दा इंडियन वायर » स्वास्थ्य » हाइट बढ़ाने के लिए बाबा रामदेव द्वारा बताये गए 5 योग आसन
स्वास्थ्य

हाइट बढ़ाने के लिए बाबा रामदेव द्वारा बताये गए 5 योग आसन

हाइट बढ़ाने के लिए बाबा रामदेव के योग

बाबा रामदेव आयुर्वेद और योग की दुनिया में बहुत बड़ा नाम हैं। बाबा नें भारत को पुरे विश्व में योगगुरु बनाया है। यह बाबा रामदेव की वजह से ही संभव हो पाया है कि आज पुरे भारत में लोग कुछ भी शारीरिक समस्या के लिए योग करना पसंद करते हैं।

आजकल योग को रामदेव योग के नाम से ही जाना जाता है, जिससे हम यह जान सकते हैं कि किस तरह बाबा रामदेव का नाम योग से जुड़ गया है। चाहे आप हाइट बढ़ाना चाहते हैं, या वजन कम करना चाहते हैं, बाबा रामदेव के पास आपके लिए हर तरह के योग हैं।

योग के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि आप इसे पूरी तरह से घर पर रहकर कर सकते हैं। इसके अलावा यह पूरी तरह से मुफ्त होता है और आपको सिर्फ थोड़ा सा समय खर्च करना होता है।

इस लेख में हम बात करेंगे कि किस तरह आप बाबा रामदेव के योग द्वारा हाइट बढ़ा सकते हैं।

हाइट बढ़ाने में योग कैसे मदद करता है?

स्ट्रेच करने की तरह ही योग भी शरीर को स्ट्रेच करते हैं। इससे सभी मांसपेसियां और हड्डियाँ खिचती हैं और जिससे लम्बाई बढ़ती है।

इसके साथ ही योग शरीर में मौजूद रीड़ की हड्डी को सीधा और मजबूत करता है, जिससे शरीर की बनावट अच्छी होती है और मनुष्य लम्बा दिखाई देता है।

योग करने से शरीर अच्छा महसूस करता है, जिससे कई प्रकार के हार्मोन बनते हैं और इससे हाइट बढ़ती है।

योग का एक अहम् भाग स्ट्रेचिंग है, जो मांसपेशियों को खींचने में मदद करता है।

हाइट बढ़ाने के लिए योग बाबा रामदेव द्वारा

1. भुजंग आसन

भुजंग आसन हाइट बढ़ाने के लिए
भुजंग आसन

बाबा रामदेव द्वारा बताये गए सबसे प्रचलित आसनों में से एक भुजंग आसन में पूरे शरीर की मरम्मत हो जाती है।

इस आसन के जरिये एब्स, पीठ, पीठ का नीचला हिस्सा, पेट आदि पर जोर पड़ता है। यह हाइट बढ़ाने के लिए बाबा रामदेव द्वारा बताये गए योग में से सबसे असरदार है।

भुजंग आसन कैसे करें?

  1. जमीन पर सीधा लेट जाएँ और शरीर को फैला लें। पैरों को जमीन पर सीधा रखें और हाथों को कंधे के नीचे रखें।
  2. अपने शरीर के निचले हिस्से को ज़मीन पर रखे।
  3. अपनी बाहों को सीधा करके अपनी छाती को घुमाएं और फर्श से अधिकतर धड़ उठाएं। सुनिश्चित करें कि आपकी जांघ फर्श नहीं छोड़े और रीढ़ की हड्डी के साथ पीछे झुकी रहे।
  4. ध्यान रखें कि आपकी नाभि अन्दर रहे, एब्स टाइट रहे और कंधे पीछे रहे। गर्दन को पीछे की तरफ झुकायें ताकि गर्दन की मांसपेशियों को आराम मिले।
  5. इस पोज़ को 30 सेकंड तक बांधे रखें।
  6. अपनी मूल अवस्था में वापिस आते समय सांस छोडें।

2. हस्त पदासन

हाइट बढ़ाने के लिए हस्त पदासन
हस्त पदासन

हस्त पदासन हाइट बढाने में अत्यधिक उपयोगी होता है और रीढ़ की हड्डी को खींच देता है।

हस्त पदासन कैसे करें?

