Sat. Feb 4th, 2023
    शम्मी कपूर को देख फ़िदा हो जाती थी लड़कियां: जानिए सुपरस्टार की 8वि पुण्यतिथि पर कुछ अज्ञात बातें

    शम्मी कपूर हिंदी सिनेमा के सबसे प्रतिभाशाली और प्रभावशाली अभिनेताओं में से एक थे। उन्होंने अपने दमदार अभिनय से कई लोगो के दिलों के साथ साथ पुरुस्कार तो जीते ही थे, लेकिन वह अपने ज़माने के सबसे हैंडसम अभिनेता भी माने जाते थे जिन पर कई अभिनेत्रियां फ़िदा थी। उन्होंने दर्शको को ‘जंगली’ और ‘ब्रह्मचारी’ जैसी क्लासिक फिल्में दी। उन्होंने मुख्य अभिनेता के तौर पर, 50 से ज्यादा फिल्मों में काम किया और 20 से ज्यादा फिल्में बतौर सहायक अभिनेता की।

    उन्होंने केवल अपने अभिनय के लिए ही नहीं जाना जाता था बल्कि, वह अपने डांसिंग मूव्स के लिए भी बहुत मशहूर थे और उन्हें भारत का एल्विस प्रेस्ले कहा जाता था। उनके अनोखे डांसिंग स्टाइल से प्रेरित कई गीत भी बने जिसमे सिद्धार्थ मल्होत्रा की फिल्म ‘हंसी तो फंसी’ का गीत ‘शेक इट लाइक शम्मी’ भी शामिल है।

    Image result for Shammi Kapoor

    चिरकालिक गुर्दा निष्क्रियता के कारण, 14 अगस्त 2011 को उनका निधन हो गया था लेकिन सुपरस्टार अभी भी हमारी यादों में जीवित है। उनकी पुण्यतिथि पर, जानिए उनसे जुड़े 5 कम ज्ञात तथ्य-

    शम्मी कपूर के पिता पृथ्वीराज कपूर और माँ रामशरणी बहुत दुखी थे क्योंकि राज कपूर के बाद, एक ही हफ्ते में उनके दोनों बच्चो की मौत हो गयी थी। उस वक़्त शम्मी पेट में थे और दम्पति घबराया हुआ था। वह परिवार के इकलौते बच्चे हैं जिन्होंने अस्पताल में जन्म लिया था।

    Image result for Shammi Kapoor Prithviraj Kapoor

    शम्मी कपूर को अपने बड़े भाई राज कपूर की वजह से छोड़ना पड़ा था स्कूल। हुआ यूँ कि शम्मी को पृथ्वी थिएटर के शकुंतला ड्रामा में भरत का किरदार मिल गया था। उसी ड्रामा में राज को भी बड़ा किरदार मिला था लेकिन राज को अभ्यास के लिए स्कूल से छुट्टी नहीं मिल रही थी, इसलिए उन्होंने प्रिंसिपल से लड़ाई करके स्कूल छोड़ दिया। शम्मी भी उसी स्कूल में पढ़ते थे इसलिए उन्हें भी स्कूल छोड़ना पड़ा।

    Related image

    स्कूल ही नहीं, शम्मी को अपना कॉलेज छोड़कर भी घर आना पड़ा। वह घर आये और अपने पिता से मांफी मांगने लगे। उस वक़्त पृथ्वी ने उनका दिमाग पढ़ लिया था और कहा-‘चिंता मत करो बेटा, कल से थिएटर ज्वाइन कर लेना’। उन्हें थिएटर में काम करने के 50 रूपये मिला करते थे।

    Related image

    शम्मी ने पापा के थिएटर में एक मजदूर के रूप में काम किया था और उनके पिता ने उन्हें कभी स्टार किड ट्रीटमेंट नहीं दिया। क्योंकि शम्मी का फिल्मी करियर एक बाल कलाकार के रूप में शुरू हुआ था, इस दौरान उन्हें महीने के केवल 150 रुपये ही मिलते थे।

    Image result for shammi kapoor

    शम्मी के अच्छे लुक्स के कारण उनकी कई लड़कियों से दोस्ती थी और उनके परिवार को ये भली भाती पता था। ऐसा भी वक़्त आया था जब सुपरस्टार एक विदेशी बैली डांसर के प्यार में पड़ गए थे, लेकिन कुछ समय बाद दोनों अलग हो गए।

    Image result for shammi kapoor

    आज अभिनेता तो हमारे साथ नहीं है लेकिन वह अपने चाहनेवालो के लिए बहुत सारा काम करके गए हैं जो हमेशा उनकी याद दिलाता रहेगा। तो उनकी 8वि पुण्यतिथि पर, देखिये फिल्म ‘प्रिंस’ से उनका मशहूर गीत-

    By साक्षी बंसल

    पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *