Mon. Nov 28th, 2022
    CEBR का दावा, वर्ल्ड इकोनॉमिक आउटपुट साल 2022 में 100 ट्रिलियन डॉलर को पार कर जाएगा।

    ब्रिटेन के सेंटर फॉर इकोनॉमिक्स एंड बिजनेस रिसर्च (CEBR) की एक रिपोर्ट में ये दावा किया गया है कि वर्ल्ड इकोनॉमिक आउटपुट (World Economic Output)  साल 2022 में 100 ट्रिलियन डॉलर को पार कर जाएगा। साल 2030 में चीन अमेरिका को पछाड़ बनेगा विश्व की नंबर 1 अर्थव्यवस्था | वहीं दूसरी ओर महंगाई विश्व अर्थव्यवस्था के लिए सबसे बड़ा चिंता का विषय बनी हुयी है।

    • 2030 तक चीन बनेगा दुनिया की नंबर 1 इकॉनमी
    • 2023 में ब्रिटेन को पिछाड़ेगा, 2031 में बनेगा भारत विश्व की तीसरी बड़ी इकॉनमी

    रिपोर्ट के अनुसार कोरोना महामारी से जूझ रहे कुछ देशों की अर्थव्यवस्था तेज़ रफ्तार से उबरने लगी हैं जिसके नतीजतन, साल 2022 में वैश्विक इकॉनमी पहली बार 1000 खरब डॉलर के पार होगी। अभी भारत, ब्रिटेन और फ्रांस तीनों ही तीन ट्रिलियन डॉलर की इकॉनमी है। 2022 में भारत फ्रांस को पीछे कर सकता है। वहीं ब्रिटेन 2023 में भारत से पिछड़ जायेगा और भारत बन जायेगा विश्व की छठी बड़ी अर्थव्यवस्था । CEBR रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया है  कि अगले साल भारत की अर्थव्यवस्था तीन ट्रिलियन डॉलर के बेहद करीब पहुंच सकती है।

    रिपोर्ट से पता चला है कि जर्मनी साल 2033 में आर्थिक उत्पादन के मामले में जापान से आगे निकलने की राह पर है और वहीं रूस साल 2036 तक शीर्ष 10 अर्थव्यवस्था में अपनी जगह बना सकता है। रिपोर्ट के अनुसार इंडोनेशिया साल 2034 में नौवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा।

    CEBR के डिप्टी चेयरमैन डगलस मैकविलियम्स ने कहा, “2020 के लिए महत्वपूर्ण मुद्दा यह है कि विश्व अर्थव्यवस्थाएं मुद्रास्फीति से कैसे निपटती हैं, जो अब अमेरिका में 6.8% तक पहुंच गई है।”

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *