Thu. Dec 8th, 2022
    शीशम का तेल बालों के लिए

    शीशम के तेल को तिल के तेल के नाम से भी जाना जाता है। यह बहुत पोषण प्रदान करने वाला, मरम्मत देने वाला और चिकनाई देता है। घर में कुकिंग तेल की तरह इस्तेमाल करे जाने के अलावा इसके कई फ़ायदे है, जैसे सौंदर्य प्रदान करना।

    शीशम का तेल आमतौर पर बालों कि लंबाई बढ़ाने के काम आता है। इसमें विटामिन ई, बी कॉम्प्लेक्स और खनिज पदार्थ होते है जैसे मैग्नेशियम, कैल्शियम, फास्फोरस, और प्रोटीन जो बालों को जड़ों से मजबूत बनाता है और पोषण प्रदान करता है।

    विषय-सूचि

    शीशम के तेल का बालों के लिए फ़ायदे:

    • बालों को जल्दी सफेद होने से रोकना

    शीशम के तेल की सिर में या बालों में मालिश करने से बाल जल्दी सफेद नहीं होते, और बालों का प्राकृतिक रंग लंबे समय तक रहता है। बल्कि शीशम का तेल बालों को अधिक काला करता है। प्रतिदिन तेल का प्रयोग करने से बाल काले व स्वस्थ रहते है।

    • शीशम का तेल बालों की लंबाई बढ़ाए

    शीशम का तेल सिर में खून का प्रसार बढ़ाता है और बालों कि लंबाई बढ़ाता है। यह बालों कि जड़ों में प्रवेश करके रासायनिक नुक़सान को ठीक करता है।

    • बालों को हानिकारक किरणों से बचाना

    शीशम का तेल का एक मुख्य फायदा ये है कि यह प्राकृतिक तरीके से सूर्य की किरणों को रोकता है। शीशम का तेल सिर और बालों में लगाने से बालों में हुई क्षति की मरम्मत होती है।

    शीशम का तेल बालों की जड़ों के चारो तरफ एक सुरक्षात्मक परत बन जाती है जिससे कि बालों को सूर्य की हानिकारक किरणों से नुकसान नहीं पहुंचता। यह बालों को प्रदूषण के बुरे प्रभाव से भी बचाता है।

    • शीशम का तेल सिर से जूं निकालता है

    शीशम के तेल का एक अन्य फायदा यह है कि इसको किसी और तेल के साथ मिला कर सिर से जूं निकाली जा सकती है।

    सिर में शैंपू करने से पहले प्रतिदिन तेल का इस्तेमाल करना चाहिए। शीशम का तेल जीवाणुरोधक होता है और यदि इसका इस्तेमाल करे तो जीवाणुओं के संक्रमण से बचे रहते है।

    • आराम देना

    शीशम का तेल बालों को आराम और शांति देता है। तेज आवाज से बालों की कूप को बहुत नुक़सान पहुंचता है। शीशम का तेल शीतलता प्रदान करता है और सिर को अंदर व बाहर से पोषण प्रदान करता है। ये नमी को अंदर संजोए रखता है और नुक़सान होने से बचाता है।

    • रूसी के लिए शीशम का तेल

    शीशम का तेल हर रोज रात में सोने से पहले लगाने पर रूसी को खत्म कर देता है, सिर को आराम देता है और बाद में होने वाले नुक़सान से भी बचाता है।

    • रूखेपन के लिए शीशम का तेल

    रूखेपन को दूर करने के लिए जड़ का रस, शीशम का तेल और नींबू का रस मिलाकर लगाएं। आप इसको अपनी उंगलियों की मदद से अपने सारे सिर पर लगा सकते है।

    इसे रात भर के लिए छोड़ दे और अगली सुबह धो ले, और अधिक बेहतर परिणाम के लिए एक तौलिए को पानी में भिगोकर उसे निचोड़ लें और उसको सिर पर 30 मिनट तक लगा कर रखे और फिर अपने बालों को धो लें।

    पैदा हुई ऊष्मा तेल को खोपड़ी में प्रवेश करने में मदद करती है।

    • बालों में चमक लाने के लिए शीशम का तेल

    2-3 बूंद तेल अपनी हथेलियों पर लगाकर सिर में लगाए। यह चमक देने के साथ – साथ मजबूती भी देता है।

    • बालों को मजबूती देने के लिए शीशम का तेल

    इस तेल को किसी कंडीशनर के साथ मिलाकर गरम कर लें। इसे बालों में लगाकर एक घंटे के लिए छोड़ दे। अच्छे परिणाम के लिए इसे रात भर के लिए छोड़ दे।

    • क्षतिग्रस्त बालों में जान डालना

    तेल बालों की जड़ों के अंदर तक जाकर उनमें जान डालता है और पोषण प्रदान करता है।

    शीशम के तेल को बालों के लिए कैसे प्रयोग करें?

    शीशम और बादाम का तेल

    सामग्री

    • 2 चम्मच शीशम का तेल
    • 2 चम्मच बादाम का तेल
    • गरम तौलिया

    प्रक्रिया

    • शीशम और बादाम के तेल को एक बर्तन में मिला ले।
    • अपनी उंगलियों की मदद से तेल को सिर पर लगाएं और बालों में लगाकर छोड़ दे। ध्यान रखे की यह बालों कि पूरी लंबाई पर लगा हुआ हो।
    • बालों में ये तेल लगाकर इन पर तेल लगा ले। आप तौलिए को गरम पानी में भिगोकर भी लगा सकते है।
    • इसे 30 – 40 मिनट तक लगाकर छोड़ दे और फिर इसे शैंपू से धो लें।

    काम करने की विधि

    बादाम का तेल बिना बालों के वज़न को कम करे उनको मजबूरी प्रदान करता है। इसमें ओमेगा-3 फैटी एसिड, मैग्नेशियम और विटामिन ई होता है।

    एलोवेरा और शीशम का तेल

    सामग्री

    • 2 चम्मच एलोवेरा जेल
    • 2 चम्मच शीशम का तेल
    • एक बर्तन

    प्रक्रिया

    • एक बर्तन में एलोवेरा जेल को शीशम के तेल के साथ मिला ले। इसको थोड़ी देर तक गरम करके ठंडा होने के लिए रख दे।
    • इसे अपने सिर और बालों में लगाएं और 30-45 मिनट तक छोड़ दे।
    • अब इसे शैंपू से धो लें।

    काम करने की विधि

    शीशम का तेल और एलोवेरा दोनों ही सूर्य की हानिकारक किरणों से रक्षा करता है। इसका इस्तेमाल करने से बालों की जड़ों के चारो तरफ एक अवरोध बन जाता है जिससे कि सूर्य की किरणें वहां तक नहीं पहुंच पाती।

    शीशम का तेल व एवाकाडो

    सामग्री

    • एक पका हुआ अवोकैडो
    • 2 चम्मच शीशम का तेल

    प्रक्रिया

    • अवोकैडो को अच्छे से मसल ले। इसे शीशम के तेल में अच्छे से मिला ले।
    • इसे अपने सिर में व बालों में लगाकर एक घंटे के लिए छोड़ दे।
    • इसके बाद इसे शैंपू से धो लें।

    काम करने की विधि

    अवोकैडो में विटामिन ई और एंटीऑक्सिडेंट्स होते है। एंटीऑक्सिडेंट्स खोपड़ी के स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करते है। इसमें ऐसे गुण भी होते है जो बालों को पोषण प्रदान करता है।

    शीशम और नारियल का तेल

    सामग्री

    • 2 चम्मच शीशम का तेल
    • 2 चम्मच नारियल तेल
    • तौलिया

    प्रक्रिया

    • एक बर्तन में शीशम का तेल और नारियल का तेल मिलाएं।
    • अपनी उंगलियों की मदद से तेल को सिर में लगाएं और इसे काम करने के लिए छोड़ दे। ध्यान रहे कि यह तेल सारे बालों की लंबाई तक लगा रहे।
    • जब आपके बालों में तेल लगा हुआ हो तो बालों को तौलिए से लपेट लें। आप तौलिए को गरम पानी में भिगोकर गरम भी कर सकते है।
    • इसे 30 – 40 मिनट के लिए छोड़ दे, उसके बाद बालों में शैंपू कर लें।

    काम करने की विधि

    नारियल के तेल में बालों की जड़ों तक प्रवेश करने के लिए सबसे ज्यादा ताकत होती है। यह बालों कि जड़ों को पोषण प्रदान करता है, जैसे फैटी एसिड्स। यह बालों को मजबूती देता है।

    शीशम का तेल और करी पत्ते बालों में

    सामग्री

    • करी पत्तो का एक गुच्छा
    • 3 चम्मच शीशम का तेल
    • एक बर्तन

    प्रक्रिया

    • तेल को एक बर्तन में गरम कर ले और इसमें करी पत्ते डाल दे और इसके काले रंग होने का इंतजार करें।
    • तेल को ठंडा होने के लिए रख दे।
    • एक बार तेल ठंडा हो जाए उसके बाद उसकी बालों में लगाकर मालिश करें। ध्यान रहे कि यह सारे बालों में लगाएं।
    • जब आपके सारे बालों में तेल लगा जाएं तो इसको तौलिए से ढक लें। आप तौलिए को गरम पानी में भिगोकर उसे गरम करके भी लगा सकते है।
    • इसे 30 – 40 मिनट तक के लिए छोड़ दे और फिर बालों को शैंपू की मदद से धो लें।

    काम करने की विधि

    करी पत्ते बालों को टूटने से बचाते है। नियमित इसका इस्तेमाल करने से बालों का टूटना कम हो जाता है और बालों की लंबाई बढ़ जाती है।

    शीशम का तेल और अदरक

    सामग्री

    • 1 चम्मच अदरक का रस
    • 2 चम्मच शीशम का तेल
    • गरम तौलिया

    प्रक्रिया

    • एक बर्तन में शीशम का तेल और अदरक का रस मिला लें।
    • उंगलियों की मदद से इस तेल के मिश्रण को लगा लें और इसको बालों पर काम करने दे।
    • तेल लगाने के बाद बालों को गरम तौलिए से ढक लें।
    • इसे 30 – 40 मिनट तक के लिए छोड़ दे और फिर बालों मी शैंपू कर लें।

    काम करने की विधि

    अदरक बालों के लिए बहुत अच्छा कंडीशनर साबित हुआ है। यह बालों में चमक लाता है और उन्हें मुलायम बनाता है। इसका बार – बार प्रयोग करने से बाल स्वस्थ रहते है।

    शीशम का तेल और अंडा

    सामग्री

    • 2 चम्मच शीशम का तेल
    • एक अंडा

    प्रक्रिया

    • अंडे और शीशम के तेल को मिलाकर एक मिश्रण तैयार कर लें।
    • इसे सिर और बालों में लगाकर 30 मिनट के लिए छोड़ दे।
    • 30 मिनट बाद अंडे को ठंडे पानी से बालों से निकाल लें। गरम पानी का इस्तेमाल ना करें।

    काम करने की विधि

    अंडे में भरपूर मात्रा में प्रोटीन होता है। इसका इस्तेमाल करने से बालों में प्रोटीन की आपूर्ति होती है और वे मजबूत बनते है।

    यह आपके बालों को चमकदार, कोमल और मजबूत बनाता है।

    शीशम का तेल और मेंथी

    सामग्री

    • 2 चम्मच मेंथी के बीज
    • 2 चम्मच शीशम का तेल
    • एक जार
    • उबला हुआ पानी से भरा एक बर्तन
    • गरम तौलिया

    प्रक्रिया

    • मेंथी के बीज शीशम के तेल में डालकर एक जार में रख दें।
    • इस जार को गरम करने के लिए उबले हुए पानी से भरे हुए बर्तन में रख दे।
    • थोड़ी देर बाद इसे ठंडा होने के लिए रख दे।
    • अपनी उंगलियों की मदद से इसे सिर में लगाएं और मालिश करें।
    • तेल लगे हुए बालों पर गरम तौलिया लगा लें। आप तौलिए को गरम पानी में भिगोकर गरम कर सकते है।
    • इसे 30 – 40 मिनट तक लगाकर छोड़ दे और फिर शैंपू कर लें।

    काम करने की विधि

    मेंथी रूसी को ठीक करने में मदद करती है। यह बालों में चमक लाती है और बालों को मजबूत बनाती है।

    शीशम का तेल और शहद

    सामग्री

    • 3 चम्मच शीशम का तेल
    • 1 चम्मच शहद

    प्रक्रिया

    • एक बर्तन में शीशम का तेल और शहद मिला लें।
    • अपनी उंगलियों की मदद से इसे सिर में लगा लें।
    • तेल लगाने के बाद इसे गरम पानी में भिगोए हुए तौलिए से ढक लें।
    • अब इसे 30 – 40 मिनट तक लगाकर छोड़ दे और उसके बाद बालों में शैंपू कर लें।

    काम करने की विधि

    शहद बालों में नमी बनाए रखता है। आपको इसे ज़रूर इस्तेमाल करना चाहिए। लेकिन यदि आप अपने बाल काले रखना चाहते तो इसका प्रयोग कम करें।

    One thought on “शीशम का तेल के बालों के लिए फायदे, विधि”
    1. kyaa surya ki kiran hamaare baalon ke liye bhi khatarnaak hoti hain hame inse bachne ke liye kya karna chahiye?

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *