Tue. Mar 5th, 2024
    कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी

    ऐसा देखने में आ रहा है कि कॉंग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने आगामी लोकसभा चुनावों के पहले ही हार मान ली है।

    राहुल गाँधी ने उत्तर प्रदेश में आने वाले चुनावों की कमान संभाल रहे नवनियुक्त महासचिव प्रियंका गाँधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया को यह निर्देश दिये हैं कि वे उत्तर प्रदेश में किसी भी तरह के चमत्कार की अपेक्षा न करें।

    इसी के साथ ही राहुल गाँधी ने इन दोनों को ही दबाव न लेने का निर्देश देने के साथ ही राज्य में वर्ष 2022 के विधानसभा चुनावों के लिए तैयार रहने को कहा है।

    मालूम हो कि राहुल गाँधी की बहन प्रियंका गाँधी और कॉंग्रेस के बड़े नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया को पिछले महीने ही कॉंग्रेस के महासचिव पद से नवाजा गया है, इसके फौरन बाद ही आगामी लोकसभा चुनावों के मद्देनज़र इन दोनों को उत्तर प्रदेश की ज़िम्मेदारी सौंप दी गयी थी।

    मीडिया सूत्रों के मुताबिक कॉंग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने शुक्रवार को पार्टी के सभी महासचिवों के साथ ही सभी राज्यों के प्रमुखों के साथ बैठक कर आगामी लोक सभा चुनावों की तैयारियों का जायजा लिया है।

    इसी के साथ ही राहुल गाँधी ने बैठक में यह निर्देश भी जारी किए हैं कि पार्टी के वरिष्ठ अधिकारी फरवरी महीने के अंत तक कॉंग्रेस के सभी प्रत्याशियों के नाम तय कर लें।

    राहुल गाँधी ने बैठक में यह भी कहा है कि पार्टी पूरी तरह से तैयार है। इसी के साथ ही राहुल गाँधी ने पार्टी पदाधिकारियों को यह निर्देश भी दिये हैं कि वो इस चुनाव में दो बार से अधिक हार चुके चेहरों की जगह नए चेहरों को मौका दें।

    राहुल गाँधी ने अपनी तैयारियों को लेकर एक ट्वीट भी किया है जिसमें उन्होने कहा है कि ‘हमारी चर्चा में विस्तृत रूप से विषयों पर चर्चा हुई है। टीम मैच के लिए तैयार है और हम फ्रंट फुट पर खेलेंगे।’-

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *