एक दिन में 200 रन बनाना बहुत मुश्किल काम: चेतेश्वर पुजारा

चतेश्वर पुजारा

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच इस वक्त मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में तीसरा टेस्ट मैच खेला जा रहा है। जिसमे भारतीय टीम के दाएं हाथ के बल्लेबाज चतेश्वर पुजारा को पहली इनिंग में अपना शतक लगाने के लिए 300 गेंदो का सामना करना पड़ा था। उनके 106 रन की पारी में उनका स्ट्राइक रेट 33 के आसपास रहा।

मेलबर्न टेस्ट मैच में भारतीय टीम के शीर्ष पांच बल्लेबाजो का स्ट्राइक रेट 50 के कम रहा था। इस मैच में भारतीय टीम के दो खिलाड़ी रोहित शर्मा और ऋषभ पंत का स्ट्राइक रेट 50 से ऊपर रहा। इस मैच में पुजारा की धीमी गति की इनिंग को लेकर कई सवाल उठाए गए है।पुजारा की पारी ने मयंक अग्रवाल, विराट कोहली और रोहित शर्मा के अर्धशतकों के साथ 7 विकेट के नुकसान में टीम के लिए 433 रन बनाए जिसके बाद कप्तान कोहली ने पारी घोषित की।

नंबर 3 के बल्लेबाज के अनुसार, ऑस्ट्रेलिया को पिच पर बहुत अधिक दबाव डालने के लिए पर्याप्त है जो उसे लगता है कि मैच आगे बढ़ने के साथ और भी मुश्किल होगा।

पुजारा ने दूसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ” रन बनाने के लिए यह एख कठिन पिच है, अगर हम पहले दो दिन देखते है तो रन बनाने की संख्या बहुत कम है और मैं एक बात कहना चाहूंगा कि एक दिन में 200 रन बनाना बहुत कठिन काम है। तो इसलिए मुझे लगता है कि हमारे पास बोर्ड मे पर्याप्त रन है। पुजारा ने आगे कहा की जैसे की हमने आज देखा, पिच पहले से बिगड़ने और इस पर परिवर्तनशील उछाल है।”

“जब मैं कल और आज बल्लेबाजी कर रहा था, तो मुझे लगा कि अंतर है और मुझे नहीं लगता कि अब बल्लेबाजी करना आसान है। कल से मुझे लगता है कि बल्लेबाजी करना मुश्किल होगा और हमारे गेंदबाज अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं इसलिए मुझे लगता है कि हमारे पास हैं बोर्ड में पर्याप्त रन है।”

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here