Mon. Mar 4th, 2024
    अमेरिकी सेना

    युद्ध पर निगरानी रखने वाले समूह ने कहा कि अमेरिकी समर्थित सेना और इस्लामिक स्टेट के मध्य रविवार को सीरिया के पूर्वी इलाके में संघर्ष जारी रहा। द सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट की रिपोर्ट के मुताबिक रविवार को सुबह दोनों पक्षों के बीच जमकर संघर्ष हुआ। अमेरिकी समर्थित सेना ने जिहादियों के ठिकानों पर बमबारी भी की थी।

    संघर्ष जारी है

    ब्रिटेन संचालित वॉर मॉनिटर ने कहा कि युद्ध जारी है, दोनों के मध्य संघर्ष की शुरुआत रविवार सुबह से ही शुरू हो गया था। अमेरिकी समर्थित सीरियन डेमोक्रेटिक फाॅर्स ने इस्लामिक स्टेट को पूर्वी सीरिया से खदेड़ने के लिए आक्रमक नीति अपनायी थी। कुर्दिश के नेतृत्व में गठबंधन ने आईएस का अधिकार क्षेत्र को चार किलोमीटर में समेटकर रख दिया था।

    एसडीएफ के प्रवक्ता मुस्तफा बली ने बताया कि मुल्क में अब सिर्फ 600 जिहादी ही शेष हैं और उसमे अधिकतर विदेशी है। दिसंबर में युद्ध की शुरुआत के बाद आतंकियों के परिवार के 37 हज़ार से अधिक लोग एसडीएफ के नियंत्रण वाले रेगिस्तानों की तरफ भाग गए थे। इसमें अधिकतर जिहादियों के बच्चे और पत्निया थी। एसडीएफ ने 3200 जिहादियों को है।

    चार किलोमीटर पर बसे जिहादी

    विश्व का सबसे खूंखार आतंकी संगठन आईएसआईएस का दायरा अब सिमटता जा रहा है। आईएसआईएस के नियंत्रण में अब सीरिया का एक पूर्वी हिस्सा है। एक वक्त पर इस्लामिक स्टेट के नियंत्रण में बगदाद की बाहरी सीमा से लेकर पश्चिमी सीरिया तक का हिस्सा था। खबर के मुताबिक अमेरिका द्वारा समर्थित सीरियन डेमोक्रेटिव फाॅर्स ने आईएसआईएस को बुरी तरह शिकस्त दे दी है।

    दिसम्बर 2018 से मौजूदा समय तक हजारों की संख्या में लोग आईएसआईएस के कब्जे से भागने में सफल हुए हैं, हालांकि कई लोग अभी भी वहां हैं। सुरक्षित भागे लोग अभी सीरियन रेगिस्तान और भीडभाड़ वाले शिविरों अपना गुजर बसर करने के लिए मजबूर है। इसी कारण काफी बच्चों ने अपनी जाने भी गंवाई है। आईएसआईएस ने अफगानिस्तान, मिस्र, लीबिया और नाइजीरिया में अपनी पैठ बनाने की कोशिश की है। इन इलाकों में आईएसआईएस के हमले की खबर सुर्ख़ियों में रहती है।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *