दा इंडियन वायर » स्वास्थ्य » सरसों के तेल के उपयोग और लगाने के फायदे
स्वास्थ्य

सरसों के तेल के उपयोग और लगाने के फायदे

सरसों का तेल बालों के लिए mustard oil benefits in hindi

सरसों के तेल का इस्तेमाल हर घर में किया जाता है। चाहे खाना बनाना हो या फिर मालिश करनी हो, सभी जगह सरसों के तेल का उपयोग किया जाता है। कहते हैं सरसों के तेल में आयुर्वेदिक गुण विद्यमान हैं। यह एक औषधि की तरह काम करता है।

सरसों का तेल सेहत के साथ-साथ सुंदरता के लिए भी बहुत लाभदायक है। इसमें कई ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो दर्दनाशक भी होते है।

इस लेख के जरिये हम सरसों के तेल के कुछ महत्वपूर्ण उपयोग और फायदों के बारे में चर्चा करेंगे।

सरसों के तेल के फायदे (mustard oil benefits in hindi)

भूख बढ़ाने में (mustard oil for hunger in hindi)

अगर आपको भूख नहीं लगती है तो आप अपने खाने में सरसों के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। सरसों का तेल भूख बढ़ाने के लिए फायदेमंद होता है। यह आपके पाचन तंत्र को दुरुस्त करता है। सरसों का तेल पेट में एपिटाइजर के रुप में काम करता है, जिससे भूख बढ़ती है।

सरसों का तेल वजन कम करने में (mustard oil for weight loss in hindi)

सरसों के तेल के सेवन से आप अपना वजन घटा सकती हैं। सरसों के तेल में विटामिन होते हैं। जैसे थियामाइन, फोलेट और नियासिन शरीर के मेटाबाल्जिम को बढ़ाते हैं, जिससे वजन घटाने में मदद मिलती है।

दर्द निवारण में (mustard oil for pain in hindi)

सरसों का तेल दर्दनाशक के रुप में भी काम करता है। जोड़ो के दर्द, गठिया जैसे दर्द पर सरसों के तेल का मालिश करना काफी अच्छा होता है। सरसों के तेल में मौजूद गर्माहट ठंड के समय काफी राहत देती है। ठंड के वक्त सरसों के तेल से मालिश करनी चाहिए।

सरसों का तेल त्वचा के लिए लाभदायक (mustard oil for benefits in hindi)

सरसों का तेल त्वचा के लिए भी अच्छा माना जाता है। सरसों के तेल में मौजूद विटामिन ए, विटामिन सी और विटामिन के आपके त्वचा को अंदरुनी पोषण देते हैं। इससे आपके चेहरे की नमी बनी रहती है।

सरसों के तेल में पाए जाने वाले एंटी- ऑक्सीडेंट की वजह से झुर्रियों से भी निजात मिलती है और सरसों का तेल आपको जवान दिखने में मदद करता है।

सरसों का तेल हमारे चेहरे के लिए सन्स्क्रीन की तरह भी काम करता है। इसमें मौजूद हाई लेवल विटामिन सूरज की किरणों के हानिकारक प्रभाव को हमारे शरीर से दूर रखता है।

सरसों का तेल बालों के लिए फायदेमंद (sarson ka tel for hair in hindi)

अक्सर बड़े बुजुर्गों को आपने सरसों का तेल इस्तेमाल करते देखा होगा। बालों में सरसों के तेल लगाने से बाल जल्दी सफेद नहीं होते। सरसों के तेल से बालों में मालिश करने से बाल जल्दी लंबे होते हैं। साथ ही बालों में रक्त का बहाव भी बढ़ जाता है।

कैंसर के लिए लाभदायक (sarson ka tel for cancer in hindi)

सरसों का तेल अपने कैंसर-विरोधी गुण के लिए जाना जाता है। यह कैंसर के टयूमर और गांठ को शरीर में बनने से रोकता है। इसमें मौजूद तत्व पेट और त्वचा में होने वाले कैंसर से बचाते हैं।

कोलेस्ट्रॉल कम करने में (sarson ka tel for cholesterol in hindi)

सरसों का तेल कोलेस्ट्रॉल कम करने में काफी फायदेमंद होता है। सरसों के तेल में विटामिन बी-12 होता है, जो कोलेस्ट्रॉल कम करने में सहायक होता है। इससे आपका कोलेस्ट्रॉल नहीं बढ़ता और आप उससे संबंधी बहुत सी बीमारियों से छुटकारा पा सकते हैं।

डायबिटीज के लिए (mustard oil for diabetes in hindi)

अगर आपको भी डायबिटीज है तो आप अपने खाने में सरसों का इस्तेमाल कर सकते हैं। जैसे सरसों का पाउडर खाने से डायबिटीज का स्तर कम होता है, वैसे ही सरसों के तेल में मौजूद तत्व डायबिटीज के लिए फायदेमंद होते हैं।

रोग-प्रतिरोधक क्षमता (mustard oil for immunity in hindi)

सरसों का तेल आपके शरीर में रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है, जिससे आपको दूसरे बीमारियों से लड़ने में सहायता मिलती है। इसके लिए आप सरसों के तेल का इस्तेमाल खाने में भी कर सकते हैं।

अस्थमा रोकने के लिए (sarson ka tel asthma ke liye)

जिन लोगों को अस्थमा की बीमारी है, उन्हें सरसों के तेल का सेवन जरुर करना चाहिए। सरसों के तेल में मैन्नीशियम होता है, जो अस्थमा के लिए काफी अच्छा है। इसका इस्तेमाल सर्दी होने पर भी किया जा सकता है

मच्छरों से बचाव (mustard oil for mosquitos in hindi)

अगर आप अपने शरीर पर सरसों के तेल लगाते हैं तो ये आपके लिए काफी अच्छा है। इसकी तेज सुगंध की वजह से मच्छर आपके पास नहीं भटकते और ऐसे में डेंगू, मलेरिया जैसे मच्छरों से बचा जा सकता है।

सरसों का तेल मालिश के लिए (sarson ke tel ki malish in hindi)

सरसों के तेल की तासीर गर्म होती है। इससे शरीर मे मालिश करने से मांसपेशियां मजबूत होती है और रत्त संचार भी शरीर में सही ढ़ंग से होता है। इससे शरीर फुर्तीला बनता है और थकान महसूस नहीं होती।

दांतों के दर्द में (sarson ka tel for tooth pain in hindi)

सरसों का तेल दांत के दर्द में भी काफी फायदेमंद होगा। सरसों के तेल में नमक मिलाकर लगाने से दांत मजबूत भी होते हैं। इसके लिए रोजाना हलके हाथों से सरसों के तेल में नमक मिलकर दाँतों की मालिश करनी चाहिए।

सरसों के तेल से सम्बंधित या अन्य किसी विषय के बारे में अधिक जानकारी के लिए आप अपना सवाल नीचे कमेंट में पूछ सकते हैं। 

About the author

प्रीति

8 Comments

Click here to post a comment

    • कई लोग सब्जी पकाने के लिए सरसों का तेल इस्तेमाल करते हैं. आप जरूर ऐसा कर सकते हैं.

  • main roz baalon mein sarson kaa tel lagaata hoon isse mere baal strong rehte hain and mere baal strong or smooth bhi rehte hain

    • सरसों का तेल बालों के लिए बहुत ही उपयोगी होता है. आप रोजाना इसका इस्तेमाल करत्ते रहे.

  • mere baal safed hote jaaa rahe hain kya sarson kaa tel lagaane se ye fir se kaale ho sakte hian and mujhe hairfall problem bhii hai kya sarson ka tel use karna chaahiye?

  • अगर खेलते समय हमारे पैर मुद जाता है और चोट लग जाती है तो सरसों के तेल से मालिश करने से वह सही हो सकती है क्या?

  • Mujhw bhookh nahi lagne ki problem hai kyaa aap bata sakte hain ki mujhe sarson ke tel ko kaise consume karna chahiye is problem ko solve karne ke liye

  • SOME PEOPLE SAYS THAT MUSTARD OIL WHEN MEXED WITH TURMARIC, ALLUM AND LAHORI SALT AND PASTE OF THESE THREE WHEN RUBBED ON GUMS GET QUICK RELIEF IN TOOT PAIN. I WANT TO KNOW WHAT IS THE CORRECT METHOD.

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!