Thu. Dec 8th, 2022
    rajasthan rain

    राजस्थान के कई इलाकों जिनमें चित्तौड़गढ़, श्रीगंगानगर, अजमेर, कोटा, पिलानी, भीलवाड़ा, चुरू, जयपुर आदि शामिल हैं, में भारी आंधी और बारिश आने के आसार हैं। मौसम विभाग नें इस बात की जानकारी दी है।

    विभाग ने मंगलवार की रात तक पश्चिमी राजस्थान के कुछ हिस्सों में तेज ठंडी हवाओं के साथ धूलभरी आंधी, ओलावृष्टि और पूर्वी राजस्थान के कई हिस्सों में 50-60 किलोमीटर की रफ्तार से धूलभरी आंधी चलने का अनुमान जताया है।

    पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने के कारण पिछले 24 घंटों के दौरान राजस्थान के कुछ हिस्सों में चली तेज अंधड़ के साथ बूंदाबांदी से आम जनजीवन प्रभावित हुआ है।

    मौसम विभाग के अनुसार बीते चौबीस घंटे के दौरान चित्तौडगढ़ में 22 मिलीमीटर, श्रीगंगानगर में 13.5, अजमेर में 7.8, कोटा में 6.8, पिलानी में 4.6, भीलवाडा में 4.2, वनस्थली-सवाईमाधोपुर में 2-2, डबोक में 1.4, चूरू में 0.5 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। वहीं जयपुर, सीकर, जोधपुर और माउंट आबू में बूंदाबांदी दर्ज की गई।

    विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ के कारण राज्य के पश्चिमी हिस्सों में अंधड की स्थिति बनी है।

    वैदर चैनल के मुताबिक पाकिस्तान की ओर से पश्चिमी इलाके में भारी मौसम आपदा आ सकती है, जिसकी वजह से पश्चिमी राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर और पंजाब के कुछ इलाकों में भरी बारिश आ सकती है।

    उत्तराखंड में बर्फ फिर सकती है।

    उत्तरी भारत मुख्यत हरियाणा, दिल्ली, मध्य प्रदेश, पंजाब, चंडीगढ़, उत्तर प्रदेश और राजस्थान में आंधी के साथ-साथ बारिश आ सकती है।

    इस दौरान राजस्थान, गुजरात, मध्य प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखण्ड, महाराष्ट्र, छतीसगढ़, पश्चिम बंगाल, ओड़िशा, तेलंगाना, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु जैसे इलाकों में अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस पहुँच सकता है।

    वायु की गुणवत्ता पुरे देश में काफी ख़राब होने जा रही है, मुख्य तौर पर बड़े शहर जैसे दिल्ली, मुंबई आदि।

    By पंकज सिंह चौहान

    पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *