Sat. Jun 22nd, 2024

    मुंबई, 8 जुलाई (आईएएनएस)| घरेलू शेयर बाजार में सोमवार को बिकवाली के भारी दबाव में बेंचमार्क शेयर संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 900 अंक से ज्यादा लुढ़क गया। एनएसई के प्रमुख संवेदी सूचकांक निफ्टी में भी 288 अंकों की गिरावट दर्ज की गई। बंबई स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स अपराह्न् 13.10 बजे पिछले सत्र की क्लोजिंग से 793.71 अंक यानी 2.01 फीसदी लुढ़ककर 38,719.68 पर कारोबार कर रहा था। इससे पहले सेंसेक्स 39,000 के मनोवैज्ञानिक स्तर से नीचे गिरकर 38,605.48 पर आ गया, जबकि सत्र के आरंभ में सेंसेक्स मामूली गिरावट के साथ 39,476.38 पर खुला था।

    नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का 50 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक निफ्टी भी 264.55 अंकों यानी 2.24 फीसदी की भारी गिरावट के साथ 11,546.60 पर कारोबार कर रहा था, जबकि इससे पहले निफ्टी 11,523.30 तक लुढ़का। सत्र के आरंभ में निफ्टी भी पिछले सत्र के मुकाबले कमजोरी के साथ 11,770.40 पर खुला और 11,771.90 तक उठा। मगर बिकवाली का दबाव बढ़ने के कारण सूचकांक लुढ़क गया।

    अमेरिका में पिछले सप्ताह जॉब डेटा मजबूत आने से अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दर में कटौती की संभावना कम होने से एशियाई बाजारों में नकरात्मक रुझान रहा। इसके अलावा, पिछले सप्ताह शुक्रवार को संसद में पेश किए गए आम बजट 2019-20 के प्रावधानों को लेकर निवेशकों में असमंजस की स्थिति बरकरार है, जिसके कारण घरेलू शेयर बाजार में नकारात्मक रुझान देखने को मिला।

    बाजार के जानकार बताते हैं कि खासतौर से सरकार द्वारा शेयर बायबैक पर कर लगाने और सूचीबद्ध कंपनियों में न्यूनतम पब्लिक शेयरहोल्डिंग बढ़ाने की घोषणा से घरेलू निवेशकों में निराशा का माहौल बना है।

    By पंकज सिंह चौहान

    पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *