Sun. Jul 21st, 2024
    श्रेयस अय्यर

    शानदार बल्लेबाजी करने वाले बल्लेबाज श्रेयस अय्यर इस समय एक अच्छे फॉर्म में चल रहे है। हाल में खत्म हुए सैयद मुश्ताक अली टी-20 टूर्नामेंट में उन्होने 60.5 की औसत और 152.50 की स्ट्राइक रेट से 484 रन बनाए। इस दौरान उन्होने दो शतक भी लगाए। एक शतक उन्होने सिक्किम के खिलाफ लगाया, जिसमें उन्होने 55 गेंदो में नाबाद 147 रन की पारी खेली (जो किसी भारतीय द्वारा सबसे अधिक स्कोर था) और दूसरा शतक मध्य प्रदेश के खिलाफ 55 गेंदो में 103 रन की नाबाद पारी के साथ बनाया।

    भारतीय सीमित ओवरों की टीम के साथ अपने छोटे कार्यकाल के दौरान, श्रेयस ने पांच पारियों में 9, 88, 65, 18 और 30 के स्कोर के साथ काफी अच्छा प्रदर्शन किया, जिसमें उन्हें बल्लेबाजी करने का मौका मिला। 42 की औसत और 96.33 की स्ट्राइक रेट से। मुंबई के बल्लेबाज के लिए अच्छा रहा।

    30 रन की पारी दक्षिण-अफ्रीका के खिलाफ पोर्ट एलिजाबेथ में उनकी भारतीय राष्ट्रीय टीम से आखिरी पारी थी, जिसके बाद वह चयनकर्ताओ के रडार से बाहर हो गए थे। 24 वर्षीय यह खिलाड़ी बहुत कम समय तक भारतीय जर्सी में दिख पाया। अय्यर जो आगामी आईपीएल सत्र में दिल्ली कैपिटल्स का नेतृत्व करेंगे उनका मानना है कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उनको अपनी साख को साबित करने के लिए पर्याप्त मौके नही मिले।

    श्रेयस ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया, ” हां मुझे ऐसा ही लगा। अगर मेरी जगह इस स्थान पर कोई और खिलाड़ी भी होता तो वह भी यह महसूस करता। आपका अंतिम लक्ष्य अपने देश के लिए खेलना है। मैं बहुत निराश था जब मुझे टीम से ड्रॉप किया गया था और मुझे ज्यादा मौके नही दिये गए थे। लेकिन फिर भी जब आप अपनी टीम को टीवी में जीतते हुए देखते हो तो इससे बहुत संतुष्टि मिलती है।”

    अभी तक भारतीय टीम में नंबर चार के लिए कोई भी खिलाड़ी पक्का नही है। टीम प्रबंधन ने इस स्थान पर ऋषभ पंत, दिनेश कार्तिक, अंबाती रायडू और विजय शंकर को मौके दिए है लेकिन कोई भी इस स्थान पर अपनी जगह पक्का नही कर सका है।

    श्रेयस अय्यर जिनके पास 52.18 का फर्स्ट-क्लास औसत है उन्हे टीम में किसी भी स्थिति में सफल होने का विश्वास है।  उन्होने कहा, “मैं अपने आप को किसी भी नंबर पर सफल कर सकता हूं। मैं बस अपने मौके का इंतजार कर रहा हूं।”

    By अंकुर पटवाल

    अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *