Mon. May 27th, 2024
    विराट कोहली

    भारतीय टीम न्यूजीलैंड के खिलाफ पांच वनडे मैचो की सीरीज के शुरूआती तीन वनडे मैच जीतकर सीरीज जीत तो गई है लेकिन आज हैमिल्टन में खेले गए चौथे वनडे में टीम के बल्लेबाज पूरी तरह से नाकाम रहे। जिसके बाद गुरुवार को भारत के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने कहा आठ विकेट से मिली हार टीम के लिए आगे के मैचो के लिए एक “रियलिटी चेक” है।

    भारतीय टीम इस मैच में केवल 30.5 ओवर खेलकर 92 रन पर ढेर हो गई। जिसकी बदौलत न्यूजीलैंड की टीम इस सीरीज में पहला मैच जीतने का स्वाद ले पायी।

    भुवनेश्वर ने कहा, “अगर आप कुछ महीनों मे खेल रहे क्रिकेट को देखें तो हमने अच्छी क्रिकेट खेली है और ऐसे मैच कुछ समय बाद आते हैं। इसलिय यह एक तरीके का रियलिटी चेक है कि हम अगले मैचो में क्या सुधार कर सकते है।”

    हम सीरीज जीतने के बाद आश्वस्त थे लेकिन चीजे हमारे रास्तो पर नही गई। हम न्यूजीलैंड के गेंदबाजो से उनका श्रेय नही छिन सकते। उन्होने बहुत अच्छी गेंदबाजी की और हमें हराया।”

    वेलिंग्टन में रविवार को आखिरी और पांचवे वनडे मैच खेले जाने के बाद, भारतीय टीम न्यूजीलैंड के खिलाफ 6 फरवरी से 3 टी-20 मैचो की सीरीज खेलेगी। आज के मैच में सीमर ट्रेंट बोल्ट (5/21) और कोलिन डी ग्रैंडहुम (3/26) ने परस्थिति का सही फायदा उठाया और भारतीय बल्लेबाजो के लिए पिच पर बल्लेबाजी करना मुश्किल कर दिया।

    जब भुवनेश्वर से पूछा गया कि क्या न्यूजीलैंड ने भारतीय टीम की कमजोरी को उजागर किया: ” वास्तव में नही, हमने इंग्लैंड, दक्षिण-अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया में बहुत बेहतरीन खेल दिखाया है। मैं यह कहना चाहूंगा की उन्होने बहुत बेहतरीन गेंदबाजी की और कुछ गेंदे ऐसी भी करवायी जिन्हे खेला जाना मुश्किल था, कुल मिलाकर वह हमसे बाजी मार गए।”

    आक्रमक बल्लेबाज और कप्तान विराट कोहली इस समय न्यूजीलैंड के पूरे दौरे से बाहर है और पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी मांसपेशियो में खिचाव के कारण बाहर चल रहे है, उस दौरान भारतीय टीम ने युवा बल्लेबाज शुभमन गिल को पदार्पण करने का मौका दिया और मोहम्मद शमी की जगह खलील अहमद को प्लेइंग-11 में जगह दी। भुवनेश्वर ने यह भी कही की टीम को इस मैच में विराट कोहली की कमी भी खली।

    “आप हमेशा कोहली को इस तरह के विकेटो में याद करते है लेकिन यही एक समय था जहा शुभमन गिल के पास मौका था जो उनकी जगह पर आए थे। कोहली जो करते है वह आश्चर्यजनक है लेकिन हम हमेशा कोहली पर निर्भर नही रहना चाहते।”

    By अंकुर पटवाल

    अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *