बुधवार, नवम्बर 20, 2019

जानिए कैसे शाहरुख़ खान की फ्लॉप फिल्म ‘जीरो’ ने किया टीवी पर जबरदस्त प्रदर्शन

Must Read

जेएनयू छात्र मार्च के संबंध में दो मामले दर्ज, भीड़ के बीच स्पेशल सीपी की मौजूदगी बनी चर्चा का विषय

फीस बढ़ोतरी से नाराज जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्रों द्वारा सोमवार को दिल्ली की सड़कों पर बवाल मचाए जाने...

बिग बाउट लीग: पंजाब टीम में शामिल हुई एमसी मेरीकॉम, निखत जरीन, पिंकी रानी से होगी टक्कर

छह बार विश्व चैम्पियन और ओलंपिक पदक विजेता भारतीय महिला मुक्केबाज एमसी मेरीकॉम को यहां पहली बिग बाउट लीग...

लोकसभा में दिल्ली में वायु प्रदूषण को लेकर बोले सांसद गौतम गंभीर, मुद्दे का राजनीतिकरण बंद करें

संसद के शीतकालीन सत्र में मंगलवार को लोकसभा में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में वायु प्रदूषण के गंभीर स्तर पर...
साक्षी बंसल
पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

दिसंबर 2018 में, शाहरुख खान, अनुष्का शर्मा और कैटरीना कैफ अभिनीत फिल्म ‘जीरो‘ रिलीज हुई थी। आनंद एल राय द्वारा निर्देशित फिल्म को 2018 की सबसे बहुप्रतीक्षित रिलीज में से एक माना गया था, जो बॉक्स ऑफिस पर फिसल गयी। हालाँकि, अब महीनों बीतने और इस तथ्य के बावजूद कि ‘ज़ीरो’ बॉक्स ऑफिस फ्लॉप बन गई थी, फिल्म टेलीविजन पर अच्छी तरह से काम करती दिख रही है।

बल्कि रिपोर्ट में कहा गया है कि ‘ज़ीरो’ का टीवी पर रिकॉर्ड 9.2 मिलियन इम्प्रेशन के साथ प्रीमियर हुआ, और इसके बाद फिल्म ने अन्य भुगतान किए गए स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म पर एक ही महीने में 3.9 मिलियन इम्प्रेशन दर्ज किए। जबकि सैटेलाइट नेटवर्क जिसने फिल्म और स्ट्रीमिंग सेवाओं को प्रदर्शित किया है, वे प्रदर्शन के बारे में खुश हैं, एक बड़ा सवाल यहाँ यह उठता है कि इन प्लेटफार्मों पर ‘जीरो’ क्या अलग थी जो थिएटर पर अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाई।

Image result for Zero

इसके पीछे का कारण ये है कि रेड चिलीज़ प्रोडक्शन ने टीवी नेटवर्क और स्ट्रीमिंग प्लेटफार्म को फिल्म का अलग कट दिया है। जी हां, ये कट थिएटर रिलीज़ से ज्यादा छोटा और क्रिस्प है। इसके अलावा, टीवी पर फिल्म का प्रचार एक ऐसी कहानी बताकर किया गया था जिसमे नायक मेरठ से मार्स तक का सफर तय करता है और साथ ही इसमें मार्स मिशन की जानकारी भी दी गयी। एक कारण ये भी है कि टीवी दर्शक, थिएटर जाने वाले दर्शको से अलग होते हैं।

जबकि थिएटर के दर्शक फिल्म देखने का फैसला समीक्षा पढ़कर या लोगो की टिपण्णी सुनकर करते हैं, टीवी के दर्शको के लिए ये चीज़ें मायने नहीं रखती क्योंकि वे वही देखते हैं जो उन्हें देखने में अच्छी और मनोरंजक लगती हैं। बल्कि एक इन्सान जो किसी कारण थिएटर में फिल्म नहीं देख पाता, वह उत्सुकता और विकल्पों की कमी के कारण टीवी पर देखना पसंद करता है।

Related image

और केवल ‘जीरो’ ही क्यों, बाकि बॉक्स ऑफिस डिजास्टर जैसे ‘जंगली’, ‘जीनियस’ और ‘लव यात्री’ ने भी टीवी पर अच्छा प्रदर्शन किया है।

 

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

जेएनयू छात्र मार्च के संबंध में दो मामले दर्ज, भीड़ के बीच स्पेशल सीपी की मौजूदगी बनी चर्चा का विषय

फीस बढ़ोतरी से नाराज जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्रों द्वारा सोमवार को दिल्ली की सड़कों पर बवाल मचाए जाने...

बिग बाउट लीग: पंजाब टीम में शामिल हुई एमसी मेरीकॉम, निखत जरीन, पिंकी रानी से होगी टक्कर

छह बार विश्व चैम्पियन और ओलंपिक पदक विजेता भारतीय महिला मुक्केबाज एमसी मेरीकॉम को यहां पहली बिग बाउट लीग की ड्राफ्ट प्रक्रिया में एनसीआर...

लोकसभा में दिल्ली में वायु प्रदूषण को लेकर बोले सांसद गौतम गंभीर, मुद्दे का राजनीतिकरण बंद करें

संसद के शीतकालीन सत्र में मंगलवार को लोकसभा में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में वायु प्रदूषण के गंभीर स्तर पर पहुंच जाने का मुद्दा उठाया...

हालैंड में डच सांसद की हत्या के आरोप में पाकिस्तानी नागरिक को 10 साल की जेल

हालैंड में एक अदालत ने इस्लाम के बारे में विवादित विचार व्यक्त करने वाले एक धुर दक्षिणपंथी सांसद की हत्या की साजिश के जुर्म...

हीरो इलेक्ट्रिक ने सुपरसिख रन के चौथे संस्करण की घोषणा की

भारत के सबसे बड़े इलेक्ट्रिक ब्रांड हीरो इलेक्ट्रिक ने मंगलवार को यहां वन रेस सुपरसिख रन के चौथे संस्करण के आयोजन की घोषणा की।...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -