Tue. May 28th, 2024
    विटामिन ई फायदे, नुकसान, स्त्रोत, भोजन vitamin e in hindi

    विटामिन ई अनेक कारणों से आपके लिए लाभदायक साबित हो सकता है, जैसे मजबूत बाल पाने में, उम्र घटाने और सुन्दर त्वचा पाने में, दिल से सम्बंधित बिमारियों को रोकने में इत्यादि। विटामिन ई एक ऑक्सीकरणरोधी अथवा एंटीऑक्सीडेंट भी है, जो शरीर की कोशिकाओं को क्षतिपूर्ण होने से बचाता है।

    शरीर में विटामिन ई की कमी होने से कई समस्याओं का खतरा रहता है, जैसे बालों का झड़ना, शुक्राणुओं में कमी, त्वचा सम्बंधित रोग आदि। इसके अलावा महिलाओं के जीवन में भी इसकी अहम् भूमिका है।

    इस लेख के जरिये हम विटामिन ई से सम्बंधित कई विषयों पर चर्चा करेंगे, जैसे विटामिन ई के फायदे, नुकसान, स्त्रोत और इसे पाने के लिए जरूरी खाद्य पदार्थ।

    विषय-सूचि

    विटामिन ई के फायदे (benefits of vitamin e in hindi)

    सुन्दर त्वचा के लिए वरदान

    पर्याप्त मात्रा में विटामिन ई का सेवन करने से त्वचा को अंधरुनी पोषकता मिलती है, जिससे त्वचा साफ़ और गोरी रहती है। इसके अलावा विटामिन ई तेल या कैप्सूल को त्वचा पर लगाने से दाग-धब्बों को भी साफ किया जा सकता है। विटामिन ई तेल का इस्तेमाल सुखी त्वचा, नाख़ून, एड़ी आदि पर भी किया जा सकता है।

    विटामिन ई का इस्तेमाल त्वचा को नमी प्रदान करने में भी किया जा सकता है। इसके लिए सोने से पहले कुछ बूंदें विटामिन ई तेल की लेकर अपने चेहरे पर लगाएं। इसमें मौजूद विशेषतायें त्वचा को कोमल और गोरी बनाने में मदद करेंगी।

    मजबूत बालों के लिए

    विटामिन ई बालों की जड़ों में पहुंचकर उन्हें मजबूत करता है, जिनसे स्वस्थ बाल उग सकें। इसके इस्तेमाल से बालों को जल्दी सफ़ेद होने से रोका जा सकता है। इसके अलावा यह बालों को काले और चमकतापूर्ण करने में मदद करता है।

    यदि आपको बाल झड़ने की शिकायत है तो आप विटामिन ई को कैप्सूल या तेल के रूप में प्रयोग कर सकते हैं। हर रोज विटामिन ई कैप्सूल लेने से शरीर में इसकी मात्रा पर्यापत रहती है। आप चाहें तो विटामिन ई का तेल खरीदकर इसका उपयोग रोजाना कर सकते हैं। सोने से पहले रोज विटामिन ई तेल को चेहरे, बाल और अन्य हिस्सों पर लगाएं। कुछ दिन इसका इस्तेमाल करने से असर देखने को मिल सकता है।

    महिलाओं के लिए

    महिलाओं को अपने हॉर्मोन के चलते कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। जैसे पीरियड के दौरान दर्द, बड़ी उम्र में हॉर्मोन के संतुलन का बिगड़ना, गर्भवती होने के दौरान अनेक समस्याएं आदि। ऐसे में यदि आपके शरीर को पर्याप्त मात्रा में विटामिन ई नहीं मिल रहा है, तो स्थिति और भी बिगड़ सकती है।

    पीरियड की समस्या के दौरान आप पीरियड के आने से दो-तीन दिन पहले और बाद में विटामिन ई की गोलियां ले सकती हैं। इसका सेवन करने पीरियड के दौरान ज्यादा खून बहने पर रोक लगायी जा सकती है एवं पीरियड की अवधि को कम किया जा सकता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि विटामिन ई प्राकृतिक रूप से आपके हॉर्मोन संतुलन को नियंत्रित करता है।

    इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में

    विटामिन ई में कई ऐसी विशेषताएं होती हैं, जिसके जरिये हानिकारक कोशिकाओं को शरीर में बढ़ने से रोका जा सकता है। सूरज की किरणों या अन्य कई कारणों से त्वचा कैंसर होने का खतरा रहता है। विटामिन ई प्राकृतिक रूप से आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है और कई जानलेवा बिमारियों को फैलने से रोकता है।

    इसके अलावा इसमें मौजूद ऑक्सीकरणरोधी गुण हड्डियों और मांसपेशियों को मजबूत करने में मदद करते हैं। यदि आपको कमजोरी या अन्य किसी हॉर्मोन सम्बंधित समस्या है, तो आप डॉक्टर के परामर्श से विटामिन ई कैप्सूल ले सकते हैं।

    विटामिन ई स्त्रोत और खाद्य पदार्थ (which food contains vitamin e in hindi)

    पर्याप्त मात्रा में विटामिन ई ग्रहण करने के लिए एक व्यस्क को दिन में 800 से 1000 मिलीग्राम विटामिन ई लेना चाहिए। यह विटामिन आप खाद्य पदार्थ, दवाईओं और कैप्सूल और अन्य कई स्त्रोतों के जरिये ले सकते हैं।

    भोजन के मामले में आप हरी-सब्जिओं और फलों का इस्तेमाल भरपूर मात्रा में कर सकते हैं। जैसे ब्रोकोली, पालक, आम, सेब, कीवी, काजू, बादाम, सूरजमुखी के बीज आदि। ध्यान रहे आपका भोजन संतुलित होना चाहिए और इन सभी का मिश्रण होना चाहिए।

    विटामिन ई कैप्सूल (vitamin e capsules in hindi)

    विटामिन ई की अत्यंत कमी के दौरान कपिसुले के जरिये भी इसका सेवन किया जा सकता है। यह आपको आस-पास की किसी भी मेडिकल की दुकान पर मिल जाएगा। हरे रंग के इन कैप्सूल को आप हर रोज खा सकते हैं। यह कैप्सूल कई मात्रा में मिलते हैं, जैसे 200 मिलीग्राम, 400 मिलीग्राम और 600 मिलीग्राम।

    विटामिन ई कैप्सूल

    एक सामान्य आयु के व्यक्ति के लिए 400 मिलीग्राम का एक कैप्सूल रोजाना काफी है। इसके अलावा आप इस कैप्सूल को तोड़कर इसमें मौजूद जैल को सीधे बालों या चेहरे पर भी लगा सकता हैं। इसके अलावा इसको तेल में मिलाकर भी त्वचा पर लगाया जा सकता है।

    विटामिन ई की कमी से होने वाले रोग (deficiency of vitamin e in hindi)

    पर्याप्त मात्रा में विटामिन ई ना होने से शरीर में अनेक समस्याएं हो सकती हैं। चूंकि हमारे शरीर के भीतर विटामिन ई का निर्माण नहीं होता है, इसलिए हमें इसे बाहर से ही लेना पड़ता है। इसकी कमी से शरीर में बालों और त्वचा से सम्बंधित अनेक समस्यें उत्त्पन हो सकती हैं।

    सबसे पहले, यदि आपके शरीर में विटामिन ई की कमी है, तो इसका असर आपके बालों पर देखने को मिल सकता है। टूटे और झड़ते बाल इसका मुख्य लक्षण हैं। इसके अलावा कई लोगों को गंजेपन की भी शिकायत रहती है। बालों में रुसी का होना भी इसकी कमी को दर्शाता है। इसे दूर करने के लिए विटामिन ई का भरपूर सेवन करना बहुत ही आवश्यक है।

    बालों के अलावा आपकी त्वचा पर भी इसका असर देखा जा सकता है। यदि हर समय आपकी त्वचा रूखी और दाग-धब्बों युक्त रहती है, तो समझ लीजिये कि आप पर्यापत मात्रा में विटामिन ई नहीं ले रहे हैं। विटामिन ई में मौजूद पोषक तत्व आपके चेहरे और बाकी त्वचा को अंदर से नमी प्रदान करते हैं और आपकी त्वचा को सुन्दर बनाने में मदद करते हैं।

    विटामिन ई की कमी आपके हॉर्मोन के असंतुलन होने पर देखी जा सकता है। यह समस्या सिर्फ महिलाओं तक ही सीमित नहीं रहती है, बल्कि पुरुषों पर भी इसका असर देखा जा सकता है।

    महिलाओं के मामले में पीरियड के आस-पास के दिनों में शरीर में अनेक चुनौतियां आ सकती है। इसके अलावा पुरुषों में शुक्राणुओं की कमी भी यह दर्शाती है। इससे बचाव के लिए यह जरूरी है कि आप संतुलन आहार के साथ-साथ अन्य स्त्रोतों के जरिये भी विटामिन ई का सेवन करें।

    By पंकज सिंह चौहान

    पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

    11 thoughts on “विटामिन ई फायदे, विटामिन ई स्त्रोत, खाद्य पदार्थ और नुकसान”
      1. vitamin e के कैप्सूल सभी कंपनियों के अच्छे आते हैं. आप मेडिकल की दुकम पर जाकर इसके बारे में और जानकारी पा सकते हैं.

    1. i think this is the best article i ever seen in the internet world on Evion 400. Thanks Bhai

      1. आप संतुलित आहार लें. इसमें दूध, अंडे, हरी सबजियाँ, अनाज आदि खाएं. ज्यादा विटामिन e की कमी होने पर विटामिन e के कैप्सूल लें.

    2. kuch mahinon se bahut zyaada hairfall ho rahaa hai maine kuch shampoos and tonics try aar liye lekin koi faayda nahi ho rahaa kyaa mujhe vitaamin e capsules se kuch faayda mil sakta hai .,

      1. vitamin e ko hair fall control ke liye suggest kiya jaataa hai. bahut se doctor bhi hair fall control ke liye vitamin e capsule ki advice dete hain.

    3. jaisa ki aapne bataaya ki vitamin e ki kami se agar hamaare shareer main vitamin e ki kami ho jaati hai to skin problems ho sakti hai lekin hamen kyaa kyaa problems ho sakti hain??

    4. mujhe apni skin ko achchhi tarahh se maintain karnaa hai to mujhe vitamin e ke konse konse diet leni chaahiye daily?

    5. hame hamaari body se vitamin e ki kami ko door karne k liye diet mein kon kon si vegetables and fruits add karne chahiye?

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *