दा इंडियन वायर » खेल » हेमिल्टन टी-20 : सुपर ओवर में भारत ने जीती सीरीज
खेल

हेमिल्टन टी-20 : सुपर ओवर में भारत ने जीती सीरीज

कप्तान केन विलियम्सन (95) के करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी के बावजूद यहां सेडन पार्क मैदान न्यूजीलैंड और भारत के बीच खेला गया तीसरा टी-20 मैच टाई हो गया और सुपर ओवर में चला गया, जहां भारत ने रोमांचक जीत दर्ज की। इस जीत के साथ ही भारत ने पांच मैचों की टी-20 सीरीज में 3-0 की अजेय बढ़त हासिल कर ली है।

सुपर ओवर में न्यूजीलैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 17 रन बनाए और भारत को जीत के लिए 18 रनों का लक्ष्य दिया। भारत ने आखिरी गेंद पर रोहित शर्मा के छक्के की बदौलत जीत दर्ज की। भारत ने पहली बार न्यूजीलैंड के खिलाफ टी-20 सीरीज जीती है।

इससे पहले, भारत ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए पांच विकेट पर 179 रनों का स्कोर बनाया। इसके जवाब में न्यूजीलैंड की टीम भी निर्धारित 20 ओवरों में छह विकेट पर 179 रन ही बना सकी और मैच टाई हो गया।

भारत का टी-20 में यह दूसरा टाई है। इससे पहले भारत ने 2007 टी-20 विश्व कप में पाकिस्तान के खिलाफ टाई खेला था।

भारत से मिले 180 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी न्यूजीलैंड को मार्टिन गुप्टिल (31) और कोलिन मुनरो (14) ने 5.4 ओवरों में पहले विकेट के लिए 47 रनों की साझेदारी करके अच्छी शुरुआत दी।

खतरनाक होती जा रही साझेदारी को शार्दूल ठाकुर ने गुप्टिल को आउट करके तोड़ा। गुप्टिल ने 21 गेंदों पर दो चौके और तीन छक्के लगाए। 52 रन पर अपने दो विकेट गंवाने के बाद कप्तान विलियम्सन और मिशैल सैंटनर (9) ने तीसरे विकेट के लिए 26 रन जोड़े। सैंटनर टीम के 88 के स्कोर पर युजवेंद्र चहल की गेंद पर बोल्ड हो गए।

इस दौरान विलियम्सन ने एक छोर संभाले रखा और अपने करियर का 11वां अर्धशतक पूरा किया। कप्तान ने कोलिन डीग्रैंडहोम (5) के साथ मिलकर चौथे विकेट के लिए 49 रनों की साझेदारी की। बड़ी होती जा रही इस साझेदारी को शार्दूल ने ग्रैंडहोम को आउट करके तोड़ा।

न्यूजीलैंड को अभी 24 गेंदों पर 43 रन बनाने थे और विलियम्सन के रूप में उसकी उम्मीदें मैदान पर टिकी हुई थीं। कीवी टीम को अंतिम 12 गेंदों पर 20 रन बनाने थे लेकिन वह पूरी कोशिश के बाद भी 179 रनों के आंकड़े से आगे नहीं जा पाई और मैच टाई हो गया।

विलियम्सन ने 48 गेंदों की पारी में आठ चौके और छह छक्के लगाए। टेलर ने 10 गेंदों पर 17 रन बनाए।

भारत की ओर से शार्दूल और मोहम्मद शमी ने दो-दो जबकि चहल और रवींद्र जडेजा ने एक-एक विकेट लिए।

इससे पहले बल्लेबाजी का न्योता मिलने पर पहली पारी खेलने उतरी भारतीय टीम को रोहित और लोकेश राहुल (27) ने पहले विकेट के लिए 8.6 ओवरों में 89 रनों की साझेदारी करके विस्फोटक शुरुआत दी।

इसके बाद हालांकि मेहमान टीम ने अगले सात रन के अंदर ही अपने तीन बल्लेबाजों के विकेट गंवा दिए। इन तीन विकेटों में रोहित के अलावा पिछले दो मैचों में लगातार दो अर्धशतक बनाने वाले राहुल और ऊपरीक्रम में बल्लेबाजी के लिए भेजे गए शिवम दुबे(3) के विकेट भी शामिल हैं।

रोहित ने 40 गेंदों पर छह चौके और तीन छक्के जबकि राहुल ने 19 गेंदों पर दो चौके और एक छक्का लगाए। रोहित का यह 20वां अर्धशतक है। रोहित ने हामिश बेनेटे के दूसरे और भारत की पारी के छठे ओवर में तीन छक्के और दो चौकों की मदद से 27 रन जुटाए।

रोहित ने पॉवरप्ले के अंदर ही अपना अर्धशतक पूरा कर लिया और वह ऐसा करने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं। उनसे पहले पॉवरप्ले के अंदर सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड शिखर धवन के नाम था, जिन्होंने 48 रन बनाए थे।

इसके बाद 96 रन तक अपने तीन विकेट गंवाने के बाद कप्तान विराट कोहली (38) और शानदार फॉर्म में चल रहे श्रेयस अय्यर (17) ने चौथे विकेट के लिए 46 रन जोड़कर भारत को स्थिरता प्रदान की।

अय्यर टीम के 142 के स्कोर पर चौथे विकेट के रूप में जबकि कोहली 160 के स्कोर पर पांचवें विकेट के रूप में आउट हुए। कोहली ने 27 गेंदों पर दो चौके और एक छक्का लगाया।

आखिर में मनीष पांडे ने छह गेंदों पर एक चौके और एक छक्के की मदद से नाबाद 14 और जडेजा ने पांच गेंदों पर एक छक्के के सहारे नाबाद 10 रन बनाकर भारत को 179 रनों के स्कोर तक पहुंचाया। भारत ने अंतिम ओवर में 18 रन बटोरे।

न्यूजीलैंड के लिए हामिश बेनेटे ने अपने चार ओवरों में 54 रन देकर तीन और कोलिन डी ग्रैंडहोम तथा मिशैल सेंटनर ने एक-एक विकेट लिया।

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!