Fri. Apr 19th, 2024
    Rahul Gandhi

    नई दिल्ली, 4 मई (आईएएनएस)| कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) प्रमुख मसूद अजहर को पाकिस्तान लौटने देने और उसके द्वारा वर्षों से आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने जाने को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधा और कहा कि उनकी पार्टी (कांग्रेस) आतंकवाद से सख्ती से निपटेगी।

    राहुल ने एक संवाददाता सम्मेलन में सवालिया लहजे में कहा, “उसे वहां (पाकिस्तान में) किसने भेजा? वह वहां कैसे गया? किस सरकार ने उसे भेजा? भाजपा आतंकवादियों के साथ बातचीत करती है और दबाव में झुक जाती है। वे आतंक के आगे झुक गए।”

    उन्होंने कहा, “यह कांग्रेस ने नहीं किया था।”

    राहुल ने मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र द्वारा वैश्विक आतंकवादी घोषित किए जाने और सीमा पार आतंकवादी ठिकानों को नष्ट करने के लिए टेरर स्ट्राइक कराने का श्रेय मोदी द्वारा लेने के बीच यह टिप्पणी की।

    कांग्रेस नेता ने कहा, “मसूद एक आतंकवादी है और उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए।”

    उन्होंने यह भी जोर देते हुए कहा कि कांग्रेस कभी भी आतंकवादियों से बातचीत नहीं करेगी।

    राहुल ने कहा, “आतंकवाद से सख्ती से निपटा जाना चाहिए।”

    वह संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद द्वारा मसूद अजहर को वैविक आतंकवादी घोषित किए जाने के संबंध में एक सवाल का जवाब दे रहे थे।

    संयुक्त राष्ट्र के इस कदम के बाद गुरुवार को कांग्रेस ने कहा था कि मोदी सरकार को अजहर को ब्लैकलिस्ट कराने का श्रेय लेते हुए जनता को यह भी बताना चाहिए कि उसे भाजपा सरकार के दौरान रिहा किया गया था और फिर वह भारत के लिए और भी बड़ा खतरा बन गया।

    अफगानिस्तान के कंधार में इंडियन एयरलाइंस के बंधक बनाए गए 155 यात्रियों को छुड़ाने के लिए अजहर को 1999 में एक भारतीय जेल से रिहा किया गया था।

    कांग्रेस ने मोदी को ध्वस्त कर दिया है

    कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुनाव में अपनी हार से डरे हुए हैं और भाजपा के अभियान में एक घबराहट नजर आ रही है।

    राहुल ने यहां एक प्रेस वार्ता में कहा, “मैं एक डरे हुए प्रधानमंत्री को देख रहा हूं, जो विपक्ष के हमले का सामना करने में असमर्थ हैं। मैं एक ऐसे प्रधानमंत्री को देख रहा हूं जो इस बात को लेकर पुरी तरह आश्वस्त हैं कि वह फंस चुके हैं और चुनाव नहीं जीतने वाले। मुझे भाजपा के चुनाव अभियान में घबराहट नजर आ रही है।”

    उन्होंने कहा कि कांग्रेस इस बार भाजपा को आसानी से हरा देगी।

    राहुल ने कहा कि उन्हें भाजपा द्वारा चलाए गए अभियान में रणनीति नजर नहीं आ रही।

    उन्होंने कहा, “उन्होंने राष्ट्रीय सुरक्षा से शुरुआत की लेकिन आधे रास्ते उन्हें महसूस हुआ कि यह काफी नहीं है और फिर वे विकास के एजेंडे पर आ गए।”

    राहुल ने कहा, “जब प्रधानमंत्री से पूछा जाता है कि क्यों हमारे पास बीते 45 वर्षो में सबसे ज्यादा बेरोजगारी दर है या फिर क्यों प्रत्येक 24 घंटे में 37,000 युवा नौकरी गंवा रहे हैं, वह मुद्दा बदल देते हैं और उन्हें गुजरात के सी प्लेन मॉडल पर ले जाते हैं।”

    राहुल ने कहा, “जब वह दबाव में होते हैं तो भाग जाते हैं, यह उनका (मोदी) स्वभाव है।”

    राहुल ने कहा, “कांग्रेस ने अब मोदी को ध्वस्त कर दिया है। जो ढांचा खड़ा है वह खोखला है और वह अगले 15-20 दिनों में गिर जाएगा।”

    उन्होंने कहा, “अर्थव्यवस्था बर्बाद हो गई है..हम देश के लोगों से बात करके इसे बचाने की कोशिश कर रहे हैं। लोगों की आवाज को दबाया नहीं जा सकता। राहुल गांधी को छोड़िए, मोदी भी देश के लाखों लोगों की आवाज के सामने खड़े नहीं हो सकते।”

    उन्होंने कहा, “हम अर्थव्यस्था को उबारेंगे क्योंकि मध्यवर्ग को तीन वर्षो के लिए उनके व्यापार को शुरू करने की इजाजत दी जाएगी, जिससे नौकरियों का सृजन होगा।”

    By पंकज सिंह चौहान

    पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *