Tue. Jul 23rd, 2024
    हमजा लादेन

    अमेरिका ने अंतर्राष्ट्रीय आतंकवादी संगठन अलकायदा के सरगना ओसामा बिन लादेन के बेटे हमजा बिन लादेन की सूचना देने वाले को 70 करोड़ इनामी राशि देने का ऐलान किया है। अमेरिका के मुताबिक हमजा अपने पिता की मौत का बदला लेने के लिए हमले की तैयारियों में जुटा हुआ है। इसी कारण पुरूस्कार का ऐलान किया गया है।

    अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने शुक्रवार को इसका ऐलान किया था। उन्होंने कहा कि हमजा अमेरिका और उसका सहयोगी देशों पर हमला करने की फिराक में हैं। अमेरिकी विदेश विभाग के अधिकारी एमटी इवानोफ़ ने बताया कि “यह अमेरिका की आतंक विरोधी नीति को दर्शाता है।”

    हमले की फ़िराक में

    एक अन्य अधिकारी नाथन सेल्स ने कहा कि “अलकायदा पिछले कुछ समय से शांत बैठा है, इसका मतलब आत्मसमर्पण नहीं सिर्फ रणनीतिक चुप्पी है। कोई गलती न करें। अलकायदा के पास हम पर हमला करने की क्षमता और नापाक इरादा दोनों ही है।”

    अलकायदा के सरगना ओसामा बिन लादेन के  ने बीते दिनों शादी कर ली थी। उसने शादी 9/11 के आतंकी हमले के लिए विमान हाईजैक करने वाले मोहम्मद अट्टा की बेटी से की थी। ओसामा के सौतेले भाइयों ने इस शादी का जिक्र एक इंटरव्यू में किया था।

    सौतेले भाइयों ने बताया कि “हमजा का अब अलकायदा में काफी मान बढ़ गया है और वह अब अपने पिता की मौत का बदला लेने की कोशिश में हैं। हमजा की पत्नी मिस्र की नागरिक है। ओसामा की मृत्यु के बाद सऊदी अरब के पूर्व शहजादे मोहम्मद बिन नायेफ ने उन्हें शरण दी थी।

    पाक में हमला

    अमेरिका के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर 11,सितम्बर 2001 को हमला किया गया था और उसके दस साल बाद ओसामा को पकड़ा गया था। ओसमा को पाकिस्तान के अब्बोट्टाबाद में मारा गया था। पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के आदेशों के बाद ही अमेरीकी नौसेना सील ने ओसामा को मार दिया था।

    अमेरिका के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर 11,सितम्बर 2001 को हमला किया गया था और उसके दस साल बाद ओसामा को पकड़ा गया था। ओसमा को पाकिस्तान के अब्बोट्टाबाद में मारा गया था। पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के आदेशों के बाद ही अमेरीकी नौसेना सील ने ओसामा को मार दिया था।

    हाल ही में डोनाल्ड ट्रम्प ने पाकिस्तान पर आरोप लगाते हुए कहा कि अगर इस्लामाबाद सरकार अमेरिका को समय पर इत्त्लाह कर देती को अल कायदा का सरगना ओसामा बिन लादेन कबका पकड़ा जाता।

    राष्ट्रपति ट्रम्प ने कहा कि बिल्कुल, यदि पाकिस्तान की सरकार हमे खबर करने की जहमत उठाती तो वक्त से पूर्व वो आतंकी हमारे चंगुल में होता। उन्होंने ट्वीट कर पाकिस्तान पर ओसामा बिन लादेन को पनाह देने का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा कि अमेरिका ने पाकिस्तान को लाखों रूपए दिए लेकिन पाकिस्तान ने ओसामा के वहां छिपे होने की खबर तक हमें नहीं दी, बेवकूफ।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *