Sat. Apr 13th, 2024
    राहुल गाँधी

    कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी तीन दिवसीय दौरे पर अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी में हैं। राहुल गाँधी कल दोपहर में अमेठी पहुँचे थे। अपने दौरे के पहले दिन राहुल गाँधी ने अमेठी जनपद के कठौरा गाँव में ग्रामीणों संग चौपाल लगाई। राहुल गाँधी क्षेत्र के ग्रामीणों से रूबरू हुए थे और उनकी समस्याएं सुनी थी। इस दौरान राहुल गाँधी ने किसानों की दुर्दशा और बढ़ती महंगाई के लिए केंद्र की सत्ताधारी मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा था और सरकार की आर्थिक नीतियों की आलोचना की थी। आज अपने अमेठी दौरे के दूसरे दिन राहुल गाँधी मुंशीगंज अतिथि गृह में जनता दर्शन कर रहे हैं। अमेठी संसदीय क्षेत्र के आम लोग आज अतिथि गृह में जाकर उनसे मिल रहे हैं और अपनी समस्याएं सुना रहे हैं।

    कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी लोगों की समस्याएं सुन रहे हैं और उनके समाधान के लिए क्षेत्र के पार्टी पदाधिकारियों को जरुरी दिशा-निर्देश दे रहे हैं। बता दें कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी का पिछले 7 महीनों में यह पहला अमेठी दौरा है। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के बाद से वह अपने संसदीय क्षेत्र नहीं आए थे। इस वजह से पिछले दिनों उनके लापता होने के पोस्टर अमेठी में कई जगहों पर लगे मिले थे। जनता दर्शन करने के बाद राहुल गाँधी तिलोई तहसील क्षेत्र के मोहनगंज पाकरगांव में स्थित राजीव गाँधी कॉलेज में जाएंगे और कार्यकर्ता संवाद कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। इसके पश्चात वह सलोन तहसील क्षेत्र का दौरा करेंगे जहाँ वह पार्टी कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करेंगे। दिनभर कार्यक्रमों में हिस्सा लेने के बाद राहुल गाँधी गुरूवार शाम को भुएमउ स्थित अतिथि गृह में रात्रि विश्राम करेंगे।

    पीएम मोदी पर राहुल ने बोला हमला

    अमेठी दौरे के पहले दिन कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी ने कठौरा गाँव में ग्रामीणों संग चौपाल लगाई थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए राहुल गाँधी ने कहा था कि प्रधानमंत्री अगर किसानों की दुर्दशा सुधारने और बेरोजगारी मिटाने के लिए कुछ नहीं कर सकते तो कह दें, हम ये काम 6 महीनों में करके दिखाएंगे। राहुल गाँधी ने कहा कि मोदी जी को देश का समय बर्बाद करना बंद करके युवाओं को रोजगार देना शुरू करना चाहिए। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने आगे कहा, “हिन्दुस्तान में दो मुद्दे हैं…किसान का मुद्दा और रोजगार का। मोदी जी इनका समाधान नहीं कर सकते तो कह दें कि वह नहीं कर सकते हैं और कांग्रेस आ जाए, वो मेरा काम कर दे। हम वही काम छह महीने में करके दिखाएंगे।”

    भाजपा पर आरोपों की बौछार

    कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी ने अपने अमेठी दौरे के पहले दिन भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार पर आरोपों की बौछार कर दी। हाल ही में केंद्र सरकार द्वारा लगाए गए जीएसटी के खिलाफ बोलते हुए राहुल गाँधी ने कहा, ” केंद्र सरकार को जीएसटी पर दोबारा सोचना चाहिए। टैक्स घटाना चाहिए और उसे सिंपल होना चाहिए। जीएसटी का मतलब एक देश, एक टैक्स है ना कि कई सारे टैक्स।” राहुल गाँधी ने अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी में प्रस्तावित कई योजनाओं के मूर्त रूप ना ले पाने का दोष भी भाजपा के सिर मढ़ दिया। राहुल गाँधी ने कहा कि अमेठी फूड पार्क और तमाम अन्य योजनाओं की अनदेखी करके भाजपा ने अमेठी के लोगों को चोट पहुँचाई है। उन्होंने कहा कि ये भाजपा की गलत सोच का नतीजा है। उन्होंने जनता को आश्वस्त किया कि वह उनके लिए लड़ेंगे।

    दौरा आगे बढ़ने को लेकर योगी सरकार पर हमलावर हुई थी कांग्रेस

    कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश की सत्ताधारी योगी सरकार पर राहुल गाँधी का अमेठी दौरा आगे बढ़वाने का आरोप लगाया था। दरअसल अमेठी जिला प्रशासन ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी से उनके अमेठी दौरे के कार्यक्रम में बदलाव करने को कहा था। जिला प्रशासन ने सुरक्षा सम्बन्धी कारणों का हवाला देते हुए राहुल गाँधी को 5 अक्टूबर के बाद अपना दौरा शुरू करने को कहा था। जिला प्रशासन ने तर्क दिया था कि मुहर्रम और दशहरा की व्यस्तताओं के चलते उनके प्रस्तावित दौरे के समय शांति और कानून व्यवस्था बनाए रखने में काफी दिक्कत पेश आ सकती है। इस बात पर कांग्रेस ने हमलावर रुख अपना लिया था और उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पर जिला प्रशासन की आड़ में राहुल गाँधी को उनके संसदीय क्षेत्र में जाने से रोकने का आरोप लगाया था।

    कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि भाजपा राहुल गाँधी की बढ़ रही लोकप्रियता और मजबूत हो रहे राजनीतिक कद से डरने लगी है। उसे अभी से 2019 के लोकसभा चुनावों में हार का डर सताने लगा है इसलिए वह राहुल गाँधी को उनके संसदीय क्षेत्र जाने से रोक रही है। हालाँकि बाद में अमेठी के जिलाधिकारी ने लिखित रूप से कांग्रेस को सूचित किया था कि राहुल गाँधी को दौरे के लिए मनाही नहीं है। उनकी सुरक्षा के लिहाज से यह महत्वपूर्ण था इसलिए इसकी सूचना दी गई थी। उन्होंने स्पष्ट किया था कि अमेठी जिला प्रशासन ने राहुल गाँधी के दौरे पर कभी रोक नहीं लगाई थी। उन्होंने सिर्फ सुरक्षा दृष्टि से उन्हें अवगत कराया था।

    By हिमांशु पांडेय

    हिमांशु पाण्डेय दा इंडियन वायर के हिंदी संस्करण पर राजनीति संपादक की भूमिका में कार्यरत है। भारत की राजनीति के केंद्र बिंदु माने जाने वाले उत्तर प्रदेश से ताल्लुक रखने वाले हिमांशु भारत की राजनीतिक उठापटक से पूर्णतया वाकिफ है।मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातक करने के बाद, राजनीति और लेखन में उनके रुझान ने उन्हें पत्रकारिता की तरफ आकर्षित किया। हिमांशु दा इंडियन वायर के माध्यम से ताजातरीन राजनीतिक और सामाजिक मुद्दों पर अपने विचारों को आम जन तक पहुंचाते हैं।