Sun. Jan 29th, 2023
    हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर

    हिमाचल प्रदेश में मुख्यमंत्री के चुनाव को लेकर जारी असमंजस की स्थिति समाप्त हो गई है। भाजपा आलाकमान ने पूर्व भाजपा प्रदेशाध्यक्ष जयराम ठाकुर को हिमाचल प्रदेश का नया मुख्यमंत्री चुना है। जयराम ठाकुर 27 दिसंबर को हिमाचल प्रदेश के 13वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेंगे। बता दें कि हालिया सम्पन्न हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनावों में भाजपा ने दो तिहाई के करीब सीटें जीतते हुए 5 सालों बाद सत्ता वापसी की थी। भाजपा ने हिमाचल प्रदेश विधानसभा की 68 में से 44 सीटों पर जीत हासिल की थी वहीं सत्ताधारी दल कांग्रेस 21 सीटों पर सिमट कर रह गई। 3 सीटें अन्य दलों के खाते में आई थी।

    मुख्यमंत्री पद के लिए जयराम ठाकुर का चुनाव आज शिमला में हुई भाजपा विधायक दल की बैठक में हुआ। हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और दिग्गज भाजपाई नेता प्रेम कुमार धूमल ने विधायक दल की बैठक में जयराम ठाकुर का नाम आगे किया जिस पर सबकी सहमति रही। बैठक में जयराम ठाकुर के अलावा अन्य किसी नाम पर चर्चा नहीं हुई। इस बैठक में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर भी उपस्थित रहे। हिमाचल प्रदेश के सभी लोकसभा और राज्यसभा सांसद भी बैठक में मौजूद रहे। बैठक की अध्यक्षता हिमाचल भाजपा अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने की।

    हिमाचल प्रदेश में लगभग दो तिहाई बहुमत मिलने के बावजूद भाजपा इस उलझन में थी कि मुख्यमंत्री किसे बनाया जाए। चुनाव पूर्व भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल के नेतृत्व में चुनाव लड़ने की घोषण की थी। भाजपा ने तो हिमाचल प्रदेश फतह कर लिया पर मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार प्रेम कुमार धूमल सुजानपुर से चुनाव हार गए। हिमाचल भाजपा के अन्य दिग्गज नेताओं को भी चुनाव में शिकस्त का सामना करना पड़ा था जिस वजह से भाजपा आलाकमान के लिए एक मजबूत और सशक्त चेहरे का चुनाव करना कठिन हो चला था।

    शिमला में हुई भाजपा विधायक दल की बैठक में जयराम ठाकुर को विधायक दल का नेता चुन लिया गया। जयराम ठाकुर प्रेम कुमार धूमल के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार के कार्यकाल में कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं। जयराम ठाकुर ने अपना पहला चुनाव वर्ष 1998 में जीता था और उसके बाद से वह लगातार 5 बार विधायक रह चुके हैं। वह वर्ष 2009-13 तक हिमाचल प्रदेश भाजपा अध्यक्ष भी रह चुके हैं। जयराम ठाकुर छात्र जीवन से ही राजनीति से जुड़े हुए हैं और वह एबीवीपी के सक्रिय कार्यकर्ता रह चुके हैं। ऐसे में उनका सियासी अनुभव हिमाचल प्रदेश में भाजपा को मजबूत आधार देगा।

    चुनाव पूर्व भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा मुख्यमंत्री उम्मीदवार बनाए गए प्रेम कुमार धूमल ने मुख्यमंत्री की दौड़ से खुद को अलग करते हुए कहा कि पार्टी आलाकमान का निर्णय ही सर्वमान्य होगा। बीते शुक्रवार को धूमल और ठाकुर के समर्थकों के बीच झड़प हो गई थी जिसकी वरिष्ठ भाजपा नेता शांता कुमार ने भी निंदा की थी। उन्होंने शक्ति प्रदर्शन को गलत ठहराया था। भाजपा ने इस मामले पर कड़ा संज्ञान लिया था। माना जा रहा है कि भाजपा अप्रैल में धूमल को राज्यसभा भेजेगी। धूमल और अनुराग ठाकुर में से किसी एक को मोदी मन्त्रिमण्डल में जगह मिल सकती है।

    By हिमांशु पांडेय

    हिमांशु पाण्डेय दा इंडियन वायर के हिंदी संस्करण पर राजनीति संपादक की भूमिका में कार्यरत है। भारत की राजनीति के केंद्र बिंदु माने जाने वाले उत्तर प्रदेश से ताल्लुक रखने वाले हिमांशु भारत की राजनीतिक उठापटक से पूर्णतया वाकिफ है।मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातक करने के बाद, राजनीति और लेखन में उनके रुझान ने उन्हें पत्रकारिता की तरफ आकर्षित किया। हिमांशु दा इंडियन वायर के माध्यम से ताजातरीन राजनीतिक और सामाजिक मुद्दों पर अपने विचारों को आम जन तक पहुंचाते हैं।