Tue. May 21st, 2024
    योगी आदित्यनाथ

    नाम बदलने के सिलसिले को जारी रखते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राजधानी लखनऊ की नवनिर्मित क्रिकेट स्टेडियम का नाम इकाना अंतरष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम से बदलकर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर कर दिया।

    अब से ये स्टेडियम ‘भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी अंतरष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम’ के नाम से जाना जाएगा।

    50,000 दर्शकों की क्षमता वाले स्टेडियम में आज पहली बार भारत और वेस्ट इंडीज के बीच टी20 अंतरष्ट्रीय मैच खेला जाएगा।
    पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी लखनऊ से लगातार 5 बार 1991 से 2009 तक सांसद रहे।

    स्टेडियम का निर्माण उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के कार्यकाल में शुरू हुआ था।

    30 एकड़ में फैला ये स्टेडियम भारत का तीसरा सबसे बड़ा स्टेडियम है। इस स्टेडियम की विशाल पार्किंग में एक बार में 5,000 दोपहिया और 1,000 कारों की पार्किंग की जा सकती है।

    इस स्टेडियम में खिलाड़ियों के लिए 5 स्टार ड्रेसिंग रूम का निर्माण किया गया है। मैदान में 6 फ्लड लाइट्स और एक एलईडी स्क्रीन है।

    बारिश के पानी को तुरंत निकालने के लिए दर्शक दीर्घा और मैदान के बीच 10 फ़ीट खाली जगह के रास्ते पानी के निकास की व्यवस्था है।

    स्टेडियम में 5 स्टार वीआईपी बॉक्स, मिडिया सेंटर, कमेंटेटर बॉक्स की भी व्यवस्था है जो सभी अत्याधुनिक सुविधाओं से लैश हैं।

    स्टेडियम में 40 विश्वस्तरीय टॉयलेट्स, खिलाड़ियों के लिए स्टीम बाथ की सुविधा और 200 लोगों के बैठने की क्षमता वाले 3 कैफेटेरिया भी हैं।

    By आदर्श कुमार

    आदर्श कुमार ने इंजीनियरिंग की पढाई की है। राजनीति में रूचि होने के कारण उन्होंने इंजीनियरिंग की नौकरी छोड़ कर पत्रकारिता के क्षेत्र में कदम रखने का फैसला किया। उन्होंने कई वेबसाइट पर स्वतंत्र लेखक के रूप में काम किया है। द इन्डियन वायर पर वो राजनीति से जुड़े मुद्दों पर लिखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *