शेयर बाजार: मुनाफावसूली के चलते सेंसेक्स, निफ्टी फिसले

0
शेयर बाजार share market in hindi
bitcoin trading

मुंबई, 31 मई (आईएएनएस)| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई मे नई सरकार बनने के बाद शुक्रवार को देश के शेयर बाजार के प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सत्र के मुकाबले 177.77 अंकों यानी 0.30 फीसदी की गिरावट के साथ 39,714.20 पर बंद हुआ और निफ्टी भी 23.10 अंकों यानी 0.19 फीसदी फिसलकर 11,922.80 पर रहा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में गठित नए मंत्रिमंडल में पूर्व रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण को वित्तमंत्री बनाया गया है। उनको कॉरपोरेट कार्य मंत्रालय का जिम्मा भी सौंपा गया है। बाजार में इससे पहले कयास लगाया जा रहा था कि वित्त मंत्रालय का जिम्मा पीयूष गोयल या भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को दिया जा सकता है। लिहाजा, इस फैसले से निवेशक अचंभित हो गए।

हालांकि कारोबार के आरंभ में दोनों संवेदी सूचकांकों में जोरदार तेजी देखी गई और ये अपनी रिकॉर्ड ऊंचाइयों के करीब पहुंच गए। मगर, दोपहर बाद के सत्र के दौरान मुनाफावसूली के कारण बीएसई संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 40,000 के मनोवैज्ञानिक स्तर से फिसलकर नीचे आ गया। वहीं, एनएसई का संवेदी सूचकांक निफ्टी भी 12,000 के मनोवैज्ञानिक स्तर से नीचे गिर गया।

कारोबार के आंरभ में बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सत्र के मुकाबले तेजी के साथ 39,998.91 पर खुला और 40,122.34 तक उछला। इससे पहले सेंसेक्स 23 मई को लोकसभा चुनाव की मतगणना के दौरान आए रुझानों से उत्साहित होकर 40,124.96 तक उछला था जोकि इसका रिकॉर्ड ऊंचा स्तर है। कारोबार के दौरान सेंसेक्स रिकॉर्ड स्तर के करीब पहुंच गया, हालांकि इसका निचला स्तर 39,374.24 रहा।

नेशनल स्टॉक एसक्सचेंज का 50 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक निफ्टी सुबह तेजी के साथ 11,999.80 पर खुला और करोबार के दौरान 12,039.25 तक उछला जबकि निचला स्तर 11,829.45 रहा। पिछले सत्र में निफ्टी 11,945.90 पर बंद हुआ था जबकि निफ्टी सर्वाधिक उंचा स्तर 12,041.15 का 23 मई को छुआ था।

बीएसई मिड-कैप सूचकांक तेजी के साथ बंद हुआ जबकि स्मॉल-कैप सूचकांक में गिरावट दर्ज की गई। मिड-कैप सूचकांक पिछले सत्र के मुकाबले 34.83 अंकों यानी 0.23 फीसदी की तेजी के साथ 15,096.18 पर बंद हुआ जबकि स्मॉल कैप सूचकांक 97.11 अंकों यानी 0.65 फीसदी की गिरावट के साथ 14,867.04 पर बंद हुआ।

सेंसेक्स में सबसे ज्यादा तेजी वाले शेयरों में एशियन पेंट्स (2.43 फीसदी), टीसीएस (2.40 फीसदी), एचसीएल टेक (1.52 फीसदी), ओएनजीएस (1.30 फीसदी) और इंडसइंड बैंक (1.16 फीसदी) शामिल रहे। इ

सेंसेक्स में सबसे ज्यादा गिरावट वाले शेयरों में यसबैंक (4.27 फीसदी), पावरग्रिड (3.61 फीसदी), एमएंडएम (2.17 फीसदी), वीईडीएल (2.01 फीसदी) और एनटीपीसी (1.59 फीसदी) शामिल रहे।

बीएसई के 19 सेक्टरों के सूचकांकों में से 13 में गिरावट दर्ज की गई जबकि छह में तेजी रही। सबसे ज्यादा गिरावट वाले सेक्टरों में पावर (1.26 फीसदी), मेटल (1.07 फीसदी), एफएमसीजी (1.03 फीसदी), युटिलिटी (0.76 फीसदी) और ऑटो (0.70 फीसदी) व बेसिक मैटेरियल्स सेक्टर (0.70 फीसदी) शामिल रहे।

सर्वाधिक तेजी वाले सेक्टरों में सूचना प्रौद्योगिकी (1.19 फीसदी), टेक (1.07 फीसदी), तेल व गैस (0.88 फीसदी), दूरसंचार (0.38 फीसदी) और ऊर्जा (0.27 फीसदी) शामिल रहे।

बीएसई पर कुल 2,935 प्रतिभूतियों में कारोबार हुआ जिनमें से 1,106 में तेजी रही जबकि 1,663 में गिरावट दर्ज की गई और 166 में कारोबार के अंत में कोई बदलाव नहीं दर्ज किया गया।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here