Mon. Jun 17th, 2024
    Mahathir-Mohamad

    मलेशिया के प्रधानमन्त्री महातिर मोहम्मद ने शुक्रवार को कहा कि “हांगकांग की नेता कैर्री लाम को शहर में बढ़ते लोकतंत्र समर्थक हिंसक प्रदर्शन के कारण इस्तीफा दे देना चाहिए और चीन को इन प्रदर्शनों को खत्म करने के लिए सख्त कदम उठाने के लिए चेतावनी दी है।”

    हांगकांग में बीते चार महीनो से प्रदर्शन का दौर जारी है। अर्धस्वायत्त शहर में बीजिंग की निरंकुश हुकूमत को देखते हुए लाकहो नागरिक सड़को पर उतरे हैं। मलेशिया के प्रधानमन्त्री महातिर मोहम्मद ने कहा कि “कैर्री लाम अभी दुविधा में हैं।” 94 वर्षीय महातिर विश्व के सबसे उम्रदराज नेता है।

    उन्होंने कहा कि “वह अपने आकाओं के हुक्म पर चलती है लेकिन उन्हें अपने जहन में झांक कर देखना चाहिए। उनका अंतरमन कहेगा कि प्रत्यर्पण कानून को खारिज करने =वाली हांगकांग की अवाम सही है। लेकिन दूसरी तरफ वह इस कानून को ख़ारिज करने के परिणामो के बारे में भी जानती है।”

    प्रत्यर्पण कानून के तहत हांगकांग के अपराधियों को सुनवाई के लिए चीन भेजा जायेगा लेकिन जनता के आक्रोश के कारण चीन ने इसे रद्द कर दिया था। हालाँकि इस आन्दोलन ने अब लोकतांत्रित आजादी का रूप ले लिया है।

    महातिर ने कहा कि “प्रशासक लाम के लिए मेरे ख्याल से सबसे बेहतर इस्तीफा देना है।” बीजिंग में साल 1989 में तिअनन्मेन स्क्वायर में हुए रक्तपात की तरफ इशारा करते हुए महातिर ने कहा कि “चीन ने अपनी सेना सेना भेजी थी और कदम उठाये थे, प्रदर्शनों को रोकने के लिए कड़ी कार्रवाई की जा सकती है।”

    उन्होंने कहा कि “मेरे ख्याल से अंत में चीन हांगकांग में यही करेगा।” हांगकांग की सड़को पर शुक्रवार को हजारो प्रदर्शनकारी मास्क पहनकर उतरे थे। सरकार ने आपातकाल ताकतों का इस्तेमाल करते हुए शहर में चेहरे को ढकने पर पाबन्दी लगा दी थी ताकि प्रदर्शन को रोका जा सके।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *