Wed. Apr 24th, 2024
    rhombus in hindi, properties समचतुर्भुज क्षेत्रफल, परिमाप

    विषय-सूचि

    समचतुर्भुज की परिभाषा (definition of rhombus in hindi)

    समचतुर्भुज एक ऐसी समतल आकृति होती है जिसकी चारों भुजाएं सामान होती हैं। 

    आकृति 1 

    समचतुर्भुज की विशेषताएं (properties of rhombus in hindi)

    • समचतुर्भुज की चारों भुजाएं सामान होती हैं।
    • जैसा की आकृति 1 में दिया गया है  AB=BC=CD=DA
    • अगर एक समचतुर्भुज में सभी कोण 90 अंश के होता हैं तो वह एक वर्ग बन जाता है।
    • एक समचतुर्भुज में विकर्ण अपने विपरीत विकर्ण को समकोण पर सम्द्विभाजित करते हैं।

    • एक समचतुर्भुज में दो आसन्न कोणों का योग एक पूरक कोण होता है।
    • समचतुर्भुज के चारों कोणों का योग 360 अंश होता है।
    • एक समचतुर्भुज में चारीं भुजाएं सर्वांगसम होती हैं एवं ये दो समद्विबाहु त्रिभुज बनाती हैं।

    समचतुर्भुज का क्षेत्रफल (area of rhombus in hindi)

    पहला तरीका : जब आधार एवं ऊंचाई दी गयी हो। 

    समचतुर्भुज का क्षेत्रफल समान्तर चतुर्भुज के क्षेत्रफल के सामान होता है। हम इसका क्षेत्रफल आधार और ऊंचाई को गुना करके निकाल सकते हैं।

    समचतुर्भुज का क्षेत्रफल = आधार * ऊंचाई 

    यहाँ आधार के रूप में हम चतुर्भुज कि कोई भी भुजा ले सकते हैं एवं ऊंचाई किनहीं दो विपरीत भुजाओं में दूरी होती है।

    दूसरा तरीका : जब विकर्ण दे रखें हों। 

    समचतुर्भुज का क्षेत्रफल = 1/2 * (d1 * d2)

    यहाँ d1 = पहले विकर्ण कि लम्बाई एवं  d2 = दुसरे विकर्ण की लम्बाई

    उदाहरण:

    1. इस समचतुर्भुज का क्षेत्रफल ज्ञात करें।

    हल:

    दिए गए चित्र में,

    PR = d1= 24 सेमी

    SQ = d2 = 18 सेमी

    अतः समचतुर्भुज PQRS का क्षेत्रफल 216 सेमी2  है।

    समचतुर्भुज का परिमाप (perimeter of rhombus in hindi)

    एक समचतुर्भुज का परिमाप इसकी चारों भुजाओं के योग जितना होता है। जैसा कि हम जानते हैं कि समचतुर्भुज की चारों भुजाएं सामान होती हैं तो हम कोई भी एक भुजा को लेकर उसको 4 से गुना करने पर भी परिमाप निकाल सकते हैं।

    चतुर्भुज का परिमाप = 4*s

    यहाँ s का मतलब समचतुर्भुज कि कोई भी एक भुजा हो सकती है।

    समचतुर्भुज के विकर्ण (diagonals of rhombus in hindi)

    एक समचतुर्भुज के विकर्ण एक दुसरे के लम्बवत द्विभाजक होते हैं। नीचे दिए गए समचतुर्भुज PQRS में PR एवं QS विकर्ण एक दुसरे को समकोण पर द्विभाजित करते हैं।

    समचतुर्भुज एवं समान्तर चतुर्भुज (rhombus and parallelograms in hindi)

    एक समचतुर्भुज एक विशेष प्रकार का समान्तर चतुर्भुज होता है जिसकी चारों भुजाएं सामान होती हैं। एक समचतुर्भुज के विकर्ण एक दुसरे के लम्बवत द्विभाजक होते हैं।

    एक समचतुर्भुज समान्तर चत्तुर्भुज हो सकता है लेकिन एक समान्तर चतुर्भुज का समचतुर्भुज होना संभव नहीं है।

    इस लेख से सम्बंधित यदि आपका कोई भी सवाल या सुझाव है, तो आप उसे नीचे कमेन्ट में लिख सकते हैं।

    By विकास सिंह

    विकास नें वाणिज्य में स्नातक किया है और उन्हें भाषा और खेल-कूद में काफी शौक है. दा इंडियन वायर के लिए विकास हिंदी व्याकरण एवं अन्य भाषाओं के बारे में लिख रहे हैं.

    30 thoughts on “समचतुर्भुज का क्षेत्रफल, परिमाप, विशेषता, नियम, सूत्र”
    1. समचतुर्भुज का परिमाप का सूत्र कैसे लगाना है?

        1. First we find side of rhombos …formula for find out side in under root (half of 1st diogonal and its square+half of sec diagonal and its square)….after finding out of side….we can apply it’s perimiter formula which is 4×side…

    2. samchaturbhuj ka parimap nikalne ka aur koi tareeka hai kya? yadi ek circle ke andar samchaturbhuj hai aur circle ki radius di gayi hai, to samchaturbhuj ka parimap kaise nikalna hai?

    3. समचतुर्भुज का एक विकर्ण यदिउसकी एक भुज के बराबर हो तो उसकी अन्तःकोणो का मान बताइये

    4. यदि सम चतुर्भुज की भुजा और एक विकर्ण दिया हो क्षेत्रफल कैसे निकलेगा?

    5. अगर एक समचतुर्भुज के एक विकर्ण भुजा के बराबर है तो सभी अन्तः कोणों के मान ज्ञात करो।

    6. जब एक भुजा और एक विकर्ण दे रखा हो तो दूसरा विकर्ण कैसे निकालेंगे?

    7. अगर समचतुर्भुज का परिमाप दिया हो ।और एक विकर्ण दिया हो तो दूसरा विकर्ण कैसे ज्ञात करे

    8. जब समचतुर्भज में परिमाप निकलना हो और दोनों विकर्ण ज्ञात हो तो प्रश्न कैसे हल होगा
      तथा कई उदाहरण के साथ ….. हल करें।

      1. जब समचतुर्भज में परिमाप निकलना हो और दोनों विकर्ण ज्ञात हो तो प्रश्न कैसे हल होगा
        तथा कई उदाहरण के साथ ….. हल करें।

    9. 12 फिट के पाइप को एक दीवार से 60 के कोण बनाने पर उस दीवार की हाइट क्या बनती है

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *