Wed. Nov 30th, 2022
    सातवा वेतन आयोग वेतन वृद्धि

    हाल ही में सातवें वेतन आयोग ने रेलवे कर्चारियों के चालु भत्ते में बड़ी बढ़ोतरी करने का फैसला लिया है। इस भत्ते की यह ख़ास बात होती है की इस पर इनकम टैक्स नहीं लगता है।

    कितना बढेगा वेतन ?

    चालु भत्ते में बढ़ोतरी किये जाने से रेलवे गार्ड, लोको पायलट और सहायक लोको पायलटों के वेतन में लगभग 200 फीसदी की बढ़ोतरी हो जायेगी।

    अभी तक इन कर्मचारियों को वेतन भत्ते के रूप में हर 100 किलोमीटर पर 255 रूपए की राशी मिल रही थी। वेतन आयोग द्वारा संशोधित किये जाने के बाद यह 520 कर दी गयी है। हालांकि इस प्रस्ताव को अभी वित्त मंत्रालय से मंजूरी मिलना बाकी है। अतः यह तभी लागू हो पायेगा जब वित्त मंत्रालय इसको मंजूरी देगा।

    रेलवे विभाग पर बढेगा भार :

    यदि इस प्रस्ताव को वित्त मंत्रालय से मंजूरी मिल जाती है तो रेलवे विभाग पर भत्ते का वित्तीय भार 1,150 करोड़ रुपये से बढ़कर 2,375 करोड़ रुपये हो जाएगा। इसके अलावा रेलवे को 1 जुलाई 2017 से दिसंबर 2018 की अवधि के लिए 4,500 करोड़ रुपये का बकाया कर्ज भी देना होगा।

    भत्ते पर नहीं लगता आय कर :

    इस भत्ते के  बात है की कर्मचारियों को इस भत्ते के मिलने पर कोई इनकम टैक्स नहीं देना होता है। आयकर विभाग की धारा 10 (14) के अनुसार, किसी भी परिवहन व्यवसाय में काम करने वाले कर्मचारी को उसके निजी व्यय को पूरा करने के लिए परिवहन भत्ता, इस तरह के परिवहन को एक स्थान से दूसरे स्थान तक चलाने के दौरान प्रदर्शन किए गए कर्मचारी द्वारा प्रदान नहीं किया गया दैनिक भत्ता की प्राप्ति।

    केंद्रीय सरकारी कर्मचारियोंको भी मिलेगा लाभ :

    7 वें वेतन आयोग पर कुछ खुशखबरी का इंतजार कर रहे केंद्र सरकार के कर्मचारी भी इस घटनाक्रम को करीबी से देख रहे हैं एवं वे भी अपने मूल न्यूनतम वेतन में बढ़ोतरी की मांग कर रहे हैं। हालांकि इस पहलू पर अभी तक कोई निर्णय नहीं हुआ है लेकिन आशा की जा रही है की मफल्ड ही सरकार इसके संबंध में भी सुचना जारी करेगी।

    By विकास सिंह

    विकास नें वाणिज्य में स्नातक किया है और उन्हें भाषा और खेल-कूद में काफी शौक है. दा इंडियन वायर के लिए विकास हिंदी व्याकरण एवं अन्य भाषाओं के बारे में लिख रहे हैं.

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *