Mon. Feb 26th, 2024
    डोनाल्ड ट्रम्प

    अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने सोमवार को कहा कि “वह अमेरिका में ब्रिटेन के राजदूत के साथ कोई वासता नहीं रखेंगे।” हाल ही में ब्रिटेन के राजदूत ने ट्रम्प प्रशासन को बेकार और अयोग्य करार दिया था। डोनाल्ड ट्रम्प ने एक ट्वीटर पोस्ट पर अपदस्थ प्रधानमन्त्री थेरेसा मे की भी आलोचना की थी।

    मैं राजदूत को नहीं जानता

    उन्होंने कहा कि “मैं राजदूत को नहीं जानता हूँ। लेकिन अमेरिका में न ज्यादा उन्हें पसंद किया जाता है और न ही उनके बारे में सोचा जाता है। हम उनसे ज्यादा वक्त तक कोई वासता नहीं रखेंगे। मे और उनके प्रतिनिधियों के क्या रायता फैलाया है। मैंने उनसे कहा था कि इसे कैसे करना चाहिए लेकिन उन्होंने दूसरा रास्ता अपनाने का निर्णय लिया था।”

    उन्होंने कहा कि “शानदार ब्रिटेन के लिए अच्छी खबर यह है कि उन्हें जल्द ही एक नया प्रधानमन्त्री मिल जायेगा। मैंने बीते महीने देश की शानदार यात्रा का लुत्फ़ उठाया था। वह महारानी थी, जिनसे मैं सबसे अधिक प्रभावित हुआ था।” अमेरिकी राष्ट्रपति ने हाल ही में ब्रिटेन की यात्रा की थी और उन्होंने शाही परिवार से भी मुलाकात भी थी।

    ब्रिटेन की सरकार ने वांशिगटन से सोमवार को कहा कि “मेमो का लीक होना खेदजनक है।” मे के प्रवक्ता ने सोमवार को यह बात कही थी।

    कथित तौर पर राजदूत ने लिखा कि “हमें वाकई यकीन नहीं हो रहा है कि यह प्रशासन काफी हद तक सामान्य है, कम व्यवस्थित, कम प्रत्याशित, गुटबाजी से त्रस्त, कूटनीतिक अनाड़ी और अयोग्य है।” पेपर के मुताबिक, इसमें सबसे भद्दी टिप्पणी ट्रूप को असुरक्षित और अक्षम करार दिया था।

    उन्होंने कथित तौर पर लिखा था कि व्हाइट हाउस के अंदर “शातिर घुसपैठ और अराजकता” का माहौल है। अमेरिका में इस रिपोर्ट को फर्जी करार देकर ख़ारिज कर दिया था लेकिन इसमें अधिकतर सत्य था।

    डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि “राजदूत किम दर्रोच ने ब्रिटेन में भी बखूबी से सर्विस नहीं दी थी और इसलिए वह और उनका प्रशासन राजदूत के बड़े प्रशसंक नहीं है।”

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *