Sun. May 19th, 2024
    अमेरिका

    अमेरिकी सेना ने दावा किया कि सोमालिया में चरमपंथियों पर हमला करने के लिए दो दर्ज़न से अधिक एयरस्ट्राइक की है। इस एयरस्ट्राइक का मकसद सोमालिया के आतंकवादी समूह अल-कायदा से जुड़े अल-शबाब के चरमपंथियों का खात्मा करना था।

    अमेरिकी सेना ने कहा कि पिछले एक वर्ष में अल-शबाब समूह पर दो दर्जन जानलेवा हवाई हमले किये हैं। इन हमलों में तक़रीबन 60 आतंकियों को मौत के घाट उतारा है। अफ्रीका में तैनात अमेरिकी कमांडर ने कहा कि शुक्रवार को देश के मध्य भाग मुडूंग प्रान्त में एयरस्ट्राइक की थी। बयान के मुताबिक किसी आम नागरिक को क्षति नहीं पहुंची है।

    अमेरिका का 21 नवंबर 2017 के बाद ये सबसे बड़ा हवाई हमला था। 17 नवंबर को हुए हवाई हमले में करीब 100 अल-शबाब चरमपंथियों को मौत के घाट उतारा गया था।

    अमेरिकी सेना ने सोमालिया में इस वर्ष लगभग 2 दर्ज़न से अधिक हवाई हमले किये हैं। इसमें ड्रोन हमले भी शामिल    थे। अल कायदा से जुड़ा अल-शबाब सोमालिया और सब-सहारा का सबसे खतरनाक आतंकवादी समूह है।

    सोमालिया ने रविवार को आतंकवादियों पर हमले की पहली सालगिरह मनाई। मेगदिषु में एक बॉम्बिंग ट्रक में 500 से अधिक लोगों की जान गयी थी।

    हाल ही में अमेरिका ने ब्रिटेन और इजराइल के जरिये सीरिया की सरकार के रासायनिक उत्पादों की फैक्ट्रियों पर हवाई हमले किये थे। हालाँकि किसीके हताहत की सूचना नहीं आयी थी। इसके प्रतिकार में सीरिया की असद सरकार ने उग्रवादी समूहों के ठिकानों पर रासायनिक हमले किये।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *