Sat. Feb 4th, 2023
    वोडाफोन आईडिया

    नई दिल्ली, 9 मई (आईएएनएस)| वोडाफोन समूह ने वोडाफोन-आइडिया में अपनी पूरी 44.39 फीसदी हिस्सेदारी सात विदेशी बैंकों में गिरवी रखी है। समूह की हिस्सेदारी का मूल्य 18,000 करोड़ रुपये से अधिक है।

    इससे पहले देश की सबसे बड़ी दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनी वोडाफोन-आइडिया ने अपने 25,000 करोड़ रुपये के शेयर जारी करने के बाद नए शेयर जारी किए।

    वोडाफोन-आइडिया ने गुरुवार को रेग्युलेटरी फाइलिंग में कहा कि वोडाफोन समूह ने एचएसबीसी कॉरपोरेट ट्रस्टी कंपनी के पक्ष में वित्त व्यवस्था के सिलसिले में अपने शेयर गिरवी रखे हैं।

    एचएसबीसी कॉरपोरेट ट्रस्टी कंपनी बीएनपी परिबास, एचएसबीसी बैंक, आईएनजी बैंक एनवी सिंगापुर ब्रांच, स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक, बैंक ऑफ अमेरिका मेरिल लिंच और मॉर्गन स्टेनली सीनियर फंडिंग के लिए ट्रस्टी का कार्य करती है।

    कंपनी ने कहा, “वोडाफोन के प्रमोटर मॉरीशस शेयरहोल्डर्स और वोडाफोन प्रमोटर इंडियन शेयरहोल्डर्स को सामूहिक रूप से वोडाफोन प्रमोटर्स शेयहोल्डर्स कहा जाता है जिसने वोडाफोन-आइडिया में अपनी 44.39 फीसदी हिस्सेदारी गिरवी रखी है।”

    मॉरीशस और भारत के बाहर वोडाफोन समूह में 12 कंपनियां जिनकी अपनी हिस्सेदारी है।

    By पंकज सिंह चौहान

    पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *