Sat. Dec 10th, 2022
    64th vimal filmfare awards 2019

    इंतज़ार ख़त्म हो चूका है। चौसठवें विमल फिल्मफेयर अवार्ड की घोषणा की जा चुकी है। यह पुरष्कार हिंदी फिल्म जगत की श्रेष्ठ्तम प्रतिभाओं का जश्न मनाने के लिए जाना जाता है। यह समारोह 23 फरवरी को आयोजित किया जाएगा।

    इस मौके पर फिल्म जगत के नामी-गिरामी लोग मौजूद होंगे। पुरष्कारों की श्रेणी में बेहतरीन निर्देशक, समीक्षात्मक रूप से बेहतरीन अभिनेता (स्त्री,पुरुष), बेहतरीन सहयोगी कलाकार, बेहतरीन संगीत एल्बम, बेहतरीन संवाद और एडिटिंग आदि शामिल हैं।

    64th vimal filmfare award nominations
    स्रोत: ट्विटर

    2018 में शानदार हिट फ़िल्में आई थीं इसलिए इसबार यह प्रतिस्पर्धा कठिन होने वाली है।  तो आइये आपको दिखाते हैं इस वर्ष नामांकन की पूरी सूची।

    बेस्ट फिल्म

    अंधाधुन

    बधाई हो

    पद्मावत

    राज़ी

    संजू

    स्त्री

    बेस्ट डायरेक्टर 

    अमर कौशिक (स्त्री)

    अमित शर्मा( बधाई हो)

    मेघना गुलज़ार (राज़ी)

    राजकुमार हिरानी (संजू)

    संजय लीला भंसाली (पद्मावत)

    श्रीराम राघवन (अंधाधुन)

    बेस्ट फिल्म (क्रिटिक)

    अंधाधुन

    बधाई हो

    मंटो

    पटाखा

    राज़ी

    तुम्बड़

    सर्वश्रेष्ठ अभिनेता

    अक्षय कुमार (पैडमैन)

    आयुष्मान खुराना (अंधाधुन)

    राजकुमार राव (स्त्री)

    रणबीर कपूर (संजू)

    रणवीर सिंह (पद्मावत)

    शाहरुख़ खान (जीरो )

    सर्वश्रेष्ठ अभिनेता (पुरुष) के लिए क्रिटिक्स अवार्ड

    आयुष्मान खुराना (अंधाधुन)

    नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी (मंटो)

    रणबीर कपूर (संजू)

    रणवीर सिंह (पद्मावत)

    वरुण धवन (अक्टूबर)

    विनीत कुमार सिंह (मुक्काबाज़)

    बेस्ट एक्टर इन ए लीडिंग रोल (महिला) – लोकप्रिय

    आलिया भट्ट (राज़ी)

    दीपिका पादुकोण (पद्मावत)

    नीना गुप्ता (बधाई हो)

    रानी मुखर्जी (हिचकी)

    तब्बू (अंधाधुन)

    सर्वश्रेष्ठ अभिनेता (महिला) के लिए क्रिटिक्स अवार्ड

    अनुष्का शर्मा (सुई धागा: मेड इन इंडिया)

    आलिया भट्ट (राज़ी)

    नीना गुप्ता (बधाई हो)

    राधिका मदन (पटाखा)

    तब्बू (अंधाधुन)

    तापसी पन्नू (मुल्क)

    सहायक भूमिका में सर्वश्रेष्ठ अभिनेता (पुरुष)

    अपारशक्ति खुराना (स्त्री )

    गजराज राव (बधाई हो)

    जिम सरभ (पद्मावत)

    मनोज पाहवा (मुल्क)

    पंकज त्रिपाठी (स्त्री)

    विक्की कौशल (संजू)

    सहायक भूमिका में सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री (महिला)

    गीतांजलि राव (अक्टूबर)

    कैटरीना कैफ (जीरो )

    शिखा तलसानिया (वीरे दी वेडिंग)

    स्वरा भास्कर (वीरे दी वेडिंग)

    सुरेखा सिखरी (बधाई हो)

    यामिनी दास (सुई धागा: मेड इन इंडिया)

    सर्वश्रेष्ठ संगीत एल्बम

    धड़क- अजय-अतुल

    मनमर्जियां- अमित त्रिवेदी

    राज़ी- शंकर एहसान लॉय

    सोनू के टीटू की स्वीटी – रोशाक कोहली, यो यो हनी सिंह, अमाल मलिक, गुरु रंधावा, ज़ैक नाइट, सौरभ-वैभव और रजत नागपाल

    पद्मावत – संजय लीला भंसाली

    जीरो – अजय-अतुल

    सर्वश्रेष्ठ लिरिक्स 

    ऐ वतन – गुलज़ार (राज़ी)

    बिन्ते दिल- ए एम तुराज़ (पद्मावत)

    दिलबरो- गुलज़ार (राज़ी)

    कर हर मैदान फतेह – शेखर अस्तित्वा (संजू)

    मेरे नाम तू – इरशाद कामिल (जीरो)

    तेरा यार हूं मैं – कुमार (सोनू के टीटू की स्वीटी)

    सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायक (पुरुष)

    अभय जोधपुरकर- मेरे नाम तू (जीरो )

    अरिजीत सिंह – तेरा यार हूं मैं (सोनू के टीटू की स्वीटी)

    अरिजीत सिंह- ऐ वतन (राज़ी)

    अरिजीत सिंह- बिन्ते दिल (पद्मावत)

    बादशाह – तारीफ़न (वीरे दी वेडिंग)

    शंकर महादेवन – दिलबरो (राज़ी)

    सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायिका (महिला)

    हर्षदीप कौर, विभा सराफ – दिलबरो (राज़ी)

    जोनिता गांधी- अहिस्ता (लैला मजनू)

    रोंकिनी गुप्ता – चव लागा (सुई धागा: मेड इन इंडिया)

    श्रेया घोषाल- घूमर (पद्मावत)

    सुनिधि चौहान- ऐ वतन (राज़ी)

    सुनिधि चौहान- मनवा (अक्टूबर)

    लेखन और तकनीकी श्रेणियां

    सर्वश्रेष्ठ मूल कहानी

    बधाई हो- अक्षत घिल्डियाल और शांतनु श्रीवास्तव

    मुक्काबाज़- अनुदीप सिंह

    मुल्क- अनुभव सिन्हा

    स्त्री- राज और डीके

    सुई धागा: मेड इन इंडिया- शरत कटारिया

    सर्वश्रेष्ठ पटकथा

    अंधाधुन – श्रीराम राघवन, अरिजीत विश्वास, पूजा लाधा सुरती, योगेश चांडेकर, हेमंत राव

    बधाई हो- अक्षत घिल्डियाल

    मंटो – नंदिता दास

    मुल्क – अनुभव सिन्हा

    राज़ी – भवानी अय्यर और मेघना गुलज़ार

    स्त्री – राज और डीके

    सबसे अच्छा संवाद

    बधाई हो- अक्षत घिल्डियाल

    मंटो – नंदिता दास

    मुल्क – अनुभव सिन्हा

    पटाखा – विशाल भारद्वाज

    स्त्री- सुमित अरोरा

    सुई धागा: मेड इन इंडिया – शरत कटारिया

    सर्वश्रेष्ठ संपादन

    अंधाधुन- पूजा लधा सुरति

    मुल्क – बल्लू सलूजा

    राजी- नितिन बैद

    स्त्री – हेमंती सरकार

    तुम्बड़ – संयुक्ता काजा

    सर्वश्रेष्ठ कार्रवाई

    बागी 2 – राम चेला-लक्ष्मण चेला, केच खंपडकी और शमशीर खान

    भावेश जोशी सुपरहीरो – सिरिल रफ़ेली, सेबेस्टियन सेव्यू और विक्रम दहिया

    मुक्काबाज़ – विक्रम दहिया और सुनील रोड्रिगेज

    पद्मावत – शाम कौशल

    सिम्बा – सुनील रॉड्रिक्स

    बेस्ट बैकग्राउंड स्कोर

    अंधाधुन- डैनियल बी जॉर्ज

    मनमर्जियां – अमित त्रिवेदी

    अक्टूबर – शांतनु मोइत्रा

    राज़ी – शंकर एहसान लॉय और ट्यूबबी

    तुम्बड़ – जेस्पर कीड

    सर्वश्रेष्ठ कोरियोग्राफी

    बलमा (पटखा) – शबीना खान

    घूमर (पद्मावत) – कृति महेश मिद्या

    खलीबली (पद्मावत) – गणेश आचार्य

    मेरे नाम तू (ज़ीरो) – रेमो

    मैं बढियाँ तू भी (संजू) – गणेश आचार्य

    सर्वश्रेष्ठ सिनेमैटोग्राफी

    भावेश जोशी सुपरहीरो – सिद्धार्थ दीवान

    मंटो – कार्तिक विजय

    अक्टूबर – अविक मुखोपाध्याय

    पद्मावत – सुदीप चटर्जी

    पटाखा – रंजन पालित

    तुम्बड़ – पंकज कुमार

    सर्वश्रेष्ठ पोशाक

    गोल्ड – पायल सलूजा

    मंटो- शीतल शर्मा

    पद्मावत- अजय, मैक्सिमा बसु, हरप्रीत रिम्पल, चंद्रकांत सोनवणे

    पटाखा – करिश्मा शर्मा

    तुम्बड़ – स्मृति चौहान, सचिन लवलेकर

    सर्वश्रेष्ठ उत्पादन डिजाइन

    बधाई हो- रथेश यूके

    मंटो- रीता घोष

    ओमेर्टा – नील चौधरी

    पद्मावत – सुब्रत चक्रवर्ती और अमित रे

    स्त्री – मधुसूदन

    तुम्बड़ – नितिन जिहानी चौधरी, राकेश यादव

    सर्वश्रेष्ठ ध्वनि डिजाइन

    अंधाधुन- मधु अप्सरा

    गली गुलियाँ- रॉबर्ट केलो

    अक्टूबर – दीपंकर जोजो चाकी

    पद्मावत – बिस्वदीप दीपक चटर्जी

    परी – अनीश जॉन

    तुम्बड़ – कुणाल शर्मा

    सर्वश्रेष्ठ वीएफएक्स

    पद्मावत – NYVFXWala

    परी – रेडचिल्ली एंटरटेनमेंट

    तुम्बड़ – फिल्मगेट फिल्म्स AB

    जीरो- रेड चिल्ली एंटरटेनमेंट

    फिल्मफेयर का इन पुरष्कारों के लिए नामांकन शानदार है और यह देखना दिलचस्प होगा कि इतनी कड़ी प्रतिस्पर्धा में जीत किसे मिलती है?

    यह भी पढ़ें: मनोज बाजपेयी ने फिल्मफेयर पुरष्कार पर साधा निशाना, बोले रचनात्मकता का शोषण जारी है

    By साक्षी सिंह

    Writer, Theatre Artist and Bellydancer

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *