Fri. Jul 19th, 2024
    समीर वर्मा

    भारत के बैडमिंटन खिलाड़ी समीर वर्मा को मेलेशियन ओपन यूएसडी 750,000 इनामी वाले टूर्नामेंट के अपने पहले मुकाबले में विश्व नंबर दो खिलाड़ी चीन के शी यूकी से हार का सामना करना पड़ा।

    24 वर्षीय मध्य-प्रदेश के इस खिलाड़ी को इससे पहले पिछले साल दिसंबर में बीडबल्यूएफ वर्ल्ड टूर के फाइनल मुकाबले में भी चीन के शी यूकी से हार का सामना करना पड़ा था और मंगलवार को मलेशियन ओपन के अपने पहले मुकाबले में 65 मिनट तक चले मैच में उन्हे 20-22, 23-21, 12-21 से हार का सामना करना पड़ा।

    प्रणव जैरी चोपड़ी और एन सिक्की ने अपने अभियन की शुरुआत एक सकारात्मक रूप में की है और उन्होने मिक्सड डबल्स में आयरलैंड की सैम मैगी और क्लो मैगी को 22-20, 24-22 से मात दी है।

    पुरुष एकल मैच 8-8 के अंक तक एक करीबी मैच रहा। उसके बाद वर्मा शी यूकी से 11-16 से पीछे हो गए लेकिन बाद में उन्होने कुछ अंक लगातार लिए और स्कोर को 20-20 पर लाकर खड़ा किया। लेकिन वह उनके कोर्ट में एक और स्मैश नही लगा पाए जिससे उन्हे पहले सेट में 20-22 से हार का सामना करन पड़ा था।

    दूसरे मैच में भी कुछ अलग देखने को नही मिला और वर्मा फिर 11-16 से पीछे थे लेकिन मैच को आखिरी तक लेकर जाने वाले वर्मा ने मैच में गेम प्वाइंट अपने नाम किया और उन्होने 23-21 से मुकाबला जीत लिया।

    तीसरे सेट में यूकी ने पहले ही 9-0 से बढ़त बना ली थी। जिसके बाद भारतीय खिलाड़ी को मैच में वापसी करने का कोई मौका नही मिला और वह 12-21 के अंतर से मैच हार गए।

    आल इंग्लैंड चैंपियनशिप में भी मिली थी हार

    समीर के लिए, पिछले साल इस टूर्नामेंट से अपने अभियान की शरूआत की थी और वर्ल्ड टूर के सेमीफाइनल तक पहुंचे थे। वह उस समय अपने करियर की उच्च रैंकिंग 11वे स्थान पर थे।

    समीर नें उस टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में ऑल इंग्लैंड चैंपियन केंटो मोमोता को हरा दिया था, जब वह कुछ महीने पहले विश्व के नंबर-एक खिलाड़ी बने थे और पिछले साल विश्व चैंपियन रहे थे।

    By अंकुर पटवाल

    अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *