Thu. Jun 20th, 2024
    अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प

    अमेरिका के राष्ट्रपति अपनी नीतियों और व्यवहार के कारण आलोचनाओं का शिकार होते रहते हैं। द गार्डियन के मुताबिक अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प अपने पूर्व राज्य सचिव के बयान का पलटवार करते रेक्स टिलरसन को ‘नर्क सा आलसी’ और ‘पत्थर सा बेवकूफ’ बताया है।

    रेक्स टिलरसन का राष्ट्रपति पर बयान

    हाल ही में पूर्व राज्य सचिव रेक्स टिलरसन ने कहा था कि अमेरिकी राष्ट्रपति उन पर गैर कानूनी निर्णय लेने के लिए दबाव बनाते थे। रेक्स टिलरसन ने डोनाल्ड ट्रम्प के साथ किये कार्यकाल की अपनी मुश्किलों को साझा किया था।

    https://twitter.com/realDonaldTrump/status/1071132880368132096

    उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति अनुशासित नहीं है और राष्ट्रपति को पढना अच्छा नहीं लगता है, न उन्हें रिपोर्ट्स पढने का शौक था और ना हीं जानकारी जाने की इच्छा होती थी। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति मुझसे तंग आ गए थे क्योंकि मैं उन्हें सही और गलत बताता था।

    रेक्स टिलरसन ने कहा कि डोनाल्ड ट्रम्प अपनी मानसिकता के मुताबिक कार्य करते थे। उन्होंने कहा कि कई बार राष्ट्रपति आवेग में जा जाते थे, अनुशासित कर्मचारियों का ऐसे गई अनुशासित व्यक्ति के साथ कार्य करना बेहद मुश्किल था।

    डोनाल्ड ट्रम्प का रेक्स टिलरसन पर पलटवार

    राष्ट्रपति ने कहा कि माइक पोम्पेओ बेहतर कार्य कर रहे हैं, मुझे उन पर गर्व है। रेक्स टिलरसन के समक्ष सूझ बूझ से कार्य करने की काबिलियत नहीं थी।

    उन्होंने कहा कि वह बेवकूफ थे और मैं उनसे पीछा जल्दी न छुड़ा पाया था। उन्होंने कहा कि रेक्स टिलरसन बेहद आलसी थे लेकिन अब हालत बदल चुके हैं। मंत्रालय में अब एक नया जोश है।

    रेक्स टिलरसन का इस्तीफा

    बीते मार्च में रेक्स टिलरसन ने विदेश सचिव के पद से त्यागपत्र दे दिया था। राष्ट्रपति इस निर्णय से फुले नहीं समा रहे थे और उन्होंने इस निर्णय को उम्दा बताया था।

    आने कार्यकाल के दौरान रेक्स टिलरसन भारत की यात्रा भी कर चुके थे। भारत में आयोजित 2+2 वार्ता के आयोजन से कुछ समय पूर्व ही उन्हें उनके पद से हटा दिया गया था।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *