Fri. May 24th, 2024
    21 विपक्षी दलों ने संयुक्त रुप से जारी किया बयान

    आज संसद में तकरीबन 21 विपक्षी दलों की बैठक आयोजित हुई। जहां सभी ने भारतीय वायुसेना के एक पायलट के गायब होने पर दु:ख जताया। साथ ही वायुसेना की ओर से जवाबी कार्रवाई में दिखाए गए शौर्य व साहस की सराहना भी की। इसके अलावा सारी विपक्षी पार्टियों ने एकजुट होकर भाजपा पर मामले का राजनीतिकरण करने का आरोप लगाया है।

    कांग्रेस ने कहा कि,”प्रधानमंत्री साफ लफ्जों में कांग्रेस के ऊपर कीचड़ उछाल रहे हैं। पिछले हफ्तें उन्होंने सशस्त्र बलों के बलिदान पर भी राजनीति शुरु कर दी है।”

    विपक्ष की ओर से जारी संयुक्त बयान में उन्होंने आरोप लगाया है कि भाजपा जनसंवेदना के साथ खिलवाड़ कर रही है। इस बैठक में सीमा के मौजूदा हालात तथा पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारतीय वायुसेना की ओर से हुई जवाबी कार्रवाई पर मुख्य रुप से चर्चा हुई। विपक्षी दलों के बीच पहले यह बैठक लोकसभा कार्यक्रम के लिए न्य़ूनतम साझा कार्यक्रम तय होने के लिए होनी थी, लेकिन बाद में इसे टाल दिया गया।

    इस बैठक में कांग्रेस नेता सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, तेलगू देशम पार्टी प्रमुख चंद्रबाबू नायडू, शरद पवार, जेएमएम के नेता शिबू शोरेन, बसपा नेता एस. सी. मिश्रा, बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, आम आदमी पार्टी के संजय सिंह समेत अन्य शामिल थे।

    बता दें कि सोमवार को पीएम नरेंद्र मोदी ने नेशनल वॉर मेमोरियल के उद्घाटन समारोह में खुलकर कांग्रेस पर निशाना साधा था। साथ ही उनपर वंशवाद करने का आरोप भी लगाया है। बाद में कांग्रेस प्रवक्ता ने पीएम मोदी को एक ट्वीट के जरिए कहा कि, देश के जवानों के बलिदान पर कम से कम राजनीति न करें, यह नीची राजनीति है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *