शुक्रवार, दिसम्बर 13, 2019

श्रीलंका राष्ट्रपति चुनाव में चुनाव आयोग की मतदाताओं से बूथ के अंदर तस्वीरें नहीं लेने की अपील

Must Read

‘मर्दानी 2’ में रानी मुखर्जी के काम की ट्विटर पर सराहना

गोपी पुथरण निर्देशित फिल्म 'मर्दानी 2' शुक्रवार को रिलीज की गई। फिल्म में रानी मुखर्जी मुख्य किरदार में हैं।...

चिली विमान हादसे में किसी के बचने की उम्मीद कम

चिली की वायुसेना ने कहा है कि अधिकारियों ने अंटार्कटिका के लिए रवाना हुए 38 लोगों के साथ दुर्घटनाग्रस्त...

झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 : अब संथाल, कोयलांचल में बिछेगी सियासी बिसात

झारखंड विधानसभा चुनाव के तीन चरणों का मतदान समाप्त हो जाने के बाद अब दो चरणों का मतदान शेष...

श्रीलंका के चुनाव आयोग (ईसी) ने शनिवार को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के दौरान मतदाताओं को मतदान केंद्रों के भीतर फोटो खींचने या वीडियो नहीं बनाने की अपील की और चेतावनी दी है कि उल्लंघन करने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा। डेली फाइनेंशियल टाइम्स ने गुरुवार को ईसी चेयरमैन महिंदा देशप्रिया के हवाले से कहा, “यह एक गुप्त मतदान है, और किसी को भी अपने चिन्हित या गैर-चिन्हित मतपत्रों की तस्वीरें नहीं लेनी चाहिए और उन्हें सोशल मीडिया पर पब्लिश नहीं करना चाहिए।”

उन्होंने मतदान केंद्र में प्रवेश करने समय मतदाताओं को अपने मोबाइल फोन बंद करने की सलाह भी दी है।

इस तरह की चीजों को प्रतिबंधित करने वाला एक सरकारी अधिसूचना दो सप्ताह पहले चुनाव आयोग द्वारा जारी की गई थी।

लगभग 1.6 करोड़ की आबादी वाले श्रीलंका की जनता शनिवार को देश के आठवें राष्ट्रपति का चुनाव करने के लिए वोट डालेगी, जिसमें रिकॉर्ड संख्या में 35 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं।

चुनाव देश के इतिहास में सबसे महंगा भी होगा, चुनाव आयोग ने अनुमान लगाया है कि इसकी लागत 7.5 अरब श्रीलंकाई रुपये (4.1 करोड़ डॉलर) है।

डेली फाइनेंशियल टाइम्स ने कहा कि 26 इंच का बैलेट पेपर, बड़े बैलेट बॉक्स, चुनाव ड्यूटी पर सैकड़ों अतिरिक्त कर्मचारी और पानी, टेलीफोन और बिजली के बिल जैसे अतिरिक्त खर्च ऐसे कारक हैं, जिन्होंने चुनावी बिल को बढ़ा दिया है।

इस बीच, आठ अक्टूबर को शुरू हुआ चुनाव प्रचार बुधवार मध्यरात्रि को थम गया।

चुनाव में दो प्रमुख उम्मीदवार आवासीय एवं निर्माण मंत्री साजित प्रेमदासा और पूर्व रक्षामंत्री गोतबया राजपक्षे शामिल हैं।

चुनाव आयोग ने कहा कि 60,000 से अधिक पुलिस कर्मियों को चुनाव ड्यूटी के लिए तैनात किया गया है, जबकि कुछ क्षेत्रों में सशस्त्र बलों के सदस्य भी तैनात किए जाएंगे।

देशप्रिया ने कहा कि आज तक कोई बड़ी चुनावी हिंसा नहीं हुई है और आयोग शनिवार को शांतिपूर्ण ढंग से चुनाव के संपन्न होने की उम्मीद कर रहा है।

उन्होंने राजनीतिक दलों से किसी भी उल्लंघन को रोकने और स्वतंत्र और निष्पक्ष मतदान सुनिश्चित करने का आग्रह किया।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

‘मर्दानी 2’ में रानी मुखर्जी के काम की ट्विटर पर सराहना

गोपी पुथरण निर्देशित फिल्म 'मर्दानी 2' शुक्रवार को रिलीज की गई। फिल्म में रानी मुखर्जी मुख्य किरदार में हैं।...

चिली विमान हादसे में किसी के बचने की उम्मीद कम

चिली की वायुसेना ने कहा है कि अधिकारियों ने अंटार्कटिका के लिए रवाना हुए 38 लोगों के साथ दुर्घटनाग्रस्त सैन्य विमान से किसी भी...

झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 : अब संथाल, कोयलांचल में बिछेगी सियासी बिसात

झारखंड विधानसभा चुनाव के तीन चरणों का मतदान समाप्त हो जाने के बाद अब दो चरणों का मतदान शेष है। शेष दो चरणों के...

अरुणाचल के लोवर डिबांग वैली में जेके टायर ऑरेंज 4गुणा4 फ्यूरी शुरू

देश की सबसे कठिन और सबसे रोमांचक ऑफ रोडिंग प्रतियोगिताओं में से एक जेके टायर ऑरेंज 4गुणा4 फ्यूरी का शुक्रवार को यहां लोवर डिबांग...

पाकिस्तान : लाहौर अस्पताल हमला मामले में 250 वकीलों पर मुकदमा

पुलिस ने लाहौर में पाकिस्तान इंस्टीट्यूट ऑफ कार्डियोलॉजी (पीआईसी) पर हमला करने और संपत्ति को लूटने के लिए विभिन्न आपराधिक आरोपों के तहत 250...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -