दा इंडियन वायर » खेल » केकेआर बनाम सीएसके: चेन्नई में कैसे एमएस धोनी के गेंदबाज आंद्रे रसेल के तूफान को रोक पाएंगे?
खेल

केकेआर बनाम सीएसके: चेन्नई में कैसे एमएस धोनी के गेंदबाज आंद्रे रसेल के तूफान को रोक पाएंगे?

आंद्रे रसेल

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें संस्करण के 23वें मैच में आज चेन्नई सुपर किंग्स और कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में आमने-सामने होगी। जहां दोनो टीम अंक तालिका के शीर्ष पर जगह बनाने के लिए एक कड़ी प्रतिस्पर्धा करते दिखाई देंगी।

चेन्नई सुपर किंग्स की टीम के लिए सबसे कठिन चुनौती आंदे रसल की होगी जो अबतक इस सीजन में चार टीम को गेंदबाजी अतिक्रमण को अपनी बल्लेबाजी से ध्वस्त करते नजर आए है। उनके 207 रन 268.83 की स्ट्राइक रेट के साथ आए है जिसमें उन्होने हर 2.6 गेंद के बाद एक बाउंड्री लगाई है।

तो ऐसे में एमएस धोनी रसल द मसल को कैसे रोकेंगे। यहा कुछ विकल्प है जिस प्रकार चेन्नई के कप्तान उन्हे रोक सके है:

इमरान ताहिर से गेंदबाजी करवा कर- इमरान ताहिर के पास वह क्षमता है जिससे वह गेंद को ज्यादा से ज्यादा स्विंग करवा सकते है। हां, ऐसा भी हो सकता है कि रसेल उनकी गेंद पर कुछ आक्रमक हिट कर सकते है लेकिन ताहिर फिर भी हवा में गेंद को स्विंग कर सकते है और अपनी गूगली में उनको फंसा सकते है।

एक आकड़े में नजर डाले- तो साल 2015 से रसले हर गेंदबाज की पीटाई करते आए है लेकिन उन्हें लेग-स्पिनर के सामने थोड़ा संघर्ष करना पड़ा है। लेग स्पिनरो के खिलाफ, वेस्टइंडीज का यह विस्फोटक बल्लेबाज 79 गेंदो में केवल 101 रन बना पाया है जिसमें उन्होने 4 बार अपना विकेट गंवाया है।

जब रसेल मैदान में आएंगे तो धोनी इमरान ताहिर को गेंद थमा सकते है।

विकेट के आसपास गेंदबाजी- हम छक्के, क्रूर शक्ति को याद करते हैं, लेकिन सभी नरसंहार के बीच में दो गेंदें होती हैं जो बाहर खड़ी होती हैं। मोहम्मद शमी अराउंद द विकेट आए और सीधे एक यॉर्कर उनके स्टंप पर मारी। रसेल आउट हो गए थे लेकिन तीन फिल्डर रिंग के बाहर होने के कारण अंपायर ने नौ बॉल का इशारा किया था।

वही एक बार वह तब आउट हुए जब कगिसो रबाडा ने उन्हे पैरो के नीचे सटीक यॉर्कर दी। ऐसी ही कुछ रणनीति हो सकती है जिसका उपयोग कर के धोनी रसेल के तूफान को रोक सकते है।

इसलिए, हम संख्याओं पर नजर डालते हैं – 2015 के बाद से, रसेल ने केवल नौ रन बनाए हैं, जब विकेट के चारों ओर से 17 यॉर्कर या बाउंसर थे। ऐसा करते हुए वह दो बार आउट हो चुके हैं।

पिछले मैच में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ, एमएस धोनी ने मैच के आखिरी में दीपक चाहर को गेंद सौंपी, जहां युवा सीमर ने लगातार यॉर्कर फेंकी थी। उनके अलावा सीसके के पास स्कॉट कुग्गेलेइजन के रुप में दूसरे तेज गेंदबाज है जो रसले को अराउंद द विकेट गेंद करके फंसा सकते है। और अगर वह ब्लॉकहाल में गेंदबाजी करते है तो इससे भी रसले को परेशानी हो सकती है।

About the author

अंकुर पटवाल

अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

Add Comment

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!