Wed. Apr 24th, 2024
    विजय गोखले

    भारत के विदेश सचिव विजय गोखले ने अमेरिकी राज्य सचिव माइक पोम्पिओ से 11 मार्च को वांशिगटन में द्विपक्षीय संबंधों और क्षेत्रीय मसलों के बाबत बातचीत की थी। विदेश मंत्रालय के मुताबिक विजय गोखले तीन दिवसीय यात्रा पर अमेरिका गए हैं और सोमवार सुबह वह अमेरिकी राज्य सचिव से मुलाकात करेंगे। साथ ही भारत और अमेरिका के बीच द्विपक्षीय, क्षेत्रीय व वैश्विक मसलों पर बातचीत करेंगे।

    विजय गोखले अपने अमेरिकी समकक्षी से करेंगे मुलाकात

    वांशिगटन में विजय गोखले अपने समकक्षी के साथ विदेश विभागीय चर्चा भी करेंगे। यह बातचीत राजनीतिक मामलों के राज्य सचिव डेविड हेल और आर्म्स कंट्रोल एंड इंटरनेशनल सिक्योरिटी मामलों के राज्य सचिव एंड्रिया थॉम्पसन के साथ रणनीतिक रक्षा वार्ता करेंगे।

    विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि “द्विपक्षीय संबंधों और  सुरक्षा सम्बंधित विकास व विचारों के आदान प्रदान की समीक्षा के लिए यह नियमित उच्च स्तरीय तंत्र है। साथ ही संयुक्त हित के मसलों पर स्थिति का आंकलन भी इसी से किया जाता है।” विजय गोखले अमेरिका के वरिष्ठ प्रशासनीय अधिकारीयों और कांग्रेस के नेताओं से भी मुलाकात करेंगे।

    भारत-पाक तनाव जारी

    भारत और पाकिस्तान के बीच पुलवामा आतंकी हमले के बाद जारी भारी गतिरोध के मध्य में विजय गोखले अपने अमेरिकी समकक्षी से मुलाकात कर रहे हैं। 14 फरवरी को हुए इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान में स्थित जैश ए मोहम्मद संगठन ने ली थी।

    रवीश कुमार के मुताबिक “अभी किसी देश ने आधिकारिक स्तर पर दोनों देशों के बीच मध्यस्थता का प्रस्ताव नहीं दिया है।” अमेरिकी राष्ट्रपति ने दावा किया था कि अमेरिका इसमें शामिल है और भारत-पाकिस्तान को रोकने का प्रयास कर रहा है।

    अमेरिका की चेतावनी

    अमेरिका ने पाकिस्तान से उनकी सरजमीं से संचालित आतंकी समूहों के खिलाफ अपरिवर्तनीय और निरंतर कार्रवाई करने का अनुरोध किया था। अमेरिकी राज्य विभाग के उप प्रवक्ता रोबर्ट पालडिनो ने पत्रकारों से गुरूवार को कहा कि “मैं कहना चाहूंगा कि अमेरिका ने क़दमों को नोट किया है और हम पाकिस्तान से इसे जारी रखने का आग्रह करेंगे। आतंकी समूहों के खिलाफ कार्रवाई भविष्य में हमलों से रक्षा करेगी और क्षेत्रीय स्थिरता को बढ़ावा देगी।”

    पाकिस्तान में प्रतिबंधित समूह जमात उद दावा भी करीबन 300 मदरसों का संचालन करता है। जो खुद को इस्मालिक चैरिटी और व्यापक स्तर पर जनकल्याण अभियान चलाने वाले के रूप में पेश करता है। पाक आंतरिक मंत्रालय ने कहा कि कई समूहों के अन्य संस्थानों को भी जब्त कर लिया गया है। इसमें 34 स्कूल और कॉलेज, 163 डिस्पेंसरीज, 184 एम्बुलेंस, पांच अस्पताल और प्रतिबंधित समूहों के आठ दफ्तर है।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *