Fri. Jun 14th, 2024
    NPCI ने पंकज त्रिपाठी को बनाया UPI का ब्रांड एम्बेसडर

    नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) ने डिजिटल भुगतान प्लेटफार्मों पर सुरक्षा जागरूकता बढ़ाने के लिए प्रसिद्ध बॉलीवुड अभिनेता पंकज त्रिपाठी को अपना ‘UPI Safety Ambassador’ नियुक्त किया है। त्रिपाठी को UPI सुरक्षा पर शिक्षित करने के लिए डिज़ाइन किए गए शैक्षिक अभियानों और सार्वजनिक सेवा घोषणाओं की एक श्रृंखला में दिखाया जाएगा। वह NPCI के साथ नई सुरक्षा पहल और उपकरण विकसित करने के लिए भी काम करेंगे।

    त्रिपाठी ने कहा, “मैं UPI सुरक्षा राजदूत के रूप में नियुक्त होने के लिए सम्मानित हूं। UPI एक क्रांतिकारी भुगतान मंच है जिसने लाखों भारतीयों के लिए भुगतान करना आसान और अधिक सुविधाजनक बना दिया है। हालांकि, डिजिटल भुगतानों से जुड़े सुरक्षा जोखिमों के बारे में जागरूक होना और अपनी सुरक्षा के लिए कदम उठाना महत्वपूर्ण है। मैं UPI सुरक्षा के बारे में जागरूकता बढ़ाने और उपयोगकर्ताओं को सुरक्षित और सुरक्षित डिजिटल भुगतान करने में मदद करने के लिए NPCI के साथ काम करने के लिए प्रतिबद्ध हूं।”

    NPCI द्वारा त्रिपाठी को UPI सुरक्षा राजदूत के रूप में नियुक्त करना डिजिटल भुगतान सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है। त्रिपाठी भारत में एक लोकप्रिय और सम्मानित व्यक्ति हैं और उनके अभियान में शामिल होने से बड़ी संख्या में लोगों तक पहुंचने की उम्मीद है।

    क्या है UPI सुरक्षा टिप्स?

    • UPI पिन किसी के साथ शेयर न करें।
    • अज्ञात स्रोतों से QR कोड स्कैन न करें।
    • UPI ऐप डाउनलोड करें और केवल आधिकारिक ऐप स्टोर से उपयोग करें।
    • किसी भी संदिग्ध लेनदेन की सूचना तुरंत अपने बैंक को दें।

    UPI भारत में सबसे लोकप्रिय डिजिटल भुगतान प्लेटफॉर्म है। हालांकि, UPI उपयोगकर्ताओं की संख्या बढ़ने के साथ-साथ धोखाधड़ी के मामलों में भी वृद्धि हो रही है। यही कारण है कि UPI सुरक्षा के बारे में जागरूकता बढ़ाना महत्वपूर्ण है।

    NPCI ने UPI सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए कई पहल की हैं, जैसे कि UPI सुरक्षा शिक्षा अभियान और UPI सुरक्षा गाइड। NPCI ने उपभोक्ताओं को UPI सुरक्षा के बारे में जागरूक करने के लिए बैंकों और अन्य वित्तीय संस्थानों के साथ भी साझेदारी की है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *