मंगलवार, नवम्बर 12, 2019

रूस: मोदी ने सोफे पर बैठने से किया इनकार, कुर्सी पर बैठकर खिंचवाई तस्वीर

Must Read

मप्र : शिवपुरी में स्वच्छ भारत मिशन का शौचालय ढहा, 2 आदिवासी बच्चों की मौत

भोपाल, 12 नवंबर (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट स्वच्छ भारत मिशन के तहत बनाए गए शौचालय के...

आयात एक्सपो में काफी संख्या में अमेरिकी प्रदर्शक

बीजिंग, 12 नवंबर (आईएएनएस)। चीन अंतर्राष्ट्रीय आयात एक्सपो की आयोजन समिति द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, वर्तमान एक्सपो में...

भाजपा महासचिव ने फडणवीस को बताया मैन ऑफ द मैच, शिवसेना पर साधा निशाना

नई दिल्ली, 12 नवंबर,(आईएएनएस)। भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के महासचिव(संगठन) बीएल संतोष ने महाराष्ट्र में अब तक के राजनीतिक घटनाक्रम...
कविता
कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को उनके लिए विशेष तौर पर लगाये गए सोफे पर बैठने से इनकार कर दिया और इसकी बजाये सबके साथ कुर्सी पर बैठकर तस्वीरे खिंचवाई थी। रेलवे मंत्री पीयूष गोयल ने एक विडियो को भी ट्वीटर पर साझा किया है।

पीएम मोदी का सभी अधिकारी तस्वीर सत्र के लिए स्वगत कर रहे थे। प्रधानमन्त्री ने सोफे की बजाये कुर्सी पर बैठने के विकल्प का चयन किया था। इसके बाद अधिकारियो ने सोफे को हटाकर एक कुर्सी लगा दी थी और पीएम मोदी तस्वीर के लिए कुर्सी पर बैठे।

पीयूष गोयल ने ट्वीट कर कहा कि “प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी जी की सरलता का उदहारण आज दोबारा देखने का अवसर प्राप्त हुआ। उन्होंने रूस में उनके लिए की गयी विशेष व्यवस्था को हटवा कर सभी एक साथ समान्य कुर्सी पर बैठने की इच्छा को जाहिर किया था।”

पीएम मोदी की सरलता

इस विडियो को सोशल मीडिया पर काफी साझा किया जा रहा है और यूजर्स पीएम मोदी की तारीफों के पुल बांध रहे हैं। एक ट्वीटर उपभोक्ता ने लिखा कि “क्या भेतारिन हाव भाव है। इसके लिए मैं निशब्द हूँ। इस सरलता को देखे।” एक अन्य उपभोक्ता ने कहा कि “हमारे पास एक नम्र और शांत प्रधानमन्त्री है जो जमीन से जुड़े हुए हैं।”

एक अन्य ट्वीटर यूज़र्स ने कहा कि “मोदी जी की सरलता उन्हें दुनिया में सबसे सम्मानजनक और ताकतवर नेता बनाती है। उनके बातचीत के तरीके और सन्देश को भेजने में बेहद स्पष्टता है। वह जानते हैं कि देश के लिए क्या बेहतर है। वह अच्छे लोगो के लिए बेहद नरम है लेकिन देश को हनी पंहुचाने वालो के लिए बेहद सख्त है।”

पीएम मोदी ने रूस की यात्रा पर पांचवे पूर्वी आर्थिक मंच को संबोधित किया था। इस समरोह में जापान के पीएम शिंजो आबे और मंगोलियन राष्ट्रपति खल्त्मगीं बत्तुल्गा भी शामिल हुए थे।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

मप्र : शिवपुरी में स्वच्छ भारत मिशन का शौचालय ढहा, 2 आदिवासी बच्चों की मौत

भोपाल, 12 नवंबर (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट स्वच्छ भारत मिशन के तहत बनाए गए शौचालय के...

आयात एक्सपो में काफी संख्या में अमेरिकी प्रदर्शक

बीजिंग, 12 नवंबर (आईएएनएस)। चीन अंतर्राष्ट्रीय आयात एक्सपो की आयोजन समिति द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, वर्तमान एक्सपो में अमेरिकी प्रदर्शनी क्षेत्र लगभग 47,500...

भाजपा महासचिव ने फडणवीस को बताया मैन ऑफ द मैच, शिवसेना पर साधा निशाना

नई दिल्ली, 12 नवंबर,(आईएएनएस)। भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के महासचिव(संगठन) बीएल संतोष ने महाराष्ट्र में अब तक के राजनीतिक घटनाक्रम में देवेंद्र फडणवीस को मैन...

चिप से स्मार्टफोन को बनाएं कार की चाभी

नई दिल्ली, 12 नवंबर (आईएएनएस)। एनएक्सपी सेमीकंडक्टर ने मंगलवार को घोषणा करते हुए कहा कि उसने अपने अल्ट्रा-वाइडबैंड (यूडब्ल्यूबी) चिप को नए ऑटोमोटिव इंटिग्रेटेड...

झारखंड : 50 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी लोजपा, जारी किए 5 उम्मीदवारों के नाम (लीड-2)

नई दिल्ली, 12 नवंबर (आईएएनएस)। केंद्र में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की अगुआई वाले सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में शामिल लोक जनशक्ति पार्टी...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -