आतंकवाद से निपटने में श्रीलंका की मदद करेगा अमेरिका, दिया 4.8 करोड़ डॉलर मदद का प्रस्ताव

अमेरिकी राज्य सचिव माइक पोम्पिओ

अमेरिका ने गुरूवार को आतंकवाद से लड़ने में श्रीलंका का सहयोग की प्रतिबद्धता को दोहराया है। श्रीलंका में बीते माह ईस्टर के जश्न के दिन आठ स्थानों में भयावह आतंकी बम विस्फोट हुआ था जिसमे करीब 250 लोगो की मृत्यु हुई थी और 500 से अधिक लोग बुरी तरह घायल हुए थे।

अमेरिका के राज्य सचिव माइक पोम्पिओ ने गुरूवार को श्रीलंका के विदेश मंत्री तिलक मेरापना से मुलाकात की थी। दोनों नेताओं ने उच्च स्तर की बैठक में शिरकत की थी जिसका फोकस सुरक्षा, आतंक रोधी और अन्य मामलो में ट्रांसनेशनल अपराध पर था।

बयान में राज्य विभाग ने कहा कि “राज्य सचिव ने श्रीलंका में बीते माह हुए हमले की अमेरिकी निंदा को दोहराया है, जिसमे पांच अमेरिकी नागरिकों की भी मौत हुई थी। आतंकवाद से लड़ने में श्रीलंका को अमेरिका का मज़बूत सहयोग है।”

श्रीलंका के विदेश मंत्री ने अमेरिका के समर्थन की सराहना की है और भविष्य में हमले को होने से रोकने के लिए सहयोग को मज़बूत करना श्रीलंका के हित में हैं। 4.8 करोड़ डॉलर पर मिलेनियम चैलेंज कॉर्पोरेशन की मंज़ूरी का मरापना और पोम्पिओ ने स्वागत किया है। श्रीलंका की आर्थिक सम्प्रभुता और समृद्धता में योगदान का एक महत्वपूर्ण भाग है।

एमसीसी अमेरिका की एक अभिनव और स्वतंत्र विदेश सहायता समूह है जो वैश्विक गरीबी को कम करने में मदद करता है, आर्थिक वृद्धि के विस्तार के लिए सीमित समयसीमा के लिए अनुदान मुहैया करता है और संस्थानों को मज़बूत करता है।

डेली मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक, दोनों अधिकारीयों और दोनों देशों के प्रतिनिधियों ने इंडो-पैसिफिक की रणनीति, सेना से सेना के सम्बन्ध, श्रीलंका और एशियाई क्षेत्र, श्रीलंका में शान्ति स्थापित करने वाली क्षमता के सहयोग और सेना समझौता पर चर्चा की जाएगी।

घातक आतंकी हमले में तीन चर्चो और तीन आलिशान होटलो पर आतंकी हमला किया था। यह कोलोंबो, नेगोम्बो, कोच्चिकेडे और बट्टिकाला के शहरो में हुआ था।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here