वायुसेना के विमान एएन-32 दुर्घटना में कोई जीवित नहीं

AN-32
bitcoin trading

नई दिल्ली, 13 जून (आईएएनएस)| भारतीय वायु सेना (आईएएफ) ने गुरुवार को कहा कि उसके एएन-32 विमान के सभी 13 सवार मारे गए हैं। यह विमान अरुणाचल प्रदेश में तीन जून को दुर्घटनाग्रस्त हो गया था।

आईएएफ ने ट्वीट किया, “बचाव दल के आठ सदस्य आज सुबह दुर्घटना स्थल पर पहुंच गए। आईएएफ को यह बताते हुए दुख हो रहा है कि एएन-32 की दुर्घटना में कोई भी जीवित नहीं बचा है।”

इसमें कहा गया, “वायुसेना दुर्घटना में अपनी जान गंवाने वाले बहादुर वायु योद्धाओं को श्रद्धांजलि अर्पित करती है..और मृतकों के परिवारों के साथ खड़ी है। उनकी आत्मा को शांति मिले।”

भारतीय वायुसेना ने मृतकों की पहचान जी.एम. चार्ल्स, एच.विनोद, आर.थापा, ए.तंवर, एस. मोहंती, एम.के. गर्ग, के.के. मिश्रा, अनूप कुमार, शेरिन, एस.के. सिंह, पंकज, पुताली और राजेश कुमार के रूप में की है।

वायु सेना ने मंगलवार को लापता वाहक के मलबे की पहचान की। यह लिपो से 16 किमी उत्तर में व समुद्र तल से 12,000 फीट की ऊंचाई पर था। मलबे का पता एमआई-17 हेलीकॉप्टर से आठ दिनों बाद एक व्यापक तलाशी अभियान के बाद चला।

एएन-32 विमान ने असम के जोरहाट से तीन जून को अरुणाचल प्रदेश के मेचुका एडवांस्ड लैंडिंग ग्रांउड के लिए उड़ान भरी थी।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here