Wed. Feb 1st, 2023
    RS Polls

    RS Polls: विभिन्न राज्यों में “बाहरी” चेहरों को आगामी राज्यसभा चुनावों के लिए उम्मीदवार बनाने को लेकर कांग्रेस पार्टी के अंदरखाने ही विरोध व विवाद शुरू हो गया है। साथ ही कई बड़े चेहरे जैसे गुलाम नबी आज़ाद, आनंद शर्मा, पवन खेड़ा आदि को राज्यसभा के टिकट न मिलने के कारण भी पार्टी के भीतर एक खेमा नाखुश है।

    वहीं, कांग्रेस पार्टी की इस राजनीतिक दांव के कारण बीजेपी को 15 राज्यों के 57 सीटों पर होने वाले चुनावों में अतिरिक्त ऊर्जा मिल गयी है।

    RS Polls: राजस्थान में कांग्रेस ने उतारा बाहरी चेहरा

    राजस्थान में कांग्रेस ने 3 सीटों पर तीनों ही “बाहरी” व्यक्ति -क्रमशः रणदीप सुरजेवाला, मुकुल वासनिक और प्रमोद तिवारी- को मैदान में उतारा है।

    राजनीतिक दांव-पेंच को ध्यान से समझने पर यह साफ है कि यहाँ कांग्रेस को तीसरे प्रतिनिधि की जीत के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ेगी जिसका सीधा मुकाबला बीजेपी समर्थित मीडिया जगत के बड़े नाम सुभाष चंद्रा से होना है।

    राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने तीनों सीटों पर जीत का दावा किया लेकिन साथ ही उन्होंने बीजेपी पर विधायकों के मतों के खरीद-फरोख्त (Horse-Trading) का आरोप भी लगाया।

    वहीं पूर्व कांग्रेसी नेता व वर्तमान विधानसभा में निर्दलीय विधायक संयम लोढ़ा ने कांग्रेस द्वारा एक भी राजस्थान के प्रतिनिधि को न उतारने पर सवाल खड़ा किया। श्री संयम लोढ़ा को मुख्यमंत्री गहलोत के काफ़ी करीबी व राजनीतिक सलाहकार भी माना जाता है।

    आपको बता दें कि अगर कांग्रेस को तीनों सीट जीतना है तो उसे गहलोत सरकार को समर्थन देने वाले हर निर्दलीय विधायक का समर्थन सुनिश्चित करना होगा। ऐसे में निर्दलीय विधायक संयम लोढ़ा द्वारा उठाया गए सवाल आगामी राज्यसभा चुनावों के लिए महत्वपूर्ण बन जाता है।

    महाराष्ट्र में इमरान प्रतापगढ़ी की उम्मीदवारी पर विवाद

    महाराष्ट्र में भी कांग्रेस द्वारा “बाहरी” (उत्तर प्रदेश निवासी) इमरान प्रतापगढ़ी को उम्मीदवार बनाये जाने को लेकर राज्य सरकार में साथ मे सरकार चला रही दो अन्य पार्टियां शिव सेना व एनसीपी (NCP) कथित तौर पर खुश नहीं है।

    इसी मुद्दे पर कांग्रेस के जनरल सेक्रेटरी आशीष देशमुख ने अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया है। हालाँकि महा विकास अगाड़ी की सरकार सभी उम्मीदवारों की नैया पार लगाने का दावा किया है।

    Ashish Deshmukh Resignation before RS Polls
    कांग्रेस के जनरल सेक्रेटरी आशीष देशमुख ने अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया (Image Source: Twitter)

    हरियाणा और कर्नाटक में RS Polls को लेकर अलग लड़ाई

    हरियाणा में कांग्रेस ने अपने बड़े नेता अजय माकन को उमीदवार बनाया है। यहाँ कांग्रेस MLA की संख्या 31 है जो अजय माकन के सफलता पूर्वक चुने जाने के लिए जरूरी संख्या के आसपास है।

    ऐसे में अगर दो वोट भी इधर उधर होने से कांग्रेस का पूरा खेल बिगड़ सकता है। इसी को ध्यान में रखते हुए बीजेपी ने कार्तिकेय शर्मा को उम्मीदवार बनाया है जिनका कई कांग्रेस नेताओं से अच्छे सबंध हैं। इसलिए हरियाणा में राज्यसभा चुनाव बेहद दिलचस्प होने की संभावना है।

    वहीं कर्नाटक में कांग्रेस व बीजेपी के साथ तीसरा खिलाड़ी जेडीएस (31 MLA) के कारण चुनाव दिलचस्प हो रहा है। बीजेपी (119 MLAs) और कांग्रेस (69 MLAs) दोनों ही पार्टियों ने एक-एक अतिरिक्त उम्मीदवार मैदान में उतार दिया है जिससे जेडीएस के उम्मीदवार के निर्वाचन पर खतरा मंडरा रहा है।

    10 जून को होना है राज्यसभा चुनाव (RS Polls)

    15 राज्यों से राज्यसभा के 57 सीटों पर आगामी 10 जून को मतदान होना है। अगले महीने जुलाई में होने वाले राष्ट्रपति व उपराष्ट्रपति के चुनाव के मद्देनजर राज्यसभा में किस खेमे में कितना संख्याबल रहेगा- इस बाबत यह चुनाव महत्वपूर्ण है।
    इसलिए दोनों ही बड़े दल-बीजेपी और कांग्रेस- इन चुनावों को लेकर कोई खतरा मोल नहीं ले रहे हैं।

    By Saurav Sangam

    | For me, Writing is a Passion more than the Profession! | | Crazy Traveler; It Gives me a chance to interact New People, New Ideas, New Culture, New Experience and New Memories! ||सैर कर दुनिया की ग़ाफ़िल ज़िंदगानी फिर कहाँ; | ||ज़िंदगी गर कुछ रही तो ये जवानी फिर कहाँ !||

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *