सोमवार, अक्टूबर 14, 2019

विराट कोहली के बचपन के कोच ने उनकी कप्तानी पर रखी अपनी राय

Must Read

पाकिस्तान उच्चायोग हवाला से कश्मीर में आतंकवाद को कर रहा आर्थिक मदद : एनआईए (लीड-1)

नई दिल्ली, 14 अक्टूबर (आईएएनएस) राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने सोमवार को कहा कि जम्मू एवं कश्मीर में आतंकवाद...

बिहार, महाराष्ट्र, केरल, कर्नाटक में जेएमबी सक्रिय : एनआईए

नई दिल्ली, 14 अक्टूबर (आईएएनएस)। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने सोमवार को कहा कि जमात-उल-मुजाहिद्दीन बांग्लादेश (जेएमबी) भारत के...

एनएसए का पाकिस्तान को संदेश : युद्ध कभी फायदेमंद नहीं होता

नई दिल्ली, 14 अक्टूबर (आईएएनएस)। राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी (एनएसए) ने पाकिस्तान को कड़ा संदेश देते हुए कहा कि कोई...
अंकुर पटवाल
अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

लंबे समय से बहस चल रही है कि क्या विराट कोहली इंडियन प्रीमियर लीग में अपनी निराशाजनक कप्तानी के प्रदर्शन के बाद भारतीय टीम का नेतृत्व करने के लिए सही व्यक्ति हैं। हालाँकि, कोहली का 50 मैचों में 35 जीत का सनसनीखेज रिकॉर्ड है, लेकिन फिर भी, एकदिवसीय क्रिकेट में 70 प्रतिशत जीत रिकॉर्ड होने के बावजूद भारतीय कप्तान को काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ता है।

कई प्रशंसकों और पंडितों ने पहले कहा था कि कोहली पूर्व भारतीय कप्तान एमएस धोनी के इनपुट के बिना संघर्ष करेंगे, जबकि अन्य ने रोहित शर्मा का नाम एक बेहतर कप्तान के रूप में लिया। कोहली के बचपन के कोच राजकुमार शर्मा ने कहा है कि भारत की टीम के लिए नए कप्तान की तलाश करने का कोई कारण नही है क्योंकि उन्हे लगता है कि आईपीएल और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की तुलना करना सही नही है।

शर्मा ने कहा कि कोहली जितने अच्छे रणनीतिज्ञ हैं, उतने ही अच्छे वे एक बल्लेबाज हैं और वह हर चीज की योजना बनाते थे – क्षेत्ररक्षण, गेंदबाजी में बदलाव – जो की उन्हें एक जबरदस्त कप्तान बनाता है। शर्मा ने कहा कि कोहली की कप्तानी का रिकॉर्ड अपने लिए है।

राजकुमार शर्मा ने एक विशेष साक्षात्कार में हिंदुस्तान टाइम्स को बताया, “एक बल्लेबाज के रूप में वह एक अच्छा रणनीतिज्ञ है। यहां तक कि जब वह एक युवा खिलाड़ी थे, तो वह हर चीज की योजना बनाते थे, फील्ड प्लेसमेंट, गेंदबाजी में बदलाव … वह एक जबरदस्त नेता है और उनका रिकॉर्ड खुद के लिए बोलता है। यदि आप उनके पिछले 2 वर्षों के रिकॉर्ड को देखते हैं तो वह बहुत ही शानदार रहा है।”

शर्मा ने कहा, “भारत के लिए किसी और की तलाश करने का कोई कारण नहीं है … टी 20 और वनडे अलग हैं और मैं आईपीएल और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की तुलना करने के बारे में सोच भी नहीं सकता।”

कोहली एक कप्तान के रुप में अपना पहला विश्वकप खेलेंगे और प्रशंसको को उम्मीद में है की टीम इंग्लैंड में विश्वकप के खिताब पर कब्जा करेगी। भारत अपना पहला मैच 5 जून को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ साउथेम्पट्टन में खेलेंगे।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

पाकिस्तान उच्चायोग हवाला से कश्मीर में आतंकवाद को कर रहा आर्थिक मदद : एनआईए (लीड-1)

नई दिल्ली, 14 अक्टूबर (आईएएनएस) राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने सोमवार को कहा कि जम्मू एवं कश्मीर में आतंकवाद...

बिहार, महाराष्ट्र, केरल, कर्नाटक में जेएमबी सक्रिय : एनआईए

नई दिल्ली, 14 अक्टूबर (आईएएनएस)। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने सोमवार को कहा कि जमात-उल-मुजाहिद्दीन बांग्लादेश (जेएमबी) भारत के विभिन्न राज्यों जैसे बिहार, महाराष्ट्र,...

एनएसए का पाकिस्तान को संदेश : युद्ध कभी फायदेमंद नहीं होता

नई दिल्ली, 14 अक्टूबर (आईएएनएस)। राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी (एनएसए) ने पाकिस्तान को कड़ा संदेश देते हुए कहा कि कोई भी युद्ध की मार सहन...

जम्मू एवं कश्मीर में आतंक को पाकिस्तान से आर्थिक मदद : एनआईए

नई दिल्ली, 14 अक्टूबर (आईएएनएस)। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने सोमवार को कहा कि जम्मू एवं कश्मीर में आतंकवाद को पाकिस्तान द्वारा सीधे आर्थिक...

जम्मू एवं कश्मीर में आतंकवाद को पाकिस्तान कर रहा आर्थिक मदद : एनआईए (संशोधित)

नई दिल्ली, 14 अक्टूबर (आईएएनएस) राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने सोमवार को कहा कि जम्मू एवं कश्मीर में आतंकवाद को पाकिस्तान द्वारा सीधे आर्थिक...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -