्र की अगली क्षेत्रीय निदेशक होंगी। वह एक अनुभवी और कुशल सार्वजनिक स्वास्थ्य विशेषज्ञ हैं, और उनके पास इस क्षेत्र के स्वास्थ्य चुनौतियों को दूर करने और सभी के लिए स्वास्थ्य के अधिकार को सुनिश्चित करने का एक सिद्ध ट्रैक रिकॉर्ड है।”

    वाजेद 1 फरवरी, 2024 को अपनी नई भूमिका में पदभार ग्रहण करेंगी। वह पांच साल के कार्यकाल के लिए काम करेंगी।

    वाजेद की नियुक्ति का महत्व

    वाजेद की नियुक्ति दक्षिण-पूर्व एशिया क्षेत्र के लिए एक महत्वपूर्ण क्षण है। यह क्षेत्र दुनिया की सबसे अधिक आबादी वाले क्षेत्रों में से एक है, और यह कई स्वास्थ्य चुनौतियों का सामना कर रहा है।

    कोविड-19 महामारी ने क्षेत्र को बुरी तरह प्रभावित किया है, और कई देश अभी भी महामारी के प्रभावों से उबर रहे हैं। इसके अलावा, गैर-संचारी रोग, जैसे कि हृदय रोग, कैंसर और मधुमेह, इस क्षेत्र में बढ़ रहे हैं। जलवायु परिवर्तन का स्वास्थ्य पर प्रभाव भी एक बढ़ती हुई चिंता है।

    वाजेद की नियुक्ति क्षेत्र के देशों को इन चुनौतियों का सामना करने और सभी के लिए स्वास्थ्य के अधिकार को सुनिश्चित करने में मदद करेगी। वह अपने व्यापक अनुभव और विशेषज्ञता को क्षेत्र में लाएंगी, और वह क्षेत्र के देशों के साथ मिलकर काम करने के लिए प्रतिबद्ध हैं ताकि सभी के लिए बेहतर स्वास्थ्य सुनिश्चित किया जा सके।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *