हरियाणा: जींद विधानसभा उपचुनाव में रणदीप सुरजेवाला होंगे कांग्रेस के उम्मीदवार, भाजपा ने दिवंगत विधायक कृष्ण मिड्ढा के बेटे को उतारा

Randeep-Surjewala

कांग्रेस ने बुधवार को घोषणा की कि उसके मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला हरियाणा की जींद विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव के लिए पार्टी के उम्मीदवार होंगे। वरिष्ठ कांग्रेस नेता के सी वेणुगोपाल की अध्यक्षता में और हरियाणा के पार्टी के शीर्ष नेताओं के साथ कई दौर की बैठकों के बाद राहुल गांधी ने उम्मीदवार के नाम को अंतिम रूप दिया।

सूत्रों ने कहा कि कांग्रेस नेताओं को लगता है कि सुरजेवाला इस क्षेत्र में पार्टी के सबसे सुरक्षित और मजबूत उम्मीदवार हैं। 2005 में उन्होंने इन्डियन नेशनल लोक दल के सुप्रीमो ओम प्रकाश चौटाला को हराया था।

पार्टी के संचार प्रभारी सुरजेवाला ने कथित तौर पर चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया था, लेकिन राहुल गांधी ने खुद सुरजेवाला से बात कर उपचुनाव लड़ने के लिए कहा था। हरियाणा विधानसभा का 90 सदस्यीय कार्यकाल 2 नवंबर, 2019 को समाप्त हो रहा है।

पार्टी नेताओं ने महसूस किया कि एक मजबूत उम्मीदवार को मैदान में उतारा जाना चाहिए क्योंकि राज्य विधानसभा चुनाव से पहले उपचुनाव हारने से अच्चा संकेत नहीं जाता। राज्य में हल ही में हुए निकाय चुनाव में भाजपा ने क्लीन स्वीप किया था।

चुनाव आयोग ने 31 दिसंबर को घोषणा की थी कि जींद विधानसभा सीट के लिए उपचुनाव 28 जनवरी को होगा और परिणाम 31 जनवरी को घोषित किया जाएगा।

नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया 3 जनवरी को शुरू हुई और 10 जनवरी को समाप्त हुई। सुरजेवाला हरियाणा के कैथल से विधायक हैं।

इस सीट के लिए भाजपा के उम्मीदवार कृष्ण मिड्ढा हैं, जो दिवंगत इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) के विधायक हरि चंद मिड्ढा के पुत्र हैं। इनेलो को अभी अपने उम्मीदवार की घोषणा नहीं की है।

पिछले साल अगस्त में मिड्ढा की मृत्यु के बाद जींद विधानसभा सीट खाली हो गई थी। भाजपा अपने उम्मीदवार के पक्ष में सहानुभूति लहर के माध्यम से जाने की उम्मीद कर रही है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here