  1. तदासन में सीधे खड़े हो जायें और अपने कन्धों को पीछे कर लें, छाती बाहर निकाल लें, पेट की मांसपेशियां टाइट रखें और नाभि को अन्दर कर लें।
  2. सांस अन्दर लें और अपने हाथ सीधे कर लें।
  3. सांस बाहर निकालें और आगे की ओर झुकें। इस प्रकार अपने सिर को अपने घुटनों पर लगायें और हाथों को पंजों तक ले जायें।
  4. यदि आप लचीले हैं तो अपने पंजों के पीछे का हिस्सा भी अपने हाथों से छुएं।
  5. इस अवस्था में 30 सेकंड तक रहे फिर तदासन में वापिस आ जायें।

3. सर्वांगासन

हाइट बढ़ाने के लिए सर्वांग आसन
सर्वांग आसन

इस आसन से आपकी त्वचा, बाल, ब्लड प्रेशर, थाइरोइड, ग्लूकोमा और अन्य परेशानियों में आराम मिलता है।

सर्वांगासन कैसे करें?

  1. पीठ पर लेट जायें और अपने एब्स टाइट रखें और कन्धों को ज़मीन पर रख लें।
  2. अपने पैर की मांसपेशियों को कस लें। एक ही बार में अपने पैर और बट उठाएं और उन्हें हवा में खड़ा कर लें ताकि सारा वज़न आपके कन्धों पर आ जाये।
  3. अपनी पीठ को हाथों से और अपने शरीर को सीधा हवा में उठाये रखें।
  4. इस अवस्था को 40 सेकंड तक बांधें रखें।
  5. मूल अवस्था पर वापिस आने के लिए अपने घुटनों को माथे की तरफ झुकाएं और अपनी रीढ़ की हड्डी को वापिस ज़मीन पर लायें और सीधे हो जायें।

4. अधो मुखस्वनासन

बाबा रामदेव योग अधो-मुखास्वासन
अधो-मुखास्वासन

यह आसन शरीर के निचले और उपरी दोनों ही हिस्सों को स्ट्रेच करता है जिसके कारण यह हाइट बढाने के लिए सर्वोच्च माना जाता है।

अधो मुखस्वनासन कैसे करें?

  1. अपनी हथेलियों, घुटनों और पैरों की उँगलियों को ज़मीन के संपर्क में लायें।
  2. अपने घुटनों को सीधा करें और अपने कूल्हों को सीधा करते हुए बट को हवा में खड़ा कर लें।
  3. अपने हाथों को एक कंधे के जितनी दूरी पर रखें और सीधा कर लें।
  4. अपनी रीढ़ की हड्डी को स्ट्रेच करते हुए अपने हाथों से अपनी एड़ियों को छूने का प्रयास करें।
  5. इस अवस्था को 40 सेकंड के लिए बांधे रखें और मूल अवस्था पर वापिस आ जायें।

5. त्रिकोणासन

बाबा रामदेव द्वारा बताया गया त्रिकोणासन
त्रिकोणासन

यह आसन आपकी रीढ़ की हड्डी को संतुलित रखता है और पूरे शरीर का संतुलन भी बनाये रखता है।

त्रिकोणासन कैसे करें?

  1. पैर चौड़ाकर सीधे खड़े हो जायें।
  2. एक ओर मुड़ जायें, कोशिश करें कि सीढ़ी तरफ मुड़ें। इससे आपका उल्टा पैर बायीं ओर रहेगा और सीधा पैर दायीं ओर।
  3. एक बार सांस लें और छोडें उसके बाद अपने शरीर को दायीं तरफ झुकायें और अपने दाए पैर को छुएं।
  4. अपने हाथों को सीधा रखें जिससे आप जब झुकें तो आपका दांया हाथ दाए पैर को छुए और बांया हाथ हवा में हो।
  5. ध्यान रखें कि आप ना आगे झुकें न पीछे और जितना अधिक हो सके शरीर को स्ट्रेच करें। अपनी छाती को खोल लें।
  6. अपनी आँखें खुली रखें और आसमान की ओर देखें।
  7. अब सीधे हो जायें और अपने हाथ नीचे कर लें।

About the author

पंकज सिंह चौहान

पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

16 Comments

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!