Sat. Jul 13th, 2024
    sushil modi

    पटना, 5 जून (आईएएनएस)| बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने यहां बुधवार को कहा कि वायु की गुणवत्ता को नियंत्रित करने के लिए बैटरी चालित वाहनों पर 50 प्रतिशत कम टैक्स लगेगा।

    पटना में ‘विश्व पर्यावरण दिवस’ के मौके पर आयोजित एक समारोह को संबोधित करते हुए उपमुख्यमंत्री मोदी ने कहा कि वायु की गुणवत्ता को नियंत्रित करने के लिए बैटरी चालित वाहनों पर 50 प्रतिशत कम टैक्स लगेगा।

    उन्होंने कहा, “बैटरी चालित वाहनों के लिए रिचार्ज स्टेशन की स्थापना, 501 पेट्रोल पम्प और वाहनों के सर्विस सेन्टर पर प्रदूषण जांच केन्द्र स्थापित करने के निर्णय के साथ ही इलेक्ट्रिक बसों के परिचालन की प्रक्रिया प्रारंभ की गई है। पटना के 45 प्रदूषण जांच केन्द्रों को ऑनलाइन प्रमाणपत्र निर्गत करने के लिए अधिकृत किया गया है।”

    मोदी ने कहा कि अनवरत परिवेशीय वायु की गुणवत्ता की जांच के लिए ‘मॉनिटरिंग सेंटर’ की संख्या बढ़ाई जा रही है।

    उन्होंने कहा, “भवन निर्माण साम्रग्री और कचरा को ढक कर ढोने के निर्देश का सख्ती से पालन के साथ सड़कों के बीच में बने लैंक के पक्कीकरण का काम पटना में शुरू हो गया है। स्वच्छता तकनीक अपनाने वाले ईंट भट्ठों को ही संचालन की अनुमति दी जाएगी।”

    उन्होंने बताया कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की रिपोर्ट में दुनिया के 20 प्रदूषित शहरों में भारत के 13 शाहर शामिल हैं, और इसमें बिहार के तीन -पटना, गया और मुजफ्फरपुर- को शामिल किया गया है।

    वायु प्रदूषण को एक गंभीर चुनौती बताते हुए मोदी ने कहा कि औद्योगिक उत्सर्जन और कृषि अवशिष्ट को जलाने से भी वायु प्रदूषित हो रहा है। उन्होंने हालांकि यह भी कहा कि भयभीत होने की जरूरत नहीं है, सरकार के सात-आठ विभागों की ओर से समेकित कार्ययोजना तैयार की गई है। सरकार पूरी तरह से जागरूक और सचेत है।

    By पंकज सिंह चौहान

    पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *