गुरूवार, अक्टूबर 17, 2019

रूट को उम्मीद, इंग्लैंड विश्व कप के बाद एशेज भी जीतेगी

Must Read

वाराणसी : अमित शाह ने 2 दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी का उद्घाटन किया

वाराणसी, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने गुरुवार को वाराणसी में बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) भारत अध्ययन...

दो-पहिया वाहन ऑड-ईवन के दायरे से बाहर : केजरीवाल

नई दिल्ली, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में 4...

महिला टेनिस : लग्जमबर्ग ओपन के पहले दौर में बाहर हुई गॉफ

लुक्सम्बर्ग, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। हाल में अपने करियर का पहला डब्ल्यूटीए खिताब जीतने वाली अमेरिका की कोको गॉफ को...
पंकज सिंह चौहान
पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

लंदन, 16 जुलाई (आईएएनएस)| चार दशक से अधिक समय बाद विश्व विजेता का तमगा हासिल करने वाली इंग्लैंड की नजरें अब उसके लिए बेहद अहम एशेज सीरीज पर हैं। इंग्लैंड की टेस्ट टीम के कप्तान जोए रूट को लगता है कि उनकी टीम एशेज सीरीज जीत एक ही साल में दो बड़ी ट्रॉफी उठा क्रिकेट में बड़ी उपलब्धि हासिल करने का दम रखती है।

मेजबान इंग्लैंड ने बेहद नाटकीय फाइनल में न्यूजीलैंड को बाउंड्री के आधार पर मात दे विश्व कप का खिताब अपने नाम किया।

अब विश्व विजेता का ध्यान एक अगस्त से आस्ट्रेलिया के खिलाफ शुरू हो रही एशेज सीरीज पर है।

बीबीसी ने सोमवार को रूट के हवाले से लिखा है, “यह वही है जो हमने दो-तीन साल पहले से करने के बारे में सोचा है और हम आधा रास्ता तय कर चुके हैं।”

रूट ने कहा, “हम इससे बेहतर स्थिति में नहीं हो सकते। हमने जो हासिल किया है उससे खिलाड़ियों को आत्मविश्वास मिला है और हमने इसे आगे ले जाने की बात की है।”

रूट ने कहा, “एजबेस्टन में सेमीफाइनल में जब हम आस्ट्रेलिया के खिलाफ जिस तरह से खेले.. जो खिलाड़ी वहां थे उन्होंने इसका लुत्फ उठाया और वह अब उससे ज्यादा चाहते हैं : वो है उस मैदान का जो माहौल था वो।”

रूट ने कहा, “संभवत: उसी तरह का एक और बार महसूस करना बेहद उत्साहित करने वाली बात होगी। एशेज क्रिकेट की हमेशा से अलग बात रही है इसलिए यह खिलाड़ियों को अलग एहसास देगी।”

28 साल के रूट ने कहा, “यह हमेशा से विशेष रहा है।”

रूट ने 2005 में जीती गई एशेज के बारे में बात की जिसकी तुलना इस बार की विश्व कप जीत से की जा रही है। 2005 में इंग्लैंड ने 1986-87 के बाद एशेज सीरीज जीती थी।

रूट ने कहा, “2005 में मैं 14 साल का था और वो मेरे लिए काफी प्रेरित करने वाली बात थी। उम्मीद है कि हम ऐसा दोबारा कर सकेंगे।”

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

वाराणसी : अमित शाह ने 2 दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी का उद्घाटन किया

वाराणसी, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने गुरुवार को वाराणसी में बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) भारत अध्ययन...

दो-पहिया वाहन ऑड-ईवन के दायरे से बाहर : केजरीवाल

नई दिल्ली, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में 4 से 15 नवंबर तक लागू...

महिला टेनिस : लग्जमबर्ग ओपन के पहले दौर में बाहर हुई गॉफ

लुक्सम्बर्ग, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। हाल में अपने करियर का पहला डब्ल्यूटीए खिताब जीतने वाली अमेरिका की कोको गॉफ को यहां जारी लग्जमबर्ग ओपन के...

सफदरजंग अस्पताल का डॉक्टर दुष्कर्म-ब्लैकमेलिंग में गिरफ्तार

नई दिल्ली, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। पुलिस ने सफदरजंग अस्पताल के एक डॉक्टर को ब्लैकमेलिंग और दुष्कर्म के आरोप में गिरफ्तार किया है। डॉक्टर पर...

बिहार : नक्सली के नाम पर लेवी वसूलने वाला गिरफ्तार, 1.98 लाख रुपये बरामद

गया, 17 अक्टूबर (आईएएनएस)। बिहार के नक्सल प्रभावित गया जिले से पुलिस ने एक व्यक्ति को प्रतिबंधित नक्सली संगठन भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) के...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -