शिंजो आबे की भारत यात्रा से पूर्व, टोक्यो-जापान के बीच पहली 2+2 वार्ता होगी

Must Read

राहुल गांधी को कोरोनावायरस की पूरी जानकारी नहीं: बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा

मोदी सरकार द्वारा COVID-19 स्थिति को संभालने की आलोचना के लिए राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पर हमला करते हुए,...

कार्तिक आर्यन ने आगामी फिल्म ‘दोस्ताना 2’ के बारे में दी रोचक जानकारी

अभिनेता कार्तिक आर्यन (Kartik Aaryan) आज बॉलीवुड में सबसे अधिक मांग वाले अभिनेताओं में आसानी से शामिल हैं। टाइम्स...

भारत में कोरोनावायरस के मामले 1.5 लाख के करीब, पढ़ें पूरी जानकारी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने आज कहा है कि 6,535 नए संक्रमणों के बाद भारत में कोरोनोवायरस बीमारी (COVID-19) के...
कविता
कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

जापान के प्रधानमन्त्री शिंजो आबे की दिसम्बर में वार्षिक सम्मेलन के लिए भारत की यात्रा से पूर्व भारत और जापान के बीच पहली मंत्रीय स्तरीय 2+2 वार्ता का आयोजन किया जायेगा। यह निर्णय नरेंद्र मोदी और शिंजो आबे के बीच पूर्वी आर्थिक मंच के सम्मेलन के इतर बैठक में लिया गया था।

2+2 की बैठक में दोनों देशो के रक्षा मंत्रियो और विदेश मंत्रियो के बीच रणनीतिक मामलो पर चर्चा होती है। विदेश सचिव विजय गोखले ने कहा कि जापानी प्रधानमन्त्री ने हाल ही में भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के साथ जरुरी मसलो पर चर्चा की थी।

आबे ने मोदी से कहा कि इन चर्चाओं को दिसम्बर में दिल्ली में शिखर सम्मेलन के दौरान आगे ले जाया जायेगा और इससे कुछ मज़बूत परिणामो के आने की सम्भावना है। उन्होंने अफ्रीका में भारत और जापान के संयुक्त परियोजनाओं के होने की संभावनाओं पर चर्चा की।

उन्होंने भारत-जापान-अमेरिका त्रिकोणीय वार्ता पर बात की जिसके तहत दो बैठको का आयोजन किया जा चुका है और ऐसी मुलाकातों को जारी रखने पर सहमती व्यक्त की है। दक्षिणी चीनी सागर पर चीन के बढ़ते कदम पर मोदी और आबे के विचार है कि यह इलाका आर्थिक प्रगति और सुरक्षा के लिए खुला और मुक्त होना चाहिए।

मोदी ने कहा कि समझौते को अंतिम स्वरुप देते हुए माल और सेवा में व्यापार को भी दिमाग में रख लेना चाहिए। दिसम्बर में नई दिल्ली में वार्षिक सम्मेलन के दौरान तफ्शील से विभिन्न मुद्दों पर दोनों प्रध्नाम्न्त्रियो के बीच चर्चा होगी। मोदी ने मंगोलिया के राष्ट्रपति खल्त्मागीन बत्तुलगा से द्विपक्षीय मुलाकात की थी और द्विपक्षीय संबंधों पर एक नजर डाली थी।

उन्होंने अधिकतर व्यापार और आर्थिक संबंधो पर चर्चा की थी। इस महीने के आखिर में बत्तुलगा भारत की यात्रा करेंगे और तब सारी बातचीत की जाएगी। दिल्ली के आलावा वह बेंगलुरु और बोधगया के दौरे पर जायेंगे।”

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

राहुल गांधी को कोरोनावायरस की पूरी जानकारी नहीं: बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा

मोदी सरकार द्वारा COVID-19 स्थिति को संभालने की आलोचना के लिए राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पर हमला करते हुए,...

कार्तिक आर्यन ने आगामी फिल्म ‘दोस्ताना 2’ के बारे में दी रोचक जानकारी

अभिनेता कार्तिक आर्यन (Kartik Aaryan) आज बॉलीवुड में सबसे अधिक मांग वाले अभिनेताओं में आसानी से शामिल हैं। टाइम्स ऑफ इंडिया की हालिया रिपोर्ट में,...

भारत में कोरोनावायरस के मामले 1.5 लाख के करीब, पढ़ें पूरी जानकारी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने आज कहा है कि 6,535 नए संक्रमणों के बाद भारत में कोरोनोवायरस बीमारी (COVID-19) के कुल मामले 145,380 तक पहुँच...

कबीर सिंह के लिए पुरुष्कार ना मिलने पर शाहिद कपूर ने दिया यह जवाब

कल मंगलवार शाम को शाहिद कपूर (Shahid Kapoor) ने ट्विटर पर अपने प्रशंसकों से बात करने की योजना बनायी और लोगों से सवाल पूछने...

सिक्किम के बाद लद्दाख में भारत और चीन की सेना में टकराव

सिक्किम में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच झड़प की खबरों के बाद उत्तरी सीमा पर दोनों देशों के सैनिकों के बीच टकराव की...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -