Sat. Jul 13th, 2024
    रविंद्र जडेजा

    भारत को शनिवार को केनिंग्टन ओवल में अपने पहले वॉर्म-अप खेल में न्यूजीलैंड के खिलाफ छह विकेट से हार का सामना किया। विश्वकप के लिए एक हफ्ते से भी कम का समय बाकि है और उससे पहले यह भारत के लिए एक आदर्श शुरुआत नही है। गेंदबाजी की अनुकूल परिस्थितियों में एक बार फिर भारतीय बल्लेबाजी को उजागर किया गया क्योंकि न्यूजीलैंड के गेंदबाजों ने भारतीय शीर्ष क्रम को ध्वस्त करने के लिए स्विंग का पूरा उपयोग किया। हालांकि, बल्लेबाजों की विफलता के बावजूद, ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा ने कहा कि चिंता की कोई बात नहीं है क्योंकि मुद्दों को सुलझाने के लिए उनके पहले खेल से पहले टीम के पास पर्याप्त समय है।

    टीम के शीर्ष कर्म में बल्लेबाजी करने आए रोहित शर्मा (2), शिखर धवन (2) और विराट कोहली (18) रन ही बना सके और टीम को ट्रेंट बोल्ट ने शुरुआती झटके दिए। मिडल ऑर्डर में भी बल्लेबाज नाकाम रहे और हार्दिक पांड्या की (30) और रविंद्र जडेजा की (54) रन को पारी की बदौलत टीम 39.2 में 179 रन बना सकी।

    जडेजा ने पोस्ट मैच समारोह में कहा, ” “यह हमारा पहला मैच है, यह सिर्फ एक खेल है और हम एक खराब पारी, और एक खराब मैच पर खिलाड़ियों का आंक नही सकते। इसलिए बल्लेबाजी इकाई के रूप में चिंता करने की कोई बात नहीं है। इंग्लैंड में यह हमेशा मुश्किल होता है, आप भारत से आ रहे हैं। आप फ्लैट विकेट में खेलते हैं … हमारे पास अभी भी इस पर काम करने का समय है।”

    उन्होंने कहा, “चिंता की कोई बात नहीं है, बस अच्छी क्रिकेट खेलते रहो। एक बल्लेबाजी इकाई के रूप में हम अपने बल्लेबाजी कौशल पर अधिक मेहनत करेंगे। सभी के पास काफी अनुभव है, इसलिए चिंता की कोई बात नहीं है।”

    पहले बल्लेबाजी करने का विकल्प चुनने वाले कोहली ने अपने बल्लेबाजों को चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में परखा। जडेजा ने खुलासा किया कि सीलिंग की स्थिति के बावजूद पहले बल्लेबाजी करने का फैसला उन परिस्थितियों का अंदाजा लगाने के लिए लिया गया था, जिनका बल्लेबाजों को विश्व कप के दौरान सामना करना पड़ सकता है।

    By अंकुर पटवाल

    अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *