शुक्रवार, दिसम्बर 13, 2019

विज्ञान के अजूबे पर निबंध

Must Read

पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत में बस में आग लगने से 15 यात्रियों की मौत

पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत में शुक्रवार को एक यात्री बस और वैन की भिड़ंत के बाद दोनों वाहनों में...

उत्तर प्रदेश में भूख और ठंड से सरकारी गौशाला में 22 गायों की मौत, 2 कर्मचारी निलंबित

उत्तर प्रदेश में बांदा जिले की अतर्रा कान्हा पशु आश्रय केंद्र (सरकारी गौशाला) में कथित रूप से भूख और...

‘मर्दानी 2’ में रानी मुखर्जी के काम की ट्विटर पर सराहना

गोपी पुथरण निर्देशित फिल्म 'मर्दानी 2' शुक्रवार को रिलीज की गई। फिल्म में रानी मुखर्जी मुख्य किरदार में हैं।...
विकास सिंह
विकास नें वाणिज्य में स्नातक किया है और उन्हें भाषा और खेल-कूद में काफी शौक है. दा इंडियन वायर के लिए विकास हिंदी व्याकरण एवं अन्य भाषाओं के बारे में लिख रहे हैं.

हर किसी का जीवन वैज्ञानिक आविष्कारों और आधुनिक प्रौद्योगिकी पर बेहद निर्भर है। विज्ञान और प्रौद्योगिकी की प्रगति के साथ लोगों के जीवन काफी हद तक बदल गए हैं। इसने जीवन को सरल, आसान और तेज बना दिया है। वैज्ञानिक विकास को बैलगाड़ियों के युग से लेकर आधुनिक वाहनों तक देखा जा सकता है।

जीवन के हर क्षेत्र में विज्ञान और प्रौद्योगिकी को व्यवहार में लाया गया है। लगभग सभी समस्याओं को आधुनिक गैजेट्स की मदद से हल किया जा सकता है। हम अपने दैनिक जीवन में जो सुधार देखते हैं, वे विज्ञान के कारण हैं। राष्ट्र के समुचित विकास और उन्नति के लिए, विज्ञान और उन्नत प्रौद्योगिकी का उपयोग होना आवश्यक है।

आधुनिक काल विज्ञान का युग है। हम अपने जागने से लेकर सोने तक विज्ञान की उपस्थिति का अनुभव करते हैं। यह मानव जीवन के लिए आविष्कारों के नए और नए रूपों में योगदान दे रहा है। आधुनिक विकास ज्यादातर विज्ञान के आशीर्वाद पर निर्भर करता है।

विज्ञान के अजूबे, short essay on wonders of science in hindi (200 शब्द)

विज्ञान मानव जाति के लिए एक आशीर्वाद है। यह मनुष्य के अस्तित्व को सहज बनाता है। वैज्ञानिक जानकारी और ज्ञान ने मनुष्य को सशक्त बनाया है। खेती, संचार, चिकित्सा विज्ञान और लगभग हर क्षेत्र में, मनुष्य को विज्ञान की समझ के साथ प्रचुर मात्रा में विकास हुआ है।

तो हम दैनिक जीवन में विज्ञान कहाँ पा सकते हैं? आपको इसे खोजने की आवश्यकता नहीं है। यह हमेशा आपके आसपास होता है। तो आइए जानें कुछ और हमारे दैनिक जीवन में विज्ञान की खोज करें:

हमारे दैनिक जीवन में विज्ञान:

  • पाक कला – विकिरण, चालन, और संवहन गर्मी के हस्तांतरण के लिए माध्यम हैं। इसलिए, वे गर्मी ऊर्जा का हिस्सा हैं और जहां गर्मी है वहां भौतिकी है।
  • भोजन – हमारे द्वारा खाया जाने वाला भोजन हमारे शरीर के अंदर एक रासायनिक प्रतिक्रिया से गुजरता है जो हमें पूरे दिन बनाए रखने की ऊर्जा देता है। यह जीव विज्ञान है।
  • वाहन – हमारी कार में होने वाली प्रक्रिया जो पेट्रोल या डीजल जैसे ईंधन को जलाने के लिए होती है, दहन कहलाती है। यह रसायन विज्ञान के अंतर्गत आता है।
  • घर का सामान -मिक्सर जैसे उपकरण अपने ब्लेड को चालू करने और भोजन को मंथन करने के लिए केन्द्रापसारक बल का उपयोग करते हैं।

अन्वेषकों ने निष्कर्ष निकाला कि इलेक्ट्रॉनों डेटा और ऑडियो को बहुत तेज़ी से ले जा सकते हैं इसलिए वे टी. वी. के विचार के साथ आए। यह टी वी के पीछे मूल सिद्धांत है और भौतिकी के विषय के नीचे स्थित है। एक रेफ्रिजरेटर में, चारों ओर कूलर तरल पास गर्मी को अवशोषित करेगा और तापमान को कम करेगा। फिर से भौतिकी और रसायन विज्ञान इसमें शामिल हैं।

विज्ञान के अजूबे पर निबंध, wonders of science essay in hindi (300 शब्द)

परिचय

विज्ञान और इसके शानदार आविष्कारों ने विभिन्न उद्योगों में एक क्रांति ला दी है। इन आविष्कारों ने न केवल औद्योगिकीकरण में मदद की है, बल्कि हमारे जीवन को आसान और आरामदायक बनाया है। आइए जानें कि कैसे विज्ञान के चमत्कारों ने हमारे दैनिक जीवन को बेहतर के लिए बदल दिया है।

विज्ञान के लाभ:

विज्ञान ने हमारे जीवन को कैसे बदल दिया है?:

खाद्य प्रौद्योगिकी में अनुसंधान के माध्यम से खाद्य पदार्थों के संरक्षण और स्वाद के नए तरीके ईजाद किए जा रहे हैं।
प्लास्टिक और विभिन्न कृत्रिम आपूर्ति की एक विशाल विविधता बनाई गई है, जिसके घर और उद्योग में सैकड़ों उपयोग हैं।
एंटीबायोटिक्स और टीकाकरण संक्रामक बीमारियों और स्वास्थ्य समस्याओं से हमारा बचाव करते हैं।

आजकल शिशुओं के होने की बीमारी की कोई संभावना नहीं है, क्योंकि जन्म अब अस्पतालों में विशेष स्टाफ की देखरेख में होता है। विज्ञान ने भावी जीवन की बीमारियों से बचाव के लिए शिशुओं के लिए टीकों का आविष्कार किया है।
स्वच्छता की स्थिति में पहले की तुलना में बहुत सुधार हुआ है।

ड्रेनेज सिस्टम को आधुनिक बनाया गया है। जल प्रदूषण के कारण होने वाली बीमारियों और अन्य बीमारियों को दूर करने के लिए फ़िल्टर्ड और मिनरल वाटर उपलब्ध है परिवहन के साधनों में भी भारी वृद्धि और परिवर्तन हुआ है। अंधविश्वासों को त्याग दिया गया है और हर चीज के प्रति रवैया बदल दिया गया है।

लोग अब इस पर विचार नहीं करते हैं कि बीमारियां बुरी आत्माओं के कारण होती हैं। विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में शोध के कारण लोग खुले विचारों वाले और महानगरीय हो गए हैं, परिणामस्वरूप, वैज्ञानिक हमेशा नए मुद्दों, अन्वेषणों, खोजों और आविष्कारों की खोज करने की कोशिश करते हैं।

निष्कर्ष:

हमारे रोजमर्रा के जीवन में विज्ञान की भूमिका महत्वपूर्ण है। विज्ञान के विभिन्न योगदानों ने हमारे अस्तित्व को अधिक आराम और आरामदायक बना दिया है। बिजली, पंखे, एयर-कंडीशनर, टेलीविजन, मोबाइल फोन, मोटर वाहन, आदि जैसे विज्ञान के शानदार आविष्कारों ने हमारे जीवन को आसान बना दिया है, और अब उनका उपयोग किए बिना जीवन जीना लगभग असंभव है।

विज्ञान के अजूबे पर निबंध, wonders of science essay in hindi (400 शब्द)

प्रस्तावना:

शुरुआती उम्र में, मनुष्य एक राक्षस की तरह रहता था। वह नहीं जानता था कि आग कैसे बुझाए, कैसे खाना बनाए और कैसे कपड़े पहने। उसे यह भी नहीं पता था कि घर या झोपड़ी कैसे बनाई जाती है, कैसे बोलना, पढ़ना या लिखना है।

लेकिन विज्ञान के उपयोग से उत्तरोत्तर, उन्होंने एक महान सभ्यता विकसित की। हम जानते हैं कि विज्ञान ने हमें बहुत सी चीजें दी हैं और हमारे जीवन को एक रॉकेट से लेकर पिन बनाने तक से हमारी ज़िन्दगी को बेहतर बनाया है। ये सभी विज्ञान के उपहार हैं। लेकिन जैसा कहा जाता है – हर सिक्के के दो पहलू होते हैं।

विज्ञान के नुकसान:

विज्ञान ने कुछ ऐसे आविष्कार किए हैं जो मानव जाति के लिए विनाशकारी साबित हुए हैं। इनका आविष्कार मानव की भलाई के लिए किया गया था, लेकिन ये निम्नलिखित तरीकों से एक अभिशाप साबित हो रहे हैं:

प्रदूषण:

औद्योगिकीकरण के साथ प्रदूषण शुरू हुआ। उद्योग और वाहन प्रमुख प्रदूषण में योगदान करते हैं। प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में आविष्कार से प्रदूषण में वृद्धि हुई है। जल, वायु और ध्वनि प्रदूषण – ये सभी मानव जाति के लिए खतरा हैं। यह इस प्रदूषण के कारण है कि हम ग्लोबल वार्मिंग जैसी बड़ी समस्याओं का सामना कर रहे हैं और यह मानवता के लिए एक चुनौती बन गई है। उद्योगों द्वारा कई हानिकारक और जहरीली गैसों को पर्यावरण में छोड़ा जाता है।

ये वातावरण को प्रदूषित करते हैं। हम जो हवा लेते हैं वह बेहद प्रदूषित होती है और विभिन्न बीमारियों का कारण बनती है। इन उद्योगों से निकलने वाले कचरे को अक्सर नदियों और अन्य जल संसाधनों में फेंक दिया जाता है जिससे जल प्रदूषण होता है। जलीय प्रजातियों में गिरावट इस प्रदूषण का परिणाम है।

विनाशकारी हथियार:

घातक और विनाशकारी हथियार फिर से विज्ञान का आविष्कार हैं। विज्ञान ने मानव जाति को उच्च तकनीक वाले हथियार और वॉरहेड दिए हैं। ये हथियार सिर्फ एक बटन को ट्रिगर करके दूर के स्थान पर बड़े पैमाने पर हत्या और विनाश का कारण बन सकते हैं।

परमाणु बम, हाइड्रोजन बम, जहरीली गैसों, मिसाइलों, रासायनिक युद्ध जैसे विज्ञान के विनाशकारी अनुप्रयोगों को किसी भी बड़े शहर या देश के अस्तित्व को सेकंड के भीतर खत्म किया जा सकता है। परमाणु ऊर्जा संयंत्र मानव जाति और पर्यावरण के लिए एक गंभीर खतरा है, 1984 में हुई भोपाल गैस त्रासदी ने हजारों लोगों की जान ले ली और कई जहरीली गैस रिसाव के कारण स्थायी रूप से अक्षम हो गए।

बेरोजगारी:

हाई-टेक मशीनरी के आविष्कार के साथ, जो काम पहले बहुत अधिक समय तक होता था, अब शायद ही कोई समय लगता है। आविष्कार ने भले ही हमारे जीवन को आसान बना दिया हो, लेकिन बेरोजगारी भी पैदा कर दी है। औद्योगीकरण के कारण, कम मानव बल की आवश्यकता है क्योंकि सभी प्रमुख कार्य अब मशीनों द्वारा किए जा रहे हैं।

निष्कर्ष:

वैज्ञानिक आविष्कारों और खोजों के शुरुआती युग में विज्ञान बहुत फायदेमंद था जो अब मानव जाति के लिए उतना ही भयानक हो गया है। ऐसा लगता है कि वह समय बहुत दूर नहीं है जब पूरी मानव जाति को विज्ञान की बुराइयों के कारण दुख का अनुभव करना होगा। मनुष्य को वैज्ञानिक आविष्कारों का बुद्धिमानी से उपयोग करना चाहिए।

विज्ञान के अजूबे पर निबंध, essay on wonders of science in hindi (500 शब्द)

प्रस्तावना :

विज्ञान यह समझने में योगदान देता है कि चीजें कैसे और क्यों काम करती हैं। यह जटिल प्रणालियों के दैनिक कामकाज के पीछे का कारण बताता है – मानव शरीर से आधुनिक परिवहन तक। छात्र और बच्चे इस ज्ञान का उपयोग नई अवधारणाओं को समझने और सीखने, नए हितों का उपयोग करने और अच्छी तरह से सूचित निर्णय लेने में सक्षम हैं।

यह कई तथ्यों का सामरिक और दृश्यमान प्रमाण भी प्रदान करता है जो हम किताबों में पढ़ते हैं या T.V पर देखते हैं। इससे समझ बढ़ाने में मदद मिलती है और बच्चों को जानकारी रखने में मदद मिलती है।

स्कूल स्तर पर विज्ञान के चमत्कार सीखना:

विज्ञान कोई सीमा नहीं जानता क्योंकि यह एक सार्वभौमिक विषय है। वर्षों के सक्रिय और लगातार प्रयासों के बाद, विज्ञान ने स्कूल के पाठ्यक्रम का एक हिस्सा होने का दावा किया और मान्यता प्राप्त की। विज्ञान ने मनुष्य के अस्तित्व के लिए अपरिहार्य साबित कर दिया है और मानव जीवन में क्रांति ला दी है।

विज्ञान की सर्वोच्चता अब हर क्षेत्र में स्थापित हो चुकी है और इस प्रकार विज्ञान पर छात्रों को शिक्षित करना आवश्यक है – विज्ञान क्या है और विज्ञान कहाँ है। हमारे जीवन के गति को भी तेज किया गया है। आदमी को पूरी तरह से एक नया सामाजिक और राजनीतिक दृष्टिकोण दिया गया है।

इसलिए, इस युग में विज्ञान का अध्ययन एक आवश्यकता बन गया है और आधुनिक विज्ञान को सीखे बिना मनुष्य आधुनिक युग की समझ के साथ एक लंगड़े व्यक्ति की तरह है। यहाँ क्यों स्कूल स्तर पर विज्ञान के चमत्कार सीखना महत्वपूर्ण है:

विज्ञान निरीक्षण और तर्क पर विशेष शिक्षण प्रदान करता है। यह छात्रों को एक उद्देश्यपूर्ण निर्णय देता है। जीवन में हमारी देखरेख के लिए विज्ञान सीखना अपराजेय रूप से सहायक है। हम वैज्ञानिक आविष्कारों की दुनिया में मौजूद हैं। इसलिए विज्ञान की शिक्षा को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है।

विज्ञान को वैज्ञानिक तरीकों के प्रशिक्षण और ज्ञान की पेशकश करने के लिए सिखाया जाता है। विज्ञान का अपना साहित्य और सांस्कृतिक मूल्य हैं। न्यूटन, डार्विन, आर्मस्ट्रांग और अन्य की वैज्ञानिक खोजें मानव जाति के लिए खजाने हैं और इसलिए विज्ञान ने मानवतावादी अध्ययन में पहली रैंक हासिल की है।

विज्ञान का प्रभावी मूल्य है। यह बच्चों को अपने अवकाश का सही उपयोग करने का निर्देश देता है और वैज्ञानिक शौक में स्पष्ट रूप से चित्रित किया गया है। विज्ञान के विभिन्न क्षेत्रों में अवलोकन और प्रयोग के तरीकों के बारे में जागरूकता छात्रों को एक तार्किक मस्तिष्क, एक महत्वपूर्ण निर्णय और अनुशासनात्मक संगठन की क्षमता विकसित करने में मदद करती है।

विज्ञान साधारण स्कूली शिक्षा के दोषों के उपचार में मदद करता है। विशेष योग्यता दिखाने वालों की शिक्षा में इसे सबसे मूल्यवान तत्व माना जाता है। यह मन का अनुशासन प्रदान करता है।

निष्कर्ष:

विज्ञान और प्रौद्योगिकी का अध्ययन ज्ञान प्राप्त करने के लिए किया जाता है। जितना अधिक हम प्रकृति के रहस्यों को जानते हैं, उतना ही हम समझते हैं कि यह कितना अज्ञात है। अब वैज्ञानिक भावना की उत्तेजना के साथ प्रकृति के आश्चर्य के बारे में बात करते हैं।

हम अंतरिक्ष में परमाणुओं के रूप में एक जीवित जीव में आणविक कोशिकाओं के अधिक से अधिक रहस्यों को सीख रहे हैं। इसलिए अध्ययन के एक आधुनिक पाठ्यक्रम में विज्ञान और प्रौद्योगिकी का अध्ययन शामिल होना चाहिए क्योंकि आधुनिक व्यक्ति को जीवन की समस्याओं के लिए वैज्ञानिक दृष्टिकोण की आवश्यकता होती है।

विज्ञान के अजूबे पर निबंध, essay on wonders of science in hindi (600 शब्द)

प्रस्तावना:

विज्ञान एक साधारण कलम से लेकर प्रिंटिंग मशीन तक, कागज के हवाई जहाज से लेकर अंतरिक्ष यान तक हर जगह है। विज्ञान हमारे दैनिक जीवन का एक अभिन्न अंग है। विज्ञान ने अपने नवाचारों के साथ हमारे जीवन को आसान और आरामदायक बना दिया है। विज्ञान ने जीवन के हर क्षेत्र को बदल दिया है। असंभव चीजें संभव हो गई हैं।

विज्ञान का उपहार:

हम अपने दैनिक जीवन में जिन हजारों चीजों का उपयोग करते हैं, वे विज्ञान का उपहार हैं। यहाँ इन में से कुछ पर एक नज़र है:

  • बिजली – बिजली के आविष्कार ने मानव सभ्यता के लिए एक अविश्वसनीय परिवर्तन का नेतृत्व किया। बिजली गाड़ियों, भारी मशीनरी, उद्योगों या अन्य भारी वैगनों को चलाने में मदद करती है। एयर कंडीशनर, बिजली के पंखे, इलेक्ट्रिक हीटर, लाइट्स ने हमारे जीवन को और अधिक आरामदायक बना दिया है। मूल रूप से, सभी वैज्ञानिक प्रौद्योगिकियां बिजली से आराम करती हैं।
  • चिकित्सा और सर्जरी – विज्ञान ने अद्भुत दवाएं दी हैं जो हमें तुरंत राहत देती हैं। विज्ञान ने कई खतरनाक और घातक बीमारियों को दूर करने में मदद की है। लोगों को विभिन्न बीमारियों से बचाने के लिए कई टीकाकरण और दवाओं की खोज की गई है। अब, मानव शरीर के लगभग हर हिस्से को सर्जरी द्वारा प्रत्यारोपित किया जा सकता है। यह हमें देखने के लिए आँखें, सुनने के लिए कान और चलने के लिए पैर दे सकता है। वैज्ञानिक सर्जरी के लिए नए और बेहतर तरीकों की खोज कर रहे हैं। चिकित्सा विज्ञान में अविश्वसनीय सुधार आया है। अब रक्त आधान और अंग प्रत्यारोपण संभव है। एक्स-रे, अल्ट्रासोनोग्राफी, ईसीजी, एमआरआई, पेनिसिलिन, आदि के आविष्कार ने समस्याओं का निदान बहुत आसान बना दिया है।
  • यात्रा और परिवहन – विज्ञान ने हमारी यात्रा को तेज और आरामदायक बना दिया है। हम दुनिया के किसी भी हिस्से में कुछ घंटों के भीतर पहुंच सकते हैं। हम बसों, कारों, ट्रेनों, जहाजों, हवाई जहाज और अन्य वाहनों से यात्रा कर सकते हैं। वे न केवल हमें ले जाते हैं बल्कि सामान और सामग्रियों को दूर-दूर के स्थानों तक जल्दी और सुरक्षित रूप से पहुंचाते हैं।
  • संचार – विज्ञान ने संचार के तरीके में एक महान परिवर्तन लाया है। यह वह समय नहीं है जब हमें अपने पत्र के जवाब के लिए लंबे समय तक इंतजार करना पड़ता है। यह वह समय है जब हम अपने रिश्तेदारों से बात कर सकते हैं, भले ही वे हमसे बहुत दूर हों। हम उनसे बात कर सकते हैं और उन्हें अपने मोबाइल फोन पर भी देख सकते हैं। हम दुनिया के किसी भी हिस्से से उनसे संपर्क कर सकते हैं। मोबाइल और इंटरनेट ने लोगों के बीच की दूरी कम करने में मदद की है।
  • कृषि – विज्ञान किसानों के लिए एक वास्तविक मित्र साबित हुआ है। कई नवाचार और खोजें किसानों को अच्छी गुणवत्ता वाली फसल उगाने में मदद करती हैं। फसल काटने की मशीन, ट्रैक्टर, खाद और अच्छी गुणवत्ता के बीज एक किसान को विज्ञान का उपहार है। डेयरी व्यवसाय में, मशीनरी के प्रकार उनके व्यवसाय को बढ़ाने में मदद कर रहे हैं। विज्ञान ने उनकी जीवन शैली में सुधार किया है।
  • मनोरंजन – मनोरंजन विज्ञान का पहला साधन हमें रेडियो दिया गया था। लोग उस पर गाने और खबरें सुनते थे। लेकिन अब विज्ञान ने हमें मनोरंजन के क्षेत्र में अपने नए नवाचारों से चकित कर दिया है। अब, हम अपने मोबाइल पर टी। वी। देख सकते हैं। हम हर जगह लाइव टेलीकास्ट देख सकते हैं। हम मोबाइल, T.V और कंप्यूटर पर भी वीडियो देख सकते हैं। हम इनके बिना अपने जीवन की कल्पना नहीं कर सकते।
  • शिक्षा और उद्योग – विज्ञान ने हमारी शिक्षा और व्यापार क्षेत्र को शहरीकृत कर दिया है। मुद्रण, टाइपिंग, बाइंडिंग आदि के नवाचार ने हमारी शिक्षा प्रणाली को बढ़ावा दिया है। इसी तरह, भारी औद्योगिक मशीनरी के आविष्कार के लिए सुई, कैंची और सिलाई मशीन के आविष्कार से, औद्योगिक क्षेत्र में चमत्कार किए गए हैं।

निष्कर्ष

विज्ञान ने हमें विभिन्न उपहार दिए हैं लेकिन इसका उपयोग मानव को नुकसान पहुंचाने के लिए भी किया जा सकता है। इसने हमें राइफल के साथ-साथ बुलेट प्रूफ जैकेट भी दिए हैं। यह हम पर निर्भर करता है कि हम विज्ञान का उपयोग कैसे करते हैं – मानवता के कल्याण के लिए या मानवता के विनाश के लिए। हमें अपनी जीवन शैली को बढ़ाने और मुस्कुराहट फैलाने के लिए विज्ञान का उपयोग करना चाहिए न कि किसी को आंसू देने के लिए। हिंसा बंद करो और हर जगह खुशी फैलाओ।

विज्ञान के अजूबे पर निबंध, essay on wonders of science in hindi (800 शब्द)

प्रस्तावना:

हम मनुष्य अपने परिवेश या घटनाओं का निरीक्षण करते हैं और तथ्यों और आंकड़ों के रूप में हमारे संदर्भों का दस्तावेजीकरण करते हैं। यह आगे कुछ नए अन्वेषण और तार्किक निष्कर्ष की ओर ले जाता है, जिसे विज्ञान कहा जाता है। विज्ञान मानव हस्तक्षेप के माध्यम से विकास और अन्वेषण की एक नियमित प्रक्रिया में है।

विज्ञान सर्वव्यापी है; यह सब कुछ और हर जगह है, चाहे हम नोटिस करें या न करें। जिस सड़क पर हम चलते हैं, जिस घर में हम रहते हैं, हमारे द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले बर्तन, कपड़े, कपड़े, साबुन, टूथपेस्ट, दवाइयाँ, पंखे, एयर कंडीशनर यहाँ तक कि कुर्सियाँ और बिस्तर तक, केवल वैज्ञानिक उन्नति के कारण और अंदर उत्पादित किए गए हैं एक तरह से विज्ञान के उत्पाद हैं या “विज्ञान के चमत्कार” अधिक सटीक हैं।

विज्ञान के असंख्य चमत्कार हैं जो एक छोटे पिन से लेकर सुपरसुमाइज्ड जंबो जेट या स्पेस क्राफ्ट तक हैं और इस लेख में सभी का उल्लेख करना संभव नहीं है; इसलिए, हम कुछ सबसे महत्वपूर्ण “विज्ञान के चमत्कार” से गुजरेंगे, जिन्होंने मानव जीवन को पूरी तरह से सुधार दिया है।

“विज्ञान के चमत्कार”

1) पहिए

“व्हील” को हमारी सूची में जगह मिली है क्योंकि यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण वैज्ञानिक आविष्कार है, इतना ही नहीं आज एक राष्ट्र की अर्थव्यवस्था इस बात पर निर्भर करती है कि उसके सड़कों पर कितने पहिए घूम रहे हैं। पहियों के बिना एक राष्ट्र अपनी वृद्धि को रोकते हुए स्थिर खड़ा रहेगा। क्या आप किसी भी चीज़ पर, किसी भी तरह से या उस चीज़ के लिए किसी भी पहिया का उपयोग किए बिना कार्यालय या स्कूल जाने की कल्पना कर सकते हैं। बिलकूल नही!

पहिया भी विज्ञान के अनुप्रयोग के माध्यम से एक वस्तु के विकास का एक आदर्श उदाहरण है। आज हम अपने वाहनों में जिन पहियों का उपयोग करते हैं, वे लगभग 12000 साल पहले आविष्कार किए गए अपने आदिम रूप से कई चरणों में विकसित हुए हैं। आदिम पहिए और कुछ नहीं थे लेकिन केंद्र में एक छेद वाला लकड़ी का एक गोलाकार खंड था।

2) बिजली

बिजली स्पष्ट रूप से एक और वस्तु है, जिसके बिना रोजमर्रा की जिंदगी अकल्पनीय है। आज हम जो बिजली का उपयोग करते हैं उसका हजारों साल का वैज्ञानिक अनुसंधान और अध्ययन हुआ है। बहुत समय पहले, जब लोग बिजली के बारे में जागरूक नहीं थे, वे कभी भी कम नहीं थे, बिजली की मछली से होने वाले सदमे के बारे में नहीं जानते थे। लगभग 2750 ईसा पूर्व के प्राचीन मिस्र और चिकित्सकों ने अपने ग्रंथों में विद्युत मछली के साथ अनुभवों का दस्तावेजीकरण किया है।

इसके बाद, कई उत्साही और वैज्ञानिकों द्वारा 16 वीं, 17 वीं और 18 वीं शताब्दी में शोध किए गए, इससे पहले कि थॉमस अल्वा एडिसन ने डायरेक्ट करंट की खोज की और निकोला टेस्ला ने 19 वीं शताब्दी में अल्टरनेटिंग करंट का आविष्कार किया। एक इलेक्ट्रिक मछली से उपयोगी डीसी और एसी धाराओं तक बिजली की खोज, लगातार वैज्ञानिक अनुसंधान और विकास के माध्यम से ही संभव हुई है।

3) कंप्यूटर

कंप्यूटर विज्ञान के महानतम आविष्कारों में से एक हैं। पहली बार गणना उपकरण “अबेकस”, 1622 में विलियम मस्ट्रेड द्वारा विकसित किया गया था और उनके चारों ओर मोतियों वाले तार के साथ एक साधारण फ्रेम फिट किया गया था। आज हम जिन कंप्यूटरों का उपयोग करते हैं, वे 1833 और 1871 के बीच चार्ल्स बैबेज द्वारा विकसित एनालिटिक इंजन से विकसित हुए हैं। अबैकस से लेकर एनालिटिक इंजन से लेकर आधुनिक डेस्कटॉप और लैपटॉप तक, कंप्यूटर आकार, आकार और क्षमता में बेहद प्रगति कर चुके हैं और निर्विवाद रूप से सबसे महत्वपूर्ण हो गए हैं। वैज्ञानिक आश्चर्य।

4) इंटरनेट

इंटरनेट भी विज्ञान के सबसे अद्भुत आविष्कारों में से एक है और यह हमारे दिन-प्रतिदिन के जीवन का एक अविभाज्य हिस्सा बन गया है। दुनिया को करीब लाने के लिए मनुष्य की इच्छा को पूरा करने के लिए इंटरनेट का आविष्कार किया गया था। इसने संचार और सूचना विनिमय में पहले की तरह क्रांति ला दी है। आज हमारे पास जिस इंटरनेट की गति है, वह एक सदी के शोध और विकास का परिणाम है।

विज्ञान का यह “इंटरनेट” आश्चर्य अभी भी विकास की प्रक्रिया में है और हर गुजरते मिनट के साथ बेहतर और बेहतर होता जा रहा है। विज्ञान ने किसी विचार या चीज़ पर कैसे लागू किया, इसका सटीक उदाहरण, इसे अनंत विकास के मार्ग पर धकेल सकता है।

5) संज्ञाहरण और टीके

संज्ञाहरण और टीके चिकित्सा विज्ञान के दो चमत्कार हैं, जिन्होंने क्रमशः चिकित्सा संचालन और रोग उन्मूलन में क्रांति ला दी है। वे दोनों लाखों लोगों की जान बचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

आज, किसी भी ऑपरेशन, यह मामूली या प्रमुख हो सकता है, शायद ही संज्ञाहरण के बिना कल्पना की जा सकती है। यह रोगी को दर्द से बचाता है, अन्यथा असहनीय दर्द और यातना देता है। एनेस्थीसिया के बिना कई मेडिकल ऑपरेशन संभव नहीं हो सकते थे। नए सिद्धांतों को वैज्ञानिक सिद्धांतों को लागू करके नियमित रूप से शोध और विकास किया जा रहा है।

टेटनस, मम्प्स, डिप्थीरिया, खसरा, काली खांसी, पोलियो और अन्य जैसी घातक बीमारियों से सुरक्षा प्रदान करके टीके लाखों बच्चों को बचाते हैं।

निष्कर्ष :

विज्ञान स्वयं विकसित नहीं होता है; इसके बजाय यह उन चीजों के माध्यम से विकसित होता है जिनके सिद्धांतों को लागू किया जाता है। विज्ञान ने हमारे जीवन को आसान और सुरक्षित बना दिया है और आने वाले युगों तक ऐसा करना जारी रखेगा। विज्ञान और प्रौद्योगिकी में उन्नति अनिवार्य है और दुनिया हमेशा विज्ञान के प्रति उत्साही और “विज्ञान के चमत्कार” से भरी रहेगी।

यह लेख आपको कैसा लगा?

नीचे रेटिंग देकर हमें बताइये, ताकि इसे और बेहतर बनाया जा सके

औसत रेटिंग 4 / 5. कुल रेटिंग : 92

यदि यह लेख आपको पसंद आया,

सोशल मीडिया पर हमारे साथ जुड़ें

हमें खेद है की यह लेख आपको पसंद नहीं आया,

हमें इसे और बेहतर बनाने के लिए आपके सुझाव चाहिए

इस लेख से सम्बंधित अपने सवाल और सुझाव आप नीचे कमेंट में लिख सकते हैं।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत में बस में आग लगने से 15 यात्रियों की मौत

पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत में शुक्रवार को एक यात्री बस और वैन की भिड़ंत के बाद दोनों वाहनों में...

उत्तर प्रदेश में भूख और ठंड से सरकारी गौशाला में 22 गायों की मौत, 2 कर्मचारी निलंबित

उत्तर प्रदेश में बांदा जिले की अतर्रा कान्हा पशु आश्रय केंद्र (सरकारी गौशाला) में कथित रूप से भूख और ठंड से दो दिनों में...

‘मर्दानी 2’ में रानी मुखर्जी के काम की ट्विटर पर सराहना

गोपी पुथरण निर्देशित फिल्म 'मर्दानी 2' शुक्रवार को रिलीज की गई। फिल्म में रानी मुखर्जी मुख्य किरदार में हैं। फिल्म को देखने के बाद...

चिली विमान हादसे में किसी के बचने की उम्मीद कम

चिली की वायुसेना ने कहा है कि अधिकारियों ने अंटार्कटिका के लिए रवाना हुए 38 लोगों के साथ दुर्घटनाग्रस्त सैन्य विमान से किसी भी...

झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 : अब संथाल, कोयलांचल में बिछेगी सियासी बिसात

झारखंड विधानसभा चुनाव के तीन चरणों का मतदान समाप्त हो जाने के बाद अब दो चरणों का मतदान शेष है। शेष दो चरणों के...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -