Wed. Oct 5th, 2022
    आज फिर पांच दिनों के लिए खुले सबरीमाला मंदिर के कपाट, बढ़ाये गए सुरक्षा इंतेज़ाम

    सबरीमाला मंदिर के आस-पास फिर विवाद बढ़ गया है क्योंकि मंदिर आज पांच दिनों के लिए खुल रहा है। बीते कुछ दिनों में, भगवान अयप्पा के मंदिर में भारी विरोध प्रदर्शन देखा गया क्योंकि मासिक धर्म की दो महिलाओं ने मंदिर में प्रवेश कर लिया था।

    सोमवार को मंदिर के अधिकारियों ने कहा कि कुंबम के मलयालम महीने के दौरान मासिक पूजा के लिए 17 फरवरी तक पहाड़ी मंदिर खोला जाएगा। मुख्य पुजारी वासुदेवन नम्पुथिरि द्वारा आज शाम खोले गए पवित्र स्थान मंदिर में पांच दिनों के दौरान ‘कलशाभिषेकम’, ‘सहस्रकालसम’ और ‘लक्षार्चन’ सहित कई विशेष अनुष्ठान किए जाएंगे।

    उन्होंने आगे कहा कि तंत्री कन्दरारु राजीवारु भी पूजा के समय उपस्थित होंगे।

    राज्य पुलिस ने कई दक्षिण पंथी संगठनों द्वारा मासिक धर्म की महिलाओं के प्रवेश के खिलाफ विरोध प्रदर्शन को देखते हुए सुरक्षा इंतेज़ाम कर लिए हैं। उन्होंने कहा कि कुछ जगहों पर प्रतिबन्ध लगा दिए गए हैं ताकी श्रद्धालु आराम से दर्शन कर पाए।

    आधिकारिक बयान के अनुसार, “ठुलामासा पूजा के वक़्त विभिन्न संगठनों द्वारा किये गए विरोध प्रदर्शन और मासिक धर्म की महिलाओं के मंदिर में प्रवेश के सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ हुए विरोध को देखते हुए, श्रद्धालुओं के आरामदायक दर्शन के लिए कुछ जगहों पर प्रतिबन्ध लगाये गए हैं।”

    भाजपा और संघ परिवार दल जिन्होंने सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ इतना भारी विरोध प्रदर्शन किया था, उन्होंने अभी तक खुलासा नहीं किया है कि क्या वे जवान महिलाओं को रोकने की कोशिश करेंगे।

    दो महीने तक चलने वाले तूफानी वार्षिक तीर्थयात्रा के मौसम की परिणति को चिह्नित करते हुए, भगवान अयप्पा मंदिर को 20 जनवरी को बंद कर दिया गया था।

    By साक्षी बंसल

    पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